Memory Alexa Hindi

अमावस्या के अचूक उपाय

amavasya-ke-achuk-upay

अमावस्या के अचूक उपाय

amavasya-ke-achuk-upay

अमावस्या के अचूक उपाय
Amavasya ke achuk upay


amavasya-ke-achuk-upay


ज्योतिष शास्त्र / तन्त्र शास्त्र के अनुसार अमावस ( amavas ) / अमावस्या ( amavasya ) की तिथि अत्यंत महत्वपूर्ण होती है । इस दिन किये गए उपाय बहुत प्रभावशाली और शीघ्र फलदायी होते है।
इसमें भी फाल्गुन कृष्ण पक्ष की अमावस्या जो महा शिवरात्रि के ठीक अगले दिन पड़ती है को तंत्र शास्त्र में बहुत विशेष माना गया है। मान्यता है कि फाल्गुन अमावस्या के दिन किये गए उपाय अति शीघ्र इच्छित परिणाम देते है।
अमावस्या में किये जाने वाले उपाय बिलकुल चुपचाप और पूर्ण विश्वास से करने चाहिए ।
जानिए अमावस्या के उपाय ( Amavasya ke upay ), अमावस्या के अचूक उपाय ( Amavasya ke achuk upay )

Om Sign अमावस्या ( Amavasya ) के दिन एक सूखा नारियल (गरी गोला) लेकर उसमे एक छेद करके उसे बूरा चीनी ( महीन चीनी ) से भर दें, फिर उसे किसी निर्जन स्थान पर पेड़ के नीचे जहाँ पर चीटियाँ हो वहां पर गाढ दे यह ध्यान रखे की नारियल का खुला हिस्सा धरती के उपर ही रहें, इसके बाद वापिस मुड कर न देखें। यह बहुत ही अमोघ उपाय है, इस उपाय से विपत्तियाँ दूर रहती है, सुख - समृद्धि , हर्ष एवं यश की प्राप्ति होती है।

Om Sign अमावस्या ( amavasya ) के दिन काले कुत्ते को कड़वा तेल लगाकर रोटी खिलाएं। इससे ना केवल दुश्मन शांत होते है वरन आकस्मिक विपदाओं से भी रक्षा होती है ।

Om Sign अमावस्या ( amavasya ) के दिन अपने घर के दरवाजे के ऊपर काले घोड़े की नाल को स्थापित करें। ध्यान रहे कि उसका मुंह ऊपर की ओर खुला रखें। लेकिन दुकान या अपने आफिस के द्वार पर लगाना हो तो उसका खुला मुंह नीचे की ओर रखें। इससे नज़र नहीं लगती है और घर में स्थाई सुख समृद्धि का निवास होता है ।

Om Sign अमावस्या ( amavasya ) की तिथि को कोई भी नया कार्य, यात्रा, क्रय-विक्रय तथा समस्त शुभ कर्मों को निषेध कहा गया है, इसलिए इस दिन इन कार्यों को नहीं करना चाहिए ।

Om Sign अमावस्या ( amavasya ) के दिन क्रोध, हिंसा, अनैतिक कार्य, माँस, मदिरा का सेवन एवं स्त्री से शारीरिक सम्बन्ध, मैथुन कार्य आदि का निषेध बताया गया है, जीवन में स्थाई सफलता हेतु इस दिन इन सभी कार्यों से दूर रहना चाहिए ।

वैसे तो सभी अमावस्या (amavasya) का महत्व है लेकिन सोमवार एवं शनिवार को पड़ने वाली अमावास्या विशेष रूप से पवित्र मानी जाती है। इसके अतिरिक्त मौनी अमावस्या और सर्वपितृ दोष अमावस्या अति महत्वपूर्ण मानी गयी है।

Published By : Memory Museum
Updated On : 2018-02-15 01:42:55 PM



bipin-panday-ji

डा० उमाशंकर मिश्र ( आचार्य जी )



Loading...


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।

अमावस्या के अचूक उपाय

amavasya-ke-achuk-upay

अमावस्या के अचूक उपाय

amavasya-ke-achuk-upay