Memory Alexa Hindi

आज के शुभ , अशुभ मुहूर्त

budhar-war-ka-panchag

दोस्तों हर दिन कुछ समय बहुत शुभ और कुछ समय सावधानी बरतने वाले होते है …इनको समझ कर आसानी से अपने मनवाँछित परिणाम प्राप्त करने के लिए इस निशुल्क साईट पर अवश्य ही विजिट करें

Backword ImageBackword Image रविवारमंगलवार Forward ImageForward Image


आप सभी को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं


सोमबार के शुभ अशुभ मुहूर्त


आज का शुभ मुहूर्त

Aaj Ka Shubh Muhurt

shiv-ji-image

प्रत्येक दिन में शुभ अशुभ दोनों ही समय आते है । यदि हमें इसके बारे में पूर्व में ही जानकारी मिल जाये, हम शुभ समय का पूरा उपयोग कर लें और अशुभ समय में अपना कोई भी महत्वपूर्ण, नया कार्य शुरू ना करें, उस समय थोड़ी सी सावधानी रखें, तो हमें निश्चित ही अपने कर्मों के सुखद फल प्राप्त होंगे।जो हमारे दैनिक कार्य है या जिन कार्यों के बीच में शुभ अशुभ समय आता है उसकी मान्यता नहीं मानी जाती है,
अपने कार्यो में श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति के लिए जानिए आज के मुहूर्त ( muhurat ) शुभ अशुभ मुहूर्त ( Shubh Ashubh muhurat ) ।

Kalash One Image तिथि- आज माघ माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि दिन सोमवार है ।

Kalash One Image तिथि समय - चतुर्दशी 16 जनवरी 05:11 तदुपरांत अमावस्या ।

आज मकर संक्रांति का पावन पर्व है । मकर संक्रांति के दिन सूर्य देव धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करते है इस दिन भगवान सूर्य की पूजा करने का विशेष विधान है। हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार मकर संक्रांति से देवताओं का दिन आरंभ होता है जो कि आषाढ़ मास तक रहता है।

मकर संक्रान्ति के दिन से ही सूर्य की उत्तरायण गति भी प्रारम्भ होती है। शास्त्रों के अनुसार इस दिन सूर्योदय से पूर्व पवित्र नदी में स्नान / जल में गंगाजल डाल कर स्नान करने एवं स्नानदि के बाद योग्य ब्राह्मण को दान करने से सहस्त्रो गुणा पुण्य मिलता है जो अक्षय होता है।

चतुर्दशी तिथि के स्वामी भगवान शिव हैं। अतः प्रत्येक मास की चतुर्दशी विशेषकर कृष्णपक्ष की चतुर्दशी के दिन शिव जी की पूजा, अर्चना एवं रुद्राभिषेक करने से भगवान शिव समस्त मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं, भक्तो के सभी संकट दूर होते है ।


आज के शुभ मुहूर्त

आज का अभिजित मुहूर्त (शुभ समय)

अभिजित मुहूर्त दिन का आठवां मुहूर्त होता है और यह मघ्याह्न ( दोपहर लगभग 12 बजे ) के समय आता है। और इसके 24 मिनट पहले और 24 मिनट बाद में (अर्थात 48 मिनट) इसका प्रारम्भ और अंत माना जाता है।अर्थात 11.36 से 12.24 तक |


आज का गुलीक काल (शुभ समय) Forward ImageForward Image

सोमवार ---- दोपहर 1.30 से 3 बजे तक

चौघड़िया, ( Chaughadiya ) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में , कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1.30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

चौघड़िया, ( Chaughadiya ) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में, कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1.30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

आज की दिन की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की अमृत चौघड़िआ ----- 6.00 AM To 7.30 AM

दिन की शुभ चौघड़िआ ---- 9.00 AM To 10.30 AM

दिन की चर चौघड़िआ ---- 1:30 PM To 3:00 PM

दिन की लाभ चौघड़िआ ---- 3.00 PM To 4.30 PM

दिन की अमृत चौघड़िआ ----- 4.30 PM To 6.00 PM

आज की रात्रि की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

चर चौघड़िया ----- रात्रि 6:00 PM To 07:30 PM

लाभ चौघड़िया ----- रात्रि 10.30 PM To 12.00 PM

शुभ चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 1.00 AM To 3.00 AM

अमृत चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 3.00 AM To 4.30 PM प्रात: काल


पूर्व दिशा---------घर से दर्पण देखकर, दूध पीकर जाएँ


आज के अशुभ मुहूर्त

राहु काल ( Rahu kaal )
राहु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए |

आज का राहु काल (अशुभ समय) Forward ImageForward Image

सोमवार ---- सुबह -7.30 से 9-00 तक।

अशुभ चौघड़िया ( aashubh chaughadiya )
अशुभ चौघड़ियाँ में शुभ कार्य टालना ही बुद्धिमानी है|

आज की दिन की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की काल चौघड़िया ----- प्रात: काल 7.30 AM 9.00 AM

दिन की रोग चौघड़िया ---- प्रात: काल 10.30 AM 12.00 PM

दिन की उद्बेग चौघड़िया ---- अपराह्न 12.00 PM 1:30 PM

आज की रात्रि की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की रोग चौघड़िया ----- रात्रि 7.30 PM 9.00 PM

