Free Astro, Vastu & Health-Tips

 राशिनुसार कैसे खेले होली
राशिनुसार कैसे खेले होली
2 मार्च को रंगो का पर्व होली है। पुराणों में होली के बारे में लिखा है कि हर मनुष्य को इस पर्व को पूरे हर्ष, उल्लास के साथ मनाना चाहिए, इससे जीवन में सुख और सौभाग्य की प्राप्ति होती है। मान्यता है कि सभी राशियों पर अलग अलग रंगो का प्रभाव होता है, और अगर आप अपने भाग्यशाली रंग से होली खेलें तो फिर आपका भाग्य आप पर पूरे वर्ष अवश्य ही प्रसन्न रहेगा । आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी से जानिए राशिनुसार कैसे खेले होली, http://www.memorymuseum.net/hindi/rashi-anusar-khele-holi.php #होली2018, #holi2018, #राशिनुसारहोली, #rashinusarholi
http://www.memorymuseum.net/hindi/rashi-anusar-khele-holi.php
मंगलवार का राशिफल,
मंगलवार का राशिफल,
आज बजरंग बलि का दिन मंगलवार है, आज इन पांच राशि वालो को कदम कदम पर अड़चनों का करना पड़ेगा सामना, जानिए कैसे रहेगा आपका आज का दिन, आज कैसे मिलेगा लाभ और किन चीज़ो से दूरी बननी होगी , पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज आपको मंगलवार के दिन किस तरह के फल प्राप्त होंगे , जानिए आपका आज का राशिफल, मंगलवार का राशिफल, मंगलवार का सफलता का उपाय http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php #राशिफल, #rashifal, #मंगलवारकाराशिफल, #mangalvarkarashifal,
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
मंगलवार का पंचाग
मंगलवार का पंचाग
"हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट्"।। आज फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि दिन मंगलवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार मंगलवार को हनुमान जी की लाल गुलाब चढ़ाकर आराधना करने से बल, बुद्धि और साहस की प्राप्ति होती है, समस्त भय और संकट दूर होते है। पंचमी तिथि के स्वामी नाग देवता हैं। शास्त्रों के अनुसार इस दिन नाग देव की पूजा करने से भय तथा कालसर्प दोष दूर होता है, निर्भयता प्राप्त होती है। मंगलवार के दिन बाल, दाढ़ी काटने या कटाने से उम्र कम होती है। अत: इस दिन बाल और दाढ़ी नहीं कटवाना चाहिए । पंचमी तिथि को पूर्णा भी कहते है। इस तिथि में कोई भी नया कार्य शुरू करने से उसमे सफलता मिलती है, कार्य लम्बे समय तक चलते है। मंगलवार का पंचाग पढ़कर पुण्य अर्जित करने के लिए लिंक पर क्लिक करे http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
सोमवार का पंचाग
सोमवार का पंचाग
शिव मंत्र :- "ॐ नमः शिवाय शुभं शुभं कुरू कुरू शिवाय नमः ॐ "।। आज फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि, दिन सोमवार है । आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए हर सोमवार को शिवलिंग पर पंचामृत या दूध, घी, शहद एवं काले तिल चढ़ाएं , इससे भगवान महादेव की कृपा बनी रहती है परिवार से रोग दूर रहते है, प्रेम बना रहता है। आज चतुर्थी तिथि है, चतुर्थी के दिन भगवान गणेश जी को लड्डुओं का भोग लगाकर गणेश जी के मन्त्र का जाप करने से विघ्न दूर होते है। चतुर्थी को मूली खाने से धन-नाश होता है। चतुर्थी को कोई भी नया शुभ कार्य प्रारम्भ ना करें। नित्य पंचाग पढ़ने वाले जातक अपने समय, कार्य क्षेत्र के लोगो से आगे रहते है, सुख -समृद्धि और यश को प्राप्त करते है , जानिए आज सोमवार का पंचाग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
आज का राशिफल
आज का राशिफल
