Memory Alexa Hindi

छठ पूजा विशेष

chhath-pooaja-vishesh

छठ पूजा विशेष

chhath-pooaja-vishesh

om छठ पूजा om
om chhath pooja om


chhath-parvi

om छठ पूजा विशेषom
om chath pooja vishesh om


वर्ष 2017 में छठ पूजा chath pooja का पर्व मंगलवार, 24 अक्टूबर से शुरू हो रहा है। दिवाली के बाद आने वाला छठ पर्व कार्तिक शुक्ल पक्ष की चर्तुथी से शुरू होकर सप्तमी को प्रात: संपन्न होता है । 2017 का छठ इस मायने में भी विशेष है क्योंकि इस दिन 34 साल बाद एक महासंयोग बना है।

आचार्य मुक्तिनारायण पाण्डेय के अनुसार, इस बार छठ पूजा के पहले दिन रवियोग बना रहा है। आचार्य जी के अनुसार रवियोग में छठ पूजा शुरू होना भक्तो के लिए परम फलदाई है। चार दिनों तक चलने वाला यह पर्व 24 अक्टूबर मंगलवार को नहाय खाय से प्रारम्भ होगा। इसके बाद 25 अक्टूबर को खरना, 26 अक्टूबर को साँय का अर्ध्य और 27 अक्टूबर को सूर्य देव को प्रात: अर्ध्य देकर इस पर्व का समापन हो जायेगा ।

om भगवान सूर्य की शक्तियों का प्रमुख श्रोत उनकी पत्नी ऊषा और प्रत्यूषा हैं। छठ पर्व chath parv में में सूर्य के साथ-साथ दोनों देवियों की शक्तियों की भी संयुक्त आराधना होती है।

om प्रात:काल में सूर्य की पहली किरण (ऊषा) और सायंकाल में सूर्य की अंतिम किरण (प्रत्यूषा) को अर्घ्य देकर दोनों का नमन करते हुए उनका आशीर्वाद लिया जाता है।

om छठ पूजा का शुभ मुहूर्त om
om Chhath Pooja ka shubh muhurat om


om चतुर्थी तिथि को नहाय-खाय के दिन सूर्योदय - प्रात: 06:41 बजे
सूर्यास्त- सांय 05:43 बजे

omपंचमी तिथि को सूर्योदय - प्रात: 06:27 बजे
सूर्यास्त- 05:43 बजे शाम

om षष्ठी तिथि को सूर्योदय -प्रात: 06:29 बजे
सूर्यास्त- सांय 05:41 बजे

om सप्तमी तिथि को ऊषा अर्ध्य, सूर्योदय - प्रात: 06:29 बजे
सूर्यास्त- सांय 05:40 बजे

om छठ पर्व में इन चीजों को अवश्य ही ही होना चाहिए om


om छठ पूजा Chath pooja में बांस की टोकरी / सूप और डाला का विशेष महत्व होता है। इसमें अर्घ्य का सामान पूजा स्‍थल तक लेकर जाते हैं और भेंट करते हैं।

om छठ पूजा Chath pooja में गुड़ और गेहूं के आटे से बना ठेकुआ का विशेष स्थान है। इसके बिना पूजा अधूरी मानी जाती है।

om छठ पूजा Chath pooja में ईख अर्थात गन्ना पूजा में प्रयोग किया जाना वाला प्रमुख सामग्री होता है। गन्ने से अर्घ्य द‌िया जाता है और गन्ने से ही घाट पर घर भी बनाया जाता है।

om छठ पूजा में केला का प्रसाद अनिवार्य रूप से रखा जाता है। इसके साथ शुभता के लिए नारियल भी चढ़ाया जाता है।

om अर्घ्य में उपयोग किये गए समानो का भी बहुत महत्व है om


om छठ पूजा में अर्घ्य में उपयोग किये गए समानो का भी बहुत महत्व है , इन सामानो के बिना पूजा संपन्न नहीं मानी जाती है

om अर्ध्य में नए बांस से बनी सूप और डाला का उपयोग किया जाता है, मान्यता है कि सूप से वंश में वृद्धि और वंश की रक्षा होती है।

om अर्घ्य में ईख का उपयोग भी किया जाता है, ईख आरोग्यता का प्रतीक है।

om अर्घ्य में प्रयोग होने वाला ठेकुआ समृद्धि का प्रतीक माना गया है।

om अर्घ्य में जो भी मौसमी फल प्रयोग में लाये जाते है वह मौसमी फल ,शुभ फल प्राप्ति के सूचक हैं।




pandit-ji

आचार्य मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Loading...


दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं .....धन्यवाद ।

छठ पूजा विशेष

chhath-pooaja-vishesh

छठ पूजा विशेष

chhath-pooaja-vishesh