रात्रि की काल चौघड़िया ---- रात्रि 9.00 PM 10.30 PM

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 12.00 AM 1.30 AM



Kalash One Imageमाघ माह (जनवरी-फरवरी) में मूली, धनिया, चीनी और मिश्री खाना मना है ।
Kalash One Imageइस माह में देसी घी और मेवो का सेवन अवश्य ही करें ।

pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Backword ImageBackword Image सोमबार बुधवार Forward ImageForward Image


आप सभी को मौनी अमावस्या की हार्दिक शुभकामनाएं


मंगलवार के शुभ अशुभ मुहूर्त

आज का शुभ मुहूर्त

Aaj Ka Shubh Muhurt

jai-hanuman


प्रत्येक दिन में शुभ अशुभ दोनों ही समय आते है । यदि हमें इसके बारे में पूर्व में ही जानकारी मिल जाये, हम शुभ समय का पूरा उपयोग कर लें और अशुभ समय में अपना कोई भी महत्वपूर्ण, नया कार्य शुरू ना करें, उस समय थोड़ी सी सावधानी रखें, तो हमें निश्चित ही अपने कर्मों के सुखद फल प्राप्त होंगे।जो हमारे दैनिक कार्य है या जिन कार्यों के बीच में शुभ अशुभ समय आता है उसकी मान्यता नहीं मानी जाती है।
अपने कार्यो में श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति के लिए जानिए आज के मुहूर्त ( muhurat ) शुभ अशुभ मुहूर्त ( shubh ashubh muhurat )

Kalash One Image तिथि- आज माघ माह की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि है ।


Kalash One Image तिथि समय - अमावस्या - पूर्ण रात्रि तक तदुपरांत प्रतिपदा ।

आज माघ माह की अमावस्या, मौनी अमावस्या है, हिन्दू धर्म में मौनी अमावस्या का विशेष महत्त्व है। इस दिन मौन रहने से बहुत पुण्य की प्राप्ति होती है।मान्यतानुसार माघ में पड़ने वाली मौनी अमावस्या के दिन पवित्र प्रयाग के संगम तीर्थ में तैंतीस कोटी देवताओं का निवास होता है इसलिए माघ अमावस्या पर संगम में स्नान से अमृत स्नान का पुण्य मिलता है। मौनी अमावस्या के दिन प्रातः गंगा नदी / पवित्र नदी या घर में जल में गंगा जल डाल कर स्नान करने से, पितृदोष से, गृहक्लेश से मुक्ति मिलती है, सभी तरह के संकटो एवं दुर्घटना से रक्षा होती है।

मौनी अमावस्या के दिन प्रात: जल में दूध, काले तिल, अक्षत और सफ़ेद पुष्प डाल कर पितरो का तर्पण करने से पितरो सो स्वर्ग में स्थान मिलता है, पितरो का पूर्ण आशीर्वाद मिलता है।


आज अमावस्या है । हर अमावस्या को गहरे गड्ढे या कुएं में एक चम्मच दूध डालें इससे कार्यों में बाधाओं का निवारण होता है । हर अमावस्या को घर के कोने कोने को अच्छी तरह से साफ करें, सभी प्रकार का कबाड़ निकाल कर बेच दें। इस दिन सुबह और शाम को घर के मंदिर और तुलसी पर दिया अवश्य ही जलाएं इससे घर से कलह और दरिद्रता दूर रहती है ।

आज के शुभ मुहूर्त

आज का अभिजित मुहूर्त (शुभ समय)

अभिजित मुहूर्त दिन का आठवां मुहूर्त होता है और यह मघ्याह्न ( दोपहर लगभग 12 बजे ) के समय आता है। और इसके 24 मिनट पहले और 24 मिनट बाद में (अर्थात 48 मिनट) इसका प्रारम्भ और अंत माना जाता है।अर्थात 11.36 से 12.24 तक |

आज का गुलीक काल (शुभ समय) Forward ImageForward Image

मंगलवार ---- दोपहर 12 से 1.30 बजे तक

चौघड़िया, (Chaughadiya) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में, कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1.30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

आज की दिन की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की लाभ चौघड़िया ----- प्रात: काल 09:00 AM To 10:30 AM

दिन की लाभ चौघड़िया ----- प्रात: काल 10.30 AM To 12.00 AM

दिन की अमृत चौघड़िया ---- मध्यान 12.00 PM To 1.30 PM अपराह्न

दिन की शुभ चौघड़िया ---- अपराह्न 3.00 PM To 4.30 PM

आज की रात्रि की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

लाभ चौघड़िया ----- रात्रि 7.30 PM To 9:00 PM

शुभ चौघड़िया ---- रात्रि 10.30 PM To 12:00 PM मध्य रात्रि

अमृत चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 12.00 PM To 1:30 AM

चर चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 01:30 AM To 3:00 AM


उत्तर दिशा---------घर से गुड़ खाकर जाएँ


आज के अशुभ मुहूर्त

राहु काल ( Rahu kaal )

राहु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए |

आज का राहु काल (अशुभ समय) Forward ImageForward Image

मंगलवार ---- दिन -3:00 से 4:30 तक।

अशुभ चौघड़िया ( aashubh chaughadiya )

अशुभ चौघड़ियाँ में शुभ कार्य टालना ही बुद्धिमानी है|

आज की दिन की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की रोग चौघड़िया ----- प्रात: काल 6.00 AM 7.30 AM