आज रविवार भगवान सूर्य का दिन है, जानिए आज के दिन क्या शुभ समाचार प्राप्त होंगे, या रखनी होगी कुछ सावधानियाँ , पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज सभी राशि वालो को रविवार के दिन किस तरह के फल प्राप्त होंगे , जानिए प्रत्येक राशि का आज का राशिफल, रविवार का सफलता का उपाय http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php #आजकाराशिफ़ल, #aajkarashifal, #दैनिकराशिफ़ल, #dainikrashifal
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
रविवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
"ॐ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्यः क्लीं ॐ ।" आज फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि दिन रविवार है। आचार्य मुक्तिनारायण पांडेय जी के अनुसार रविवार के दिन सुख-समृद्धि, सफलता, विद्द्या, तेज, मान-सम्मान की प्राप्ति के लिए ताम्बे के बर्तन में जल में चन्दन, अक्षत, गुड़ / चीनी, काले तिल और लाल पुष्प डाल कर सूर्य देव को अर्ध्य दे, एवं आदित्यह्रदय स्त्रोत्र का पाठ करे। तृतीया तिथि में माँ गौरी जी की दूध मिठाई, अक्षत और सफ़ेद फूल से पूजा करने से जीवन में सुख सौभाग्य की एवं कुबेर जी पूजा करने से जातक को विपुल धन-धान्य, समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। रविवार को नियमपूर्वक बेल के पौधे की पूजा एवं भैरव बाबा के दर्शनों से समस्त पापो का नाश होता है। नित्य पंचांग पढ़ने वाले जातको को देवताओं का आशीर्वाद मिलता है, जानिए आज रविवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
 श्रीराम शलाका
श्रीराम शलाका
हम सभी के सपने असीमित है लेकिन बहुत से सपने पूरे नहीं हो पाते है, कई बार तमाम योजनाओं, प्रयासों के बाद भी अपेक्षित परिणाम नहीं मिलते है ......तब हम असमंजस में पड़ जाते है की हम क्या करे ......हमें अमुक कार्य करना चाहिए अथवा नहीं, हमें सफलता मिलगी या हम असफल हो जायेंगे, ऐसी असमंजस की स्तिथि में पवित्र श्रीराम शलाका से हमें अपने प्रश्नों के सही उत्तर, सभी मार्गदर्शन मिल सकता है। जानिए अपने सभी सवालो का उत्तर बस एक ही क्लिक पर http://www.memorymuseum.net/hindi/ramshalaka/ramshlaka.php #श्रीरामप्रश्नावली, #shriramprashnavali, #श्रीरामशलाका, #Shriramshalaka
http://www.memorymuseum.net/hindi/ramshalaka/ramshlaka.php
शनिवार का राशिफल
शनिवार का राशिफल
जानिए कैसे रहेगा आपका आज शनिवार का दिन, आज कैसे मिलेगी हर क्षेत्र में सफलता, और किन बातो से बनाये दूरी , पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज आपको किस तरह के फल प्राप्त होंगे , जानिए सभी राशियों का आज का राशिफल, शनिवार का राशिफल, शनिवार का गुडलक टिप्स http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php #राशिफल, #rashifal, #शनिवारकाराशिफल, #shanivarkarashifal, #आजकाराशिफल, #aajkarashifal,
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
शनिवार का पंचाग
शनिवार का पंचाग
शनि मन्त्र:- "ऊँ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः"।। आज फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की दिवतीया तिथि दिन शनिवार है। शनिवार को पीपल पर प्रात: दूध मिश्रित मीठा जल चढ़ाकर सात परिक्रमा करने एवं साँय काल पीपल पर चौमुखा दीपक जलाने से शनि देव प्रसन्न होते है, कुंडली के ग्रहो की अशुभ फलो में कमी आती है, शुभ फल मिलने लगते है। शनि देव को अनुकूल करने के लिए शनिवार को किसी ना किसी रूप में काले चने, उड़द की खिचड़ी या काले नमक का सेवन अवश्य ही करें। दिवतीया तिथि के स्वामी भगवान ब्रहमा जी कहे गए है। द्वितीया तिथि को किसी भी कार्य की शुरुआत से पहले भगवान बह्मा जी का स्मरण जरूर करना चाहिए । जीवन में शुभ फलो के लिए नित्य पंचाग को पढ़कर / सुनकर ही घर से अपने कार्यो के लिए निकले। जानिए आज शनिवार का पंचाग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
आज का राशिफल
आज का राशिफल
आज शुक्रवार है। पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज किन राशि के जातको पर होगी माँ लक्ष्मी की पूर्ण कृपा, और किन राशि के जातको को सफलता के लिए करना पड़ सकता है इंतज़ार, जानिए प्रत्येक राशि का 16 फरवरी का राशिफल, आज का राशिफल और आज शुक्रवार का अचूक उपाय http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php #आजकाराशिफल, #aajkarashifal, #शुक्रवारकाराशिफल, #shukrvarkarashifal
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
शुक्रवार का पंचांग
शुक्रवार का पंचांग
लक्ष्मी मन्त्र:- "ॐ श्री महालक्ष्म्यै नम:।।" आज फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि दिन शुक्रवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार सुख-समृद्धि की चाह रखने वाले जातको को शुक्ल पक्ष के शुक्रवार से शुरू करते हुए नित्य श्री सूक्त का पाठ, अतुल ऐश्वर्य के लिए माँ लक्ष्मी के अष्ट लक्ष्मी स्वरूप के मन्त्र का जाप करना चाहिए। इस उपाय से माँ लक्ष्मी प्रसन्न होकर सदैव उस घर-परिवार में निवास करती है। प्रतिपदा के स्वामी अग्नि देव है।अग्नि देव के माध्यम से ही सभी देवताओं को यज्ञ में अपने अपने भाग प्राप्त होते है। प्रतिपदा के दिन अग्नि देव का स्मरण करने, उनका नाम लेने से संकटो का नाश होता है। शास्त्रों के अनुसार जो जातक नित्य पंचाग पढ़ते है उनका जीवन में कोई भी अनिष्ट नहीं होता है, जानिए आज शुक्रवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
अमावस्या पर पाएं पितरों की पूर्ण कृपा
अमावस्या पर पाएं पितरों की पूर्ण कृपा
हिन्दु धर्म शास्त्रो के अनुसार मनुष्य पर मुख्य रूप से तीन प्रकार के ऋण होते हैं- देव ऋण, ऋषि ऋण एवं पितृ ऋण। इनमें पितृ ऋण को सबसे प्रमुख माना गया है। पितरों को अमावस्या का देवता माना गया है । पितृ ऋण से मुक्ति के लिए , पितरों की तृप्ति के लिए, उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए प्रत्येक अमावस्या पर कुछ उपाय अनिवार्य रूप से अवश्य ही करने चाहिए । अमावस्या पर पाएं पितरों की पूर्ण कृपा http://www.memorymuseum.net/hindi/amawasya-par-pitro-ke-purn-kripa.php
http://www.memorymuseum.net/hindi/amawasya-par-pitro-ke-purn-kripa.php
भगवान शिव की बहन
भगवान शिव की बहन
क्या आप जानते है कि भगवान शिव की एक बहन अर्थात , माँ पार्वती की एक नन्द भी है , महाशिवरात्रि पर जानिए कौन है माँ पार्वती की ननद और , कैसा रहा माँ पार्वती का उनके साथ सम्बन्ध, http://www.memorymuseum.net/hindi/bhagwan-shiv-ki-bahan.php
http://www.memorymuseum.net/hindi/bhagwan-shiv-ki-bahan.php
भगवान शिव  का  परिवार
भगवान शिव का परिवार
आज महा शिवरात्रि है। शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव ही ज्योतिषशास्त्र के जनक, इसके आधार हैं। क्या आप जानते है कि भगवान शिव के परिवार में कौन कौन है, उनकी बेटी, उनकी बहन, उनके पौत्र पौत्री कौन है ? शिवरात्रि के दिन जाने अति पुण्य प्रदान करने वाले भगवान शिव के पूरे परिवार के सदस्यों के बारे में, http://www.memorymuseum.net/hindi/shiv-pariwar.php इसकी जानकारी हर हिन्दू को अवश्य ही होनी चाहिए कृपया इसे आगे अवश्य ही शेयर करें| धन्यवाद