दिन की उद्बेग चौघड़िया ---- प्रात: काल 7.30 AM 9.00 AM

दिन की काल चौघड़िया ---- मध्यान 1.30 PM 3.00 PM अपराह्न

दिन की रोग चौघड़िया ---- सायं काल 4.30 PM 6.00 PM

आज की रात्रि की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की काल चौघड़िया ----- सायं काल 6.00 PM 7.30 PM रात्रि

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ---- रात्रि 9.00 PM 10.30 PM

रात्रि की रोग चौघड़िया ---- रात्रि 3.00 AM 4.30 AM

रात्रि की काल चौघड़िया ---- प्रात: काल 4.30 AM 6.30 AM



Kalash One Image पौष / पूस माह (दिसम्बर-जनवरी) में धनिया का सेवन नहीं करना चाहिए ।
Kalash One Image इस माह में तिल का सेवन विभिन्न रूपों में अधिक से अधिक करें ।

pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Backword ImageBackword Image मंगलवार बृहस्पतिवार Forward ImageForward Image

बुधवार के शुभ अशुभ मुहूर्त

आज का शुभ मुहूर्त

Aaj Ka Shubh Muhurt

ganesh-ji

प्रत्येक दिन में शुभ अशुभ दोनों ही समय आते है । यदि हमें इसके बारे में पूर्व में ही जानकारी मिल जाये, हम शुभ समय का पूरा उपयोग कर लें और अशुभ समय में अपना कोई भी महत्वपूर्ण, नया कार्य शुरू ना करें, उस समय थोड़ी सी सावधानी रखें, तो हमें निश्चित ही अपने कर्मों के सुखद फल प्राप्त होंगे।जो हमारे दैनिक कार्य है या जिन कार्यों के बीच में शुभ अशुभ समय आता है उसकी मान्यता नहीं मानी जाती है,
अपने कार्यो में श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति के लिए जानिए आज के मुहूर्त ( muhurat ) शुभ अशुभ मुहूर्त ( shubh ashubh muhurat ) ।

Kalash One Image तिथि- आज माघ माह की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि दिन बुधवार है ।

Kalash One Image तिथि समय - अमावस्या - 07:47 तक तदुपरांत प्रतिपदा ।

हर अमावस्या को गहरे गड्ढे या कुएं में एक चम्मच दूध डालें इससे कार्यों में बाधाओं का निवारण होता है । इसके अतिरिक्त अमावस्या को आजीवन जौ दूध में धोकर बहाएं, आपका भाग्य सदैव आपका साथ देगा ।

अमावस्या पर तुलसी के पत्ते या बिल्व पत्र बिलकुल भी नहीं तोडऩा चाहिए। अमावस्या पर देवी-देवताओं को तुलसी के पत्ते और शिवलिंग पर बिल्व पत्र चढ़ाने के लिए उन्हें एक दिन पहले ही तोड़कर रख लें। हर अमावस्या को घर के कोने कोने को अच्छी तरह से साफ करें, सभी प्रकार का कबाड़ निकाल कर बेच दें। इस दिन सुबह और शाम को घर के मंदिर और तुलसी पर दिया अवश्य ही जलाएं इससे घर से कलह और दरिद्रता दूर रहती है ।

आज के शुभ मुहूर्त

आज का अभिजित मुहूर्त (शुभ समय)

अभिजित मुहूर्त दिन का आठवां मुहूर्त होता है और यह मघ्याह्न ( दोपहर लगभग 12 बजे ) के समय आता है। और इसके 24 मिनट पहले और 24 मिनट बाद में (अर्थात 48 मिनट) इसका प्रारम्भ और अंत माना जाता है।अर्थात 11.36 से 12.24 तक |

आज का गुलीक काल (शुभ समय) Forward ImageForward Image

बुधवार ----- प्रातः 10.30 से 12 बजे तक

चौघड़िया, ( Chaughadiya ) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में, कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1.30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

आज की दिन की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की लाभ चौघड़िया ----- प्रात: काल 6.00 AM To 7.30 AM

दिन की अमृत चौघड़िया --- प्रात: काल 7.30 AM To 9.00 AM

दिन की शुभ चौघड़िया ---- प्रात: काल 10.30 AM To 12.00 PM

दिन की चर चौघड़िया ---- अपराह्न 03:00 PM To 04:30 PM

दिन की लाभ चौघड़िया ------ सायं काल 4:30 PM To 6.00 PM

आज की रात्रि की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

शुभ चौघड़िया ------ रात्रि 7.30 PM To 9.00 PM

अमृत चौघड़िया ---- रात्रि 9.00 PM To 10.30 PM

चर चौघड़िया ---- रात्रि 10:30 PM To 12:00 AM

लाभ चौघड़िया ----- मध्य रात्रि 3.30 AM To 4.30 AM


उत्तर दिशा---------घर से सुखा/हरा धनिया या तिल खाकर जाएँ


आज के अशुभ मुहूर्त

राहु काल (Rahu kaal)
राहु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए |

आज का राहु काल (अशुभ समय) Forward ImageForward Image

बुधवार ---- दिन -12.00 से 01.30 तक।

अशुभ चौघड़िया ( aashubh chaughadiya )
अशुभ चौघड़ियाँ में शुभ कार्य टालना ही बुद्धिमानी है|