http://www.memorymuseum.net/hindi/shiv-pariwar1.php
बुधवार का पंचांग
बुधवार का पंचांग
महामृत्युंजय मंत्र:- "ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम । उर्वारुकमिव बन्धनानत् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥'...... आज महाशिवरात्रि का पर्व दिन बुधवार है। बुधवार के दिन गणेश जी को गुड़, लड्डुओं का भोग लगाने से समस्त विघ्न दूर होते है। 2018 में 13 और 14 फरवरी दोनों ही दिन शिवरात्रि मनाई जा रही है। मान्यता है कि महाशिवरात्रि के दिन ही शंकर जी का विवाह देवी पार्वती जी से हुआ था। मान्यता है कि जो जातक शिवरात्रि की रात्रि में जाग कर भगवान भोले नाथ की आराधना करते है उनपर शिव शम्भु की असीम कृपा बरसती है। शास्त्रों के अनुसार महाशिवरात्रि की रात्रि को जागरण कर शिवपुराण का पाठ करने सुनने से जीवन के समस्त घोर से घोर संकट दूर होते है, सभी मनोकामनाएँ अवश्य ही पूर्ण होती है। जानिए आज बुधवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
 शिव पुराण का अचूक उपाय
शिव पुराण का अचूक उपाय
हिन्दु धर्म ग्रंथो में शिव पुराण का बहुत महत्व है । शिव पुराण में शिवरात्रि के दिन धन वैभव का एक ऐसा आसान और चमत्कारी उपाय बताया गया है जिसको करने से समस्त आर्थिक संकट दूर होते है, चाहे कुंडली में दरिद्रता का कैसा भी योग है वह समाप्त हो जाता है, जातक लक्ष्मीवान बनता है उसके घर परिवार में सुख समृद्धि की कोई भी कमी नहीं होती है, जानिए शिवरात्रि का शिव पुराण का अचूक उपाय http://www.memorymuseum.net/hindi/shiv-puran-ke-upay.php #शिवपुराण, #धनवैभवकाउपाय
http://www.memorymuseum.net/hindi/shiv-puran-ke-upay.php
शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर क्या चढ़ाने से क्या फल मिलता है
शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर क्या चढ़ाने से क्या फल मिलता है
स्कन्दपुराण के अनुसार शिवरात्रि के दिन रात्रि के समय स्वयं भगवान भोले शंकर भ्रमण करते हैं, अत: जो व्यक्ति रात्रि में जागरण करके भगवान आशुतोष पूजा करते है उसके समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं। मान्यता है की शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर कुछ खास चीज़ो से अभिषेक करने से मनवाँछित फलो की प्राप्ति होती है जैसे शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर घी चढ़ाने से हमें तेज की और शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर शकर चढ़ाने से सुख - समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। जानिए शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर क्या चढ़ाने से क्या फल मिलता है http://www.memorymuseum.net/hindi/shivratri-ki-puja.php #महाशिवरात्रि, #mahashivratri
http://www.memorymuseum.net/hindi/shivratri-ki-puja.php
भगवान शिव पर ये ना चढ़ाएं
भगवान शिव पर ये ना चढ़ाएं
भोलेनाथ को देवों के देव यानी महादेव कहलाते है। भगवान भोलेनाथ सचमुच इतने भोले है कि वह जरा सी भक्ति से ही प्रसन्न हो जाते है । उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए उन्हें ऐसी बहुत सी चीजें अर्पित की जाती हैं जो अन्य किसी भी देवता को नहीं चढ़ाई जाती। लेकिन बहुत सी ऐसी वस्तुएँ भी है जिन्हे भगवान आशुतोष की पूजा में उन्हें चढ़ाना पूर्णतया मना है शायद इसीलिए बहुत से शिव भक्तो को अपनी पूजा का पूर्ण फल नहीं मिल पाता है । पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए भगवान शिव पर ये ना चढ़ाएं, भगवान शिव की पूजा में रखे ध्यान, http://www.memorymuseum.net/hindi/shivji-par-kya-na-chadaye.php #शिवरात्रि, #shivratri, #शिवपूजामेंरखेध्यान, #shivpujamenrakhedhyan
http://www.memorymuseum.net/hindi/shivji-par-kya-na-chadaye.php
मंगलवार का पंचांग
मंगलवार का पंचांग
"हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट्"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की त्रियोदशी तिथि दिन मंगलवार है। मंगलवार के दिन संकटमोचन हनुमान जी की पूजा से सभी संकट दूर होते है, साहस और आत्मविश्वास आता है। आज रात को 10.32 के बाद से चतुर्दशी तिथि लग जाएगी। पूरे देश में कहीं आज और कहीं पर कल शिवरात्रि का पर्व मनाया जा रहा है। शिवरात्रि के दिन भगवान शंकर जी का अभिषेक करने से समस्त मनोकामनाएँ पूर्ण होती है। त्रियोदशी तिथि के स्वामी कामदेव जी है, त्रियोदशी को इनकी पूजा करने से जातक रूपवान होता है, उसे अपने प्रेम में सफलता एवं इच्छित एवं योग्य जीवनसाथी प्राप्त होता है, वैवाहिक जीवन सुखमय होता है। त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र को कष्ट मिलता है और पुत्र की तरफ से भी दुःख प्राप्त होता है, जानिए आज मंगलवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Tuesday
 सोमवार का उपाय
सोमवार का उपाय
आज सोमवार भगवान शंकर जी का दिन है, जानिए कैसे रहेगा आपका आज सोमवार का दिन, आज कैसे मिलेगा धन लाभ और किन बातो से रहना होगा सावधान , पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज सोमवार के दिन आपका भाग्य कितने प्रतिशत साथ देगा , जानिए आपका आज सोमवार का राशिफल, सोमवार का उपाय http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php #राशिफल, #rashifal, #सोमवारकाराशिफल, #somvarkarashifal
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
सोमवार का पंचांग
सोमवार का पंचांग
"ॐ नमो शिवाये", "हर हर महादेव"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि दिन सोमवार है। प्रत्येक सोमवार को शिवलिंग का दूध, शहद से अभिषेक करने से भगवान भोलेनाथ प्रसन्न होते है, समस्त सांसारिक सुखो की प्राप्ति होती है। द्वादशी तिथि के स्वामी श्री हरि विष्णु जी हैं। द्वादशी को इनकी पूजा , अर्चना करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है, समाज में सर्वत्र आदर मिलता है। इस दिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ करना अत्यन्त श्रेयकर होता है। द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना यात्रा करना निषिद्ध है , इस दिन यात्रा करने से धन हानि एवं असफलता की सम्भावना रहती है। द्वादशी के दिन मसूर ना खाएं । नित्य पंचांग पढ़ने वाले जातको श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति होती है, जानिए आज सोमवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Monday
आज का राशिफल
आज का राशिफल
आज विजया एकादशी है। जानिए आज रविवार के दिन किसी राशि के जातको को शुभ समाचार प्राप्त होंगे, और किन राशि के जातको का दिन जा सकता है खाली , पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज रविवार के दिन क्या कहता है आपका राशिफल, क्या है आपका गुडलक उपाय। आज कितने प्रतिशत आपका भाग्य आपका साथ देगा । जानिए आज का राशिफल, http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php #आजकाराशिफल, #aajkarashifal, #रविवारकाराशिफल, #ravivarkarashifal
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