आज की दिन की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की काल चौघड़िया ----- प्रात: काल 9.00 AM 10.30 AM

दिन की रोग चौघड़िया ---- मध्यान 12.00 PM 1.30 PM अपराह्न

दिन की उद्बेग चौघड़िया ----- अपराह्न 1.30 AM 3.00 AM

आज की रात्रि की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ----- सायं काल 6.00 PM 7.30 PM

रात्रि की रोग चौघड़िया ----- मध्य रात्रि 12.00 AM 1.30 AM

रात्रि की काल चौघड़िया ------ मध्य रात्रि 1.30 AM 3.00 AM

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ----- प्रात: काल 4.30 AM 6.00 AM

Kalash One Image माघ माह (जनवरी-फरवरी) में मूली, धनिया, चीनी और मिश्री खाना मना है ।
Kalash One Image इस माह में देसी घी और मेवो का सेवन अवश्य ही करें ।

pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Backword ImageBackword Image बुधवार शुक्रवार Forward ImageForward Image

मुहूर्त, आज के शुभ अशुभ मुहूर्त

Muhurt, Aaj ke Shubh Ashubh Muhurt

बृहस्पतिवार के शुभ अशुभ मुहूर्त


"Guruvar" "Brihaspativar ke Shubh Ashubh Muhurt"

vishnu-ji

प्रत्येक दिन में शुभ अशुभ दोनों ही समय आते है । यदि हमें इसके बारे में पूर्व में ही जानकारी मिल जाये, हम शुभ समय का पूरा उपयोग कर लें और अशुभ समय में अपना कोई भी महत्वपूर्ण, नया कार्य शुरू ना करें, उस समय थोड़ी सी सावधानी रखें, तो हमें निश्चित ही अपने कर्मों के सुखद फल प्राप्त होंगे। जो हमारे दैनिक कार्य है या जिन कार्यों के बीच में शुभ अशुभ समय आता है उसकी मान्यता नहीं मानी जाती है,
अपने कार्यो में श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति के लिए जानिए आज के मुहूर्त ( muhurat ) शुभ अशुभ मुहूर्त ( shubh ashubh muhurat ) ।

Kalash One Imageआज की तिथि (Aaj Ki Tithi ) - आज माघ माह की कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि, दिन बृहस्पतिवार है ।

Kalash One Image तिथि समय - दशमी - 19:10 तक तदुपरान्त एकादशी ।

यमराज जी का समस्त रोगों को बाधाओं को दूर करने वाला मन्त्र :- "ॐ क्रौं ह्रीँ आं वैवस्वताय धर्मराजाय भक्तानुग्रहकृते नम : "॥ दशमी तिथि के देवता यमराज जी हैं। यह दक्षिण दिशा के स्वामी है। इनका निवास स्थान यमलोक है। इस दिन इनकी पूजा करने, इनसे अपने पापो के लिए क्षमा माँगने से जीवन की समस्त बाधाएं दूर होती हैं, निश्चित ही सभी रोगों से छुटकारा मिलता है, नरक के दर्शन नहीं होते है अकाल मृत्यु के योग भी समाप्त हो जाते है। शास्त्रों में इस दिन यम के निमित्त घर के बाहर दीपदान का विधान कहा गया हैं।

इस तिथि को धर्मिणी भी कहा गया है। समान्यता यह तिथि धर्म और धन प्रदान करने वाली मानी गयी है । दशमी तिथि में नया वाहन खरीदना शुभ माना गया है। इस तिथि को सरकार से संबंधी कार्यों का आरम्भ किया जा सकता है। दशमी को परवल नहीं खाना चाहिए ।

आज के शुभ मुहूर्त

आज का अभिजित मुहूर्त (शुभ समय)

Aaj ka Abhijeet Muhurat ( Shubh Samay )

अभिजित मुहूर्त दिन का आठवां मुहूर्त होता है और यह मघ्याह्न ( दोपहर लगभग 12 बजे ) के समय आता है। और इसके 24 मिनट पहले और 24 मिनट बाद में (अर्थात 48 मिनट) इसका प्रारम्भ और अंत माना जाता है।अर्थात 11:36 से 12:24 तक |

आज का गुलीक काल ( Gulik Kaal )(शुभ समय) Forward ImageForward Image

गुरुवार ---- प्रातः 9 से 10.30 बजे तक

चौघड़िया, ( Chaughadiya ) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में, कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1.30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

आज की दिन की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की शुभ चौघड़िया ----- प्रात: काल 6.00 AM To 7.30 PM

दिन की चर चौघड़िया ----- प्रात: काल 10:30 AM To 12:00 PM

दिन की लाभ चौघड़िया ---- मध्यान 12.00 PM To 1.30 PM

दिन की अमृत चौघड़िया ---- अपराह्न 1.30 PM To 3.00 PM

दिन की शुभ चौघड़िया ---- सायं काल 4.30 PM To 6:00 PM


आज की रात्रि की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

अमृत चौघड़िया ----- सायं काल 6.00 PM To 7.30 PM

चर चौघड़िया ----- सायं काल 7:30 PM To 9:00 PM

लाभ चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 12.00 AM To 1.30 AM

शुभ चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 3.00 AM To 4.30 AM

अमृत चौघड़िया ---- प्रात: काल 4.30 AM To 6.00 AM


दक्षिण दिशा ---------घर से सरसो के दाने या जीरा खाकर जाएँ


आज के अशुभ मुहूर्त


राहु काल ( Rahu kaal )
राहु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए |

आज का राहु काल (अशुभ समय) Forward ImageForward Image

गुरूवार ---- दिन -1.30 से 3.00 तक।

अशुभ चौघड़िया ( aashubh chaughadiya )
अशुभ चौघड़ियाँ में शुभ कार्य टालना ही बुद्धिमानी है|

आज की दिन की अशुभ चौघड़िया ( AShubh Chaughadiya ) Forward ImageForward Image

दिन की रोग चौघड़िया ----- प्रात: काल 7.30 AM 9.00 AM

दिन की उद्बेग चौघड़िया ---- प्रात: काल 9.00 AM 10.30 AM

दिन की काल चौघड़िया ---- अपराह्न 3.00 PM 4.30 PM

आज की रात्रि की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की रोग चौघड़िया ----- रात्रि 9.00 PM 10.30 PM

रात्रि की काल चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 10.30 PM 12.00 AM

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 1.30 AM 3.00 AM



Kalash One Image पौष / पूस माह (दिसम्बर-जनवरी) में धनिया का सेवन नहीं करना चाहिए ।
Kalash One Image इस माह में तिल का सेवन विभिन्न रूपों में अधिक से अधिक करें ।

pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Backword ImageBackword Image बृहस्पतिवार शनिवार Forward ImageForward Image


आप सभी को षटशिला एकादशी की हार्दिक शुभकामनाएं


मुहूर्त, आज के शुभ अशुभ मुहूर्त

Muhurt, Aaj ke Shubh Ashubh Muhurt

शुक्रवार के शुभ अशुभ मुहूर्त

Shukarwar ke Shubh Ashubh Muhurt

प्रत्येक दिन में शुभ अशुभ दोनों ही समय आते है । यदि हमें इसके बारे में पूर्व में ही जानकारी मिल जाये, हम शुभ समय का पूरा उपयोग कर लें और अशुभ समय में अपना कोई भी महत्वपूर्ण, नया कार्य शुरू ना करें, उस समय थोड़ी सी सावधानी रखें, तो हमें निश्चित ही अपने कर्मों के सुखद फल प्राप्त होंगे।जो हमारे दैनिक कार्य है या जिन कार्यों के बीच में शुभ अशुभ समय आता है उसकी मान्यता नहीं मानी जाती है,
अपने कार्यो में श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति के लिए जानिए आज के मुहूर्त ( muhurat ) शुभ अशुभ मुहूर्त ( shubh ashubh muhurat ) ।

Kalash One Imageआज की तिथि (Aaj Ki Tithi) - आज माघ माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि दिन शुक्रवार है ।

Kalash One Image तिथि समय - चतुर्थी - 19:00 तक तदुपरांत पंचमी ।

चतुर्थी तिथि के स्वामी विघ्नविनाशक गणपति गणेश जी है । इस तिथि का एक नाम खला भी है खला जिसका अर्थ है किसी विशेष परिणाम / सफलता का प्राप्त ना होना। इसलिए चतुर्थी तिथि में प्रारम्भ किए गए कार्यों के विशेष परिणाम प्राप्त नहीं होते हैं। इस तिथि के स्वामी विघ्नविनाशक श्री गणेश जी की आराधना से जीवन के सारे विघ्न दूर हो जाते हैं।

चतुर्थी को भगवान गणेश जी के मन्त्र
"ॐ गं गणपतये नमः" का अवश्य ही जाप करें । इस दिन ज्यादा से ज्यादा इस मन्त्र का उच्चारण करने से जीवन के सभी कष्ट दूर होते है , कर्ज मिटता है । जीवन में धन, यश और बुद्दि की प्राप्ति होती है ।

आज के शुभ मुहूर्त

आज का गुलीक काल ( Gulik Kaal ) (शुभ समय) Forward ImageForward Image

शुक्रवार ---- प्रातः 7.30 से 9 बजे तक

आज का अभिजित मुहूर्त (शुभ समय)

Aaj ka Abhijeet Muhurat ( Shubh Samay )

अभिजित मुहूर्त दिन का आठवां मुहूर्त होता है और यह मघ्याह्न ( दोपहर लगभग 12 बजे ) के समय आता है। और इसके 24 मिनट पहले और 24 मिनट बाद में (अर्थात 48 मिनट) इसका प्रारम्भ और अंत माना जाता है।अर्थात 11.36 से 12.24 तक |

चौघड़िया, (Chaughadiya) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में, कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1:30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

आज की दिन की शुभ चौघड़िया ( Shubh Chaughadiya )Forward ImageForward Image

दिन की चर चौघड़िया ----- प्रात: काल 6:00 AM To 7:30 AM

दिन की लाभ चौघड़िया ----- प्रात: काल 7.30 AM To 9.00 AM

दिन की अमृत चौघड़िया ---- प्रात: काल 9.30 AM To 10:30 AM

दिन की शुभ चौघड़िया ---- मध्यान 12:00 PM To 1:30 PM

आज की रात्रि की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

लाभ चौघड़िया ----- रात्रि काल 9.00 PM To 10.30 PM

शुभ चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 12.00 AM To 1.30 AM

अमृत चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 1:30 AM To 3:00 AM

चर चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 3:00 AM To 4:30 AM


पश्चिम दिशा---------घर से दही खाकर जाएँ


आज के अशुभ मुहूर्त

राहु काल ( Rahu kaal )
राहु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए |

आज का राहु काल (अशुभ समय) Forward ImageForward Image

शुक्रवार ---- सुबह -10.30 से 12.00 तक।

अशुभ चौघड़िया ( aashubh chaughadiya )
अशुभ चौघड़ियाँ में शुभ कार्य टालना ही बुद्धिमानी है|

आज की दिन की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की काल चौघड़िया ----- प्रात: काल 10.30 AM 12.00 PM

दिन की रोग चौघड़िया ---- अपराह्न 1.30 PM 3.00 PM

दिन की उद्बेग चौघड़िया ---- सायं काल 3.00 AM 4.30 AM

आज की रात्रि की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की रोग चौघड़िया ----- सायं काल 6.00 PM 7.30 PM

रात्रि की काल चौघड़िया ---- रात्रि 7.30 PM 9.00 AM

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ---- रात्रि 10:30 PM 12:00 AM

रात्रि की रोग चौघड़िया ---- प्रात: काल 4:30 AM 6:00 AM



Kalash One Image पौष / पूस माह (दिसम्बर-जनवरी) में धनिया का सेवन नहीं करना चाहिए ।
Kalash One Image इस माह में तिल का सेवन विभिन्न रूपों में अधिक से अधिक करें ।

pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Backword ImageBackword Image शुक्रवार रविवार Forward ImageForward Image


आप सभी को लोहड़ी की हार्दिक शुभकामनाएं


मुहूर्त, आज के शुभ अशुभ मुहूर्त

Muhurt, Aaj ke Shubh Ashubh Muhurt

शनिवार के शुभ अशुभ मुहूर्त

Shaniwar ke Shubh Ashubh Muhurt


प्रत्येक दिन में शुभ अशुभ दोनों ही समय आते है । यदि हमें इसके बारे में पूर्व में ही जानकारी मिल जाये, हम शुभ समय का पूरा उपयोग कर लें और अशुभ समय में अपना कोई भी महत्वपूर्ण, नया कार्य शुरू ना करें, उस समय थोड़ी सी सावधानी रखें, तो हमें निश्चित ही अपने कर्मों के सुखद फल प्राप्त होंगे।जो हमारे दैनिक कार्य है या जिन कार्यों के बीच में शुभ अशुभ समय आता है उसकी मान्यता नहीं मानी जाती है,
अपने कार्यो में श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति के लिए जानिए आज के मुहूर्त ( muhurat ) शुभ अशुभ मुहूर्त ( shubh ashubh muhurat ) ।

शनिवार को पीपल के पेड़ की सेवा करने से कुंडली के ग्रहो के अशुभ फल दूर होते है, शुभ फलो की प्राप्ति होती है

Kalash One Imageआज की तिथि (Aaj Ki Tithi) - आज माघ माह की कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि दिन शनिवार है ।

Kalash One Image तिथि समय - द्वादशी - 17:09 तक तदोपरांत त्रयोदशी ।

आज हर्ष, उल्लास का पवित्र पर्व लोहिड़ी का पर्व है। यह लोहड़ी का त्यौहार पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, जम्मू काश्मीर, हिमांचल प्रदेश के साथ साथ उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और लगभग पूरे उत्तर भारत में में धूम धाम के साथ मनाया जाता हैं। समान्यता यह पर्व मकर संक्रांति से एक या दो दिन पहले पड़ता है। इस पर्व में सूर्यास्त के बाद खुले स्थान पर कंडे, लकड़ियों का ढेर बना कर उसकी पूजा करके आग लगाई जाती है।
इसमें प्रत्येक परिवार अग्नि की परिक्रमा करता है। परिक्रमा करते समय अग्नि में रेवड़ी, मक्की के भुने दाने, मूँगफली आदि अग्नि की भेंट किए जाते हैं तथा प्रसाद के रूप में ये ही चीजें सभी उपस्थित लोगों को बाँटी जाती हैं। घर लौटते समय 'लोहड़ी' में से दो चार दहकते कोयले, प्रसाद के रूप में, घर पर लाने की प्रथा भी है।

जिन परिवारों में लड़के का विवाह होता है अथवा जिन्हें पुत्र प्राप्ति होती है, उनके यहाँ की पहली लोहड़ी का उल्लास देखते ही बनता है। वहाँ पर लोग ढोल की थाप पर थिकरते हुए गिद्दा और भांगड़ा करते हुए लोहड़ी का पर्व मनाते हैं।

द्वादशी तिथि के स्वामी श्री हरि विष्णु जी हैं।  द्वादशी को इनकी पूजा , अर्चना करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है, उसे समाज में सर्वत्र आदर मिलता है। इस दिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ करना अत्यन्त श्रेयकर होता है।  द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना निषिद्ध है।  द्वादशी के दिन यात्रा नहीं करनी चाहिए, इस दिन यात्रा करने से धन हानि एवं असफलता की सम्भावना रहती है।  द्वादशी के दिन मसूर का सेवन वर्जित है।  ।