एकादशी का धन-ऐश्वर्य प्राप्ति का अचूक उपाय
एकादशी का धन-ऐश्वर्य प्राप्ति का अचूक उपाय
आज जीवन के समस्त क्षेत्रो में विजय प्रदान करने वाली विजया एकादशी है। जीवन में भगवान विष्णु और माँ लक्ष्मी की स्थाई कृपा प्राप्त करने के लिए, धन, सुख-समृद्धि और ऐश्वर्य प्राप्ति के लिए एकादशी की रात्रि को एक उपाय अवश्य ही करें , नियमपूर्वक श्रद्धा से इस उपाय को करने से माँ लक्ष्मी की पीढ़ियों तक कृपा बनी रहती है, घर कारोबार में किसी भी चीज़ का अभाव नहीं रहता है। जानिए एकादशी का धन-ऐश्वर्य प्राप्ति का अचूक उपाय https://www.memorymuseum.net/hindi/daridrata-dur-karne-ke-upay.php
https://www.memorymuseum.net/hindi/daridrata-dur-karne-ke-upay.php
रविवार का पंचांग
रविवार का पंचांग
सूर्य मन्त्र :- "ॐ घृणि सूर्याय नम:"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी, विजया एकादशी, दिन रविवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार रविवार को भगवान सूर्य को प्रात: ताम्बे के बर्तन से अर्घ्य देने, एवं आदित्यहृदयस्तोत्रम्‌ का पाठ करने से यश और सफलता की प्राप्ति होती है। स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन नियम पूर्वक अवश्य करें। आज समस्त क्षेत्रो में विजय दिलाने वाली पापो का नाश करने वाली विजया एकादशी है। एकादशी के दिन भगवान श्री विष्णु जी की आँवला, नारियल और पीली मिठाई से पूजा करने से भगवान श्री विष्णु जी की कृपा मिलती है। एकादशी के दिन विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ अवश्य ही करें। एकादशी के दिन चावल खाने से रोग और शत्रु बढ़ते है, जानिए आज रविवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Sunday
शनिवार का पंचांग
शनिवार का पंचांग
शनि मन्त्र :-'ऊँ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि दिन शनिवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार शनिवार को प्रात: लोहे के बर्तन में जल में गुड़, काले तिल, दूध, शहद आदि डालकर पीपल पर चढ़ाकर 7 परिक्रमा करने एवं साँय पीपल पर तेल का दीपक जलाने से शनि देव प्रसन्न होते है, कुंडली की ग्रहों के अशुभ फलो में कमी आती है। दशमी तिथि के स्वामी यमराज जी है। इस दिन इनकी पूजा करने, इनसे अपने पापो के लिए क्षमा माँगने से जीवन की समस्त बाधाएं दूर होती हैं, नरक के दर्शन नहीं होते है अकाल मृत्यु के योग भी समाप्त हो जाते है। शास्त्रों के अनुसार जो जातक नित्य पंचाग को पढ़कर/ सुनकर अपने दिन का प्रारम्भ करते है उन्हें देवताओं का आशीर्वाद मिलता है, जानिए आज शनिवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Saturday
शुक्रवार का शुभ पंचाग
शुक्रवार का शुभ पंचाग
लक्ष्मी मन्त्र :- "ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्म्यै नम:"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की नवमी तिथि दिन शुक्रवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार इस धरती पर आदि काल से ही धन की प्रमुख महिमा रही है। धन की देवी माँ लक्ष्मी की सदैव कृपा के लिए, समस्त आर्थिक संकटो से छुटकारा पाने के लिए शुक्रवार को माँ लक्ष्मी को हलुए अथवा सबुतदाने की खीर का भोग लगाएं, श्री सूक्त का पाठ एवं माँ अष्ट लक्ष्मी के मन्त्र का जाप करें। नवमी को माँ दुर्गा को लाल पुष्प चढ़ाकर, घी का दीपक जलाकर माँ के सिद्ध मन्त्र का जाप करने से घोर से घोर संकट भी दूर होते है। नवमी को कोई भी नया मांगलिक कार्य प्रारम्भ ना करें, आज शुक्रवार का शुभ पंचाग पढ़ने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Friday