आज के शुभ मुहूर्त

आज का गुलीक काल ( Gulik Kaal ) (शुभ समय) Forward ImageForward Image

शनिवार ---- प्रातः 6 से 7:30 बजे तक

आज का अभिजित मुहूर्त (शुभ समय)

Aaj ka Abhijeet Muhurat ( Shubh Samay )

अभिजित मुहूर्त दिन का आठवां मुहूर्त होता है और यह मघ्याह्न ( दोपहर लगभग 12 बजे ) के समय आता है। और इसके 24 मिनट पहले और 24 मिनट बाद में (अर्थात 48 मिनट) इसका प्रारम्भ और अंत माना जाता है।अर्थात 11.36 से 12.24 तक |

चौघड़िया, ( Chaughadiya ) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में, कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1.30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

आज की दिन की शुभ चौघड़िया ( Shubh Chaughadiya ) Forward Image Forward Image

दिन की शुभ चौघड़िया ----- प्रात: काल 7.30 AM To 9.00 AM

दिन की चर की चौघड़िया ---- मध्यान 12:00 PM To 1:30 PM

दिन की लाभ की चौघड़िया ---- मध्यान 1:30 PM To 3:00 PM

दिन की अमृत चौघड़िया ---- दोपहर 3:00 PM To 04:30 PM

आज की रात्रि की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

लाभ चौघड़िया ----- 6.00 PM To 07.30 PM

शुभ की चौघड़िया ----- 9.00 PM To 10.30 PM

अमृत की चौघड़िया ---- रात्रि 10.30 AM To मध्य रात्रि 12:00 AM

चर की चौघड़िया ---- रात्रि 12:00 AM To 1:30 AM

लाभ चौघड़िया ---- 04:30 AM To 6:00 AM


उत्तर पूर्व ( ईशान कोण कि दिशा )---------अदरक या उड़द खा कर जाएँ


आज के अशुभ मुहूर्त

राहु काल ( Rahu kaal )
राहु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए |

आज का राहु काल (अशुभ समय) Forward ImageForward Image

शनिवार ---- सुबह - 9:00 से 10:30 तक ।

अशुभ चौघड़िया ( Ashubh Chaughadiya )
अशुभ चौघड़ियाँ में शुभ कार्य टालना ही बुद्धिमानी है|

आज की दिन की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की काल चौघड़िया ----- प्रात: काल 06:00 AM 07:30 PM

दिन की रोग चौघड़िया ---- 9.00 PM 10:30 PM

दिन की काल की चौघड़िया ---- सायं काल 4.30 AM 06.00 AM

आज की रात्रि की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ---- रात्रि 07:30 PM 09:00 AM

रात्रि की रोग चौघड़िया ----- सायं काल 1.30 PM 3.00 PM

रात्रि की काल चौघड़िया ---- 3.00 PM 4.30 AM



विशेष :- शनिवार को काले चने, उड़द की खिचड़ी, काला नमक, कड़वे तेल में बने पदार्थो का सेवन करने से शनि देव प्रसन्न होते है कार्यो में अड़चने दूर होती है ।

Kalash One Image माघ माह (जनवरी-फरवरी) में मूली, धनिया, चीनी और मिश्री खाना मना है ।
Kalash One Image इस माह में देसी घी और मेवो का सेवन अवश्य ही करें ।

pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Backword ImageBackword Image शनिवार सोमबार Forward ImageForward Image


आप सभी को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं



रविवार के शुभ अशुभ मुहूर्त

आज का शुभ मुहूर्त

Aaj Ka Shubh Muhurt

प्रत्येक दिन में शुभ अशुभ दोनों ही समय आते है । यदि हमें इसके बारे में पूर्व में ही जानकारी मिल जाये, हम शुभ समय का पूरा उपयोग कर लें और अशुभ समय में अपना कोई भी महत्वपूर्ण, नया कार्य शुरू ना करें, उस समय थोड़ी सी सावधानी रखें, तो हमें निश्चित ही अपने कर्मों के सुखद फल प्राप्त होंगे। जो हमारे दैनिक कार्य है या जिन कार्यों के बीच में शुभ अशुभ समय आता है उसकी मान्यता नहीं मानी जाती है ,
अपने कार्यो में श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति के लिए जानिए आज के मुहूर्त ( muhurat ) शुभ अशुभ मुहूर्त ( shubh ashubh muhurat ) ।

रविवार को मंदिर में भैरव नाथ के दर्शन अवश्य करें और उन्हें जलेबी, नमकीन और शराब चढ़ाएं | इससे समस्त संकट और अस्थिरताएँ दूर होती है|

Kalash One Image तिथि- आज माघ माह की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि दिन रविवार है ।

Kalash One Image तिथि समय - त्रयोदशी 15 जनवरी 02:30 तक तदुपरान्त चतुर्दशी ।

मकर सक्रांति के दिन स्नान के बाद भगवान सूर्यदेव की अवश्य ही पूजा करनी चाहिए। ज्योतिष के अनुसार यदि इस दिन प्रभु सूर्यदेव को प्रसन्न करने पर विशेष फल मिलता है और भगवान सूर्यदेव को प्रसन्न करने के उपाय करने से व्यक्ति के किस्मत के दरवाजे निसंदेह ही खुल जाते हैं।

त्रयोदशी तिथि के स्वामी कामदेव हैं। कामदेव प्रेम के देवता माने जाते है । पौराणिक कथाओं के अनुसार कामदेव, भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी के पुत्र माने गए हैं। उनका विवाह प्रेम और आकर्षण की देवी रति से हुआ है।
जिस तरह पश्चिमी देशों में क्यूपिड और यूनानी देशों में इरोस को प्रेम का प्रतीक माना जाता है, उसी तरह हिन्दू धर्म ग्रंथों में कामदेव को प्रेम और अकार्षण का देवता कहा जाता है।
कामदेव को मनुष्यों में कामेच्छा उत्पन्न करने के लिए उत्तरदायी माना गया हैं।
कामदेव का मन्त्र :- "ऊँ कामदेवाय विद्महे, रति प्रियायै धीमहि, तन्नो अनंग प्रचोदयात‍्।"
कामदेव के उपरोक्त मन्त्र का नित्य जाप करने से सम्मोहन शक्ति जाग्रत होती है सामने वाला व्यक्ति जातक के प्रति आकर्षित होता है, जातक सर्वत्र लोकप्रियता प्राप्त करता है । इस मंत्र से प्रेम में सफलता , सुयोग्य जीवनसाथी प्राप्त होता है। दांपत्य जीवन में प्रेम बढ़ता है ।


आज के शुभ मुहूर्त

आज का अभिजित मुहूर्त (शुभ समय)

अभिजित मुहूर्त दिन का आठवां मुहूर्त होता है और यह मघ्याह्न ( दोपहर लगभग 12 बजे ) के समय आता है। और इसके 24 मिनट पहले और 24 मिनट बाद में (अर्थात 48 मिनट) इसका प्रारम्भ और अंत माना जाता है।अर्थात 11:36 से 12:24 तक |

आज का गुलीक काल (शुभ समय) Forward ImageForward Image

रविवार ----- अपराह्न- 3.00 PM 4.30 PM

चौघड़िया, ( Chaughadiya ) किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत में, कार्यो की सफलता हेतु चौघड़िया को अवश्य ही देखना चाहिए| एक चौघड़ियाँ 1.30 घंटे की होती है, शुभ चौघड़ियां में कार्य करने से समान्यता कार्य सफल होते है |

आज की दिन की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की चर चौघड़िया ----- प्रात: काल 7.30 AM To 9.00 AM

दिन की लाभ चौघड़िया ----- प्रात: काल 9.00 AM To 10.30 AM

दिन की अमृत चौघड़िया ---- प्रात: काल 10.30 AM To 12.00 PM

दिन की शुभ चौघड़िया ------ अपराह्न 1.30 PM To 3.00 PM

आज की रात्रि की शुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की शुभ चौघड़िया ------ सायं काल 6.00 PM To 7.30 PM

रात्रि की अमृत चौघड़िया ---- रात्रि काल 7.30 PM To 9.00 PM

रात्रि की चर चौघड़िया ---- रात्रि काल 9.00 PM To 10:30 PM

रात्रि की लाभ चौघड़िया ----- मध्य रात्रि 1.30 AM To 3.00 AM

रात्रि की शुभ चौघड़िया ------ प्रात: काल 4.30 AM To 6.00 AM


पश्चिम दिशा ---------घर से पान या घी खाकर जाएँ


आज के अशुभ मुहूर्त


राहु काल ( Rahu kaal )
राहु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए |

आज का राहु काल (अशुभ समय) Forward ImageForward Image

रविवार ---- सायं - 4.30 से 6.00 तक।

अशुभ चौघड़िया ( aashubh chaughadiya )
अशुभ चौघड़ियाँ में शुभ कार्य टालना ही बुद्धिमानी है|

आज की दिन की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

दिन की उद्बेग चौघड़िया ----- प्रात: काल 6.00 AM 7.30 AM

दिन की काल चौघड़िया ----- अपराह्न 12.00 PM 1.30 PM

दिन की रोग चौघड़िया ------ अपराह्न 3.00 PM 4.30 PM

दिन की उद्बेग चौघड़िया ----- सायं काल 4.30 PM 6.00 PM

आज की रात्रि की अशुभ चौघड़िया Forward ImageForward Image

रात्रि की रोग चौघड़िया ----- रात्रि 10.30 PM 12.00 AM

रात्रि की काल चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 12.00 AM 1.30 AM

रात्रि की उद्बेग चौघड़िया ---- मध्य रात्रि 3.00 AM 4.30 AM प्रात: काल



Kalash One Image पौष / पूस माह (दिसम्बर-जनवरी) में धनिया का सेवन नहीं करना चाहिए ।
Kalash One Image इस माह में तिल का सेवन विभिन्न रूपों में अधिक से अधिक करें ।

pandit-ji

पं मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Loading...



तो देखा आपने ईश्वर पर पूर्ण श्रद्धा और विश्वास रखते हुए बस अपने कार्यों को बतलाये गए समय के हिसाब से करने कि कोशिश करें आपको अवश्य ही अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे ।


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।

आज के शुभ , अशुभ मुहूर्त

budhar-war-ka-panchag

दोस्तों क्या आप जानते है कि यदि आपको प्रतिदिन के शुभ अशुभ समय का पूर्व में ही पता लग जाये तो आपके कितने काम आसानी से बन सकते है …. अगर नहीं जानते है तो अवश्य ही विजिट करें