गुरुवार का पंचांग
गुरुवार का पंचांग
"श्री मन नारायण नारायण नारायण, हरि मन नारायण नारायण नारायण"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि दिन गुरुवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार गुरुवार को भगवान श्री विष्णु जी को शंख से स्नान करा के उन्हें पीले चन्दन का तिलक करके लौंग, इलाइची, गुड़, नारियल, आँवले, आदि का भोग लगाकर पूजा करने से जीवन के सभी सुख प्राप्त होते है। अष्टमी तिथि के स्वामी भगवान शिव कहे गए है। अष्टमी तिथि को भगवान शिव की विधि पूर्वक पूजा करने से समस्त सिद्धियां प्राप्त होती है। अष्टमी को नारियल का सेवन करने से बुद्धि का नाश होता है।गुरुवार को तेल लगाने, सिर धोने, कपड़े धोने, बाल-दाढ़ी कटाने से धन हानि होती है। सुखी जीवन के लिए नित्य पंचांग को पढ़ना अपनी अनिवार्य आदत बनायें, जानिए क्या है गुरुवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
गुरुवार का पंचांग
गुरुवार का पंचांग
"श्री मन नारायण नारायण नारायण, हरि मन नारायण नारायण नारायण"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि दिन गुरुवार है। आचार्य मुक्ति नारायण पांडेय जी के अनुसार गुरुवार को भगवान श्री विष्णु जी को शंख से स्नान करा के उन्हें पीले चन्दन का तिलक करके लौंग, इलाइची, गुड़, नारियल, आँवले, आदि का भोग लगाकर पूजा करने से जीवन के सभी सुख प्राप्त होते है। अष्टमी तिथि के स्वामी भगवान शिव कहे गए है। अष्टमी तिथि को भगवान शिव की विधि पूर्वक पूजा करने से समस्त सिद्धियां प्राप्त होती है। अष्टमी को नारियल का सेवन करने से बुद्धि का नाश होता है।गुरुवार को तेल लगाने, सिर धोने, कपड़े धोने, बाल-दाढ़ी कटाने से धन हानि होती है। सुखी जीवन के लिए नित्य पंचांग को पढ़ना अपनी अनिवार्य आदत बनायें, जानिए क्या है गुरुवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Thursday
बुधवार का राशिफल
बुधवार का राशिफल
जानिए कैसे रहेगा आपका आज बुधवार का दिन, आज कैसे मिलेगी हर क्षेत्र में सफलता, और किन बातो से रहना होगा दूर , पंडित कृष्ण कुमार शास्त्री जी से जानिए आज आपको बुधवार के दिन किस तरह के फल प्राप्त होंगे, जानिए सभी राशियों का आज बुधवार का राशिफल, बुधवार का उपाय http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php #राशिफल, #rashifal, #बुधवारकाराशिफल, #budhvarkarashifal, #आजकाराशिफ़ल, #aajkarashifal
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-rashifal.php
बुधवार का पंचांग
बुधवार का पंचांग
गणेश जी का मन्त्र :- "ॐ श्री महा गणगणपतये नम:"।। आज फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि दिन बुधवार है। बुधवार को भगवान गणेश जी को रोली का तिलक लगाकर दूर्वा अर्पित करके लड्डुओं / गुड़ का भोग लगाने से समस्त विघ्न दूर होते है, कार्यो में श्रेष्ठ सफलता मिलती है। सप्तमी तिथि के स्वामी भगवान सूर्य है। सप्तमी तिथि को सूर्य देव को प्रांत: अर्घ्य देने एवं आदित्य ह्रदय स्त्रोत्रम् का पाठ करने से जीवन में सुख समृद्धि, हर्ष उल्लास और परिवारिक सुखो की कोई भी कमी नहीं रहती है। सप्तमी को काले एवं नीले वस्त्रो को धारण ना करें। बुधवार को बाल दाढ़ी कटाने, तेल लगाने से धन लाभ के योग बनते है। नित्य पंचांग पढ़ने वाले जातको से देवता और कुंडली के ग्रह प्रसन्न रहते है, जानिए आज बुधवार का पंचांग http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday
http://www.memorymuseum.net/hindi/aaj-ka-panchag.php?dayName=Wednesday