Home Hindi घरेलु उपचार आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय, Ankhon ki roshni badhane ke upay,

आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय, Ankhon ki roshni badhane ke upay,

361
eyes

आँखों की रौशनी बढ़ाने के उपाय, Ankhon ki roshni badhane ke upay,

ईश्वर की बनायी गयी इस दुनिया को देखने का माध्यम केवल हमारी ऑंखें ही है और इनको उम्र के पड़ाव के साथ देखभाल की भी नितांत आवयकता होती है क्योंकि बढ़ती उम्र के साथ हमारी आँखों के चारो तरफ की मांसपेशियां ढीली पड़ने लगती है और हमारी आँखें कमजोर हो जाती है।
आंखों की रौशनी Ankhon ki roshni हमारे आहार और जीवनशैली पर भी निर्भर करती है।

हम यहाँ पर आपको आँखों की देखभाल ( Ankhon ki Dekhbhal ) और आखों की रौशनी कैसे बढाएं ( Ankhon ki Roshni kaise badhayen ) इसके कुछ आसान से उपाय बता रहे है, जानिए आंखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय ( Aankhon ki Roshni Badhane ke upay ) ।

आँखों की रौशनी बढ़ाने के उपाय, Ankhon ki roshni badhane ke upay


* आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए ( Ankhon ki roshni badhane ke leye ) रात को भोजन करने के बाद दांतों को अच्छे से साफ़ कर लें |
नित्य सुबह जब भी उठे सबसे पहले बिना कुल्ला किये अपनी बासी थूक को आँखों के अंदर नीचे की तरफ काजल की तरह लगायें फिर 4-5 मिनट तक आँखों को आराम से बंद रखे |

इसे नियमित रूप से करते रहने से आँखों की रौशनी Ankhon ki roshni बढ़ती है , धुँधला पन दूर होता है। ऐसा लगातार 6 महीने करते रहने पर चश्मे का नंबर कम हो जाता है, चश्मा उतर भी जाता है।

क्लिक करें:- कैसी भी बवासीर की परेशानी से निजात पाने के लिए इस साइट पर दिए गए उपचारों को अवश्य ही जानिए ।

* आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए ( Ankhon ki roshni badhane ke leye ) सुबह उठकर मुहँ में पानी भरकर आँखें खोलकर साफ पानी के छीटें आँखों में मारने चाहिए इससे नेत्र ज्योति ( Netr Jyoti ) / आँखों की रौशनी Ankhon ki roshni बढ़ती है ।

* 150 ग्राम बादाम, 150 ग्राम सौंफ और 150 ग्राम ही मिश्री लेकर इसे पीस कर किसी काँच या चीनी मिटटी के मर्तबान में रख लें फिर प्रतिदिन रात को सोने से लगभग 30 मिनट पहले एक चाय का चम्मच इस पाउडर का गुनगुने पानी के साथ सेवन करें ।

ऐसा लगातार 3 माह तक लेने से आँखों की रोशनी बहुत बढ़ जाती है, दिमाग तेज होता है , स्मरण शक्ति बढ़ती है और चेहरे पर चमक भी आती है ।
इस पाउडर को गुनगुने पानी के साथ लेने के बाद फिर कुछ भी ना खाएं पिएं ।

* हरे धनिये को धोकर अच्छी तरह से साफ कर लें । फिर इसको पीस कर इसके रस की दो दो बूंदे सुबह शाम आँखों में डालने पर आँखों की रौशनी बढ़ती है ।
इस उपाय को लगातार करने से आँखों का चश्मा तक उतर जाता है ।

* आँखों की रौशनी बढ़ाने के लिए एक बूंद शहद में एक बूंद प्याज का रस मिलाकर इसे अपनी हथेली पर रगड़ लें। इसे सोने से पहले अपनी आंखों में काजल की तरह लगाएं।

* एक चम्मच गाय का घी, आधा चम्मच शक्कर और दो काली मिर्च का चूर्ण मिला कर इसे रोज सुबह खाली पेट लें इससे आँखों की रौशनी बढ़ जाती है ।

अवश्य पढ़ें :- जानिए वास्तु शास्त्र के अनुसार कैसा रहना चाहिए आपका बाथरूम, अवश्य जानिए बाथरूम के वास्तु टिप्स

* प्रातः खाली पेट आधा चम्मच ताजा मक्खन, आधा चम्मच पसी हुई मिश्री और 5 पिसी काली मिर्च मलाकर चाट लें, इसके बाद कच्चे नारीयल की गिरी के 2-3 टुकड़े खूब चबा-चबाकर खाये और ऊपर से थोड़ी सौंफ चबाकर खा लें फिर दो घंटे तक कुछ भी न खाये।
यह क्रिया 2-3 माह तक जरूर करिये । इससे आखों की रोशनी तेज ( ankhon ki roshni tej ) होती है ।

* आँखों को आंवले के पानी से धोने तथा आँखों में गुलाबजल डालने से आँखों की रौशनी बढ़ती है।

* बालों पर रंग, हेयर डाई और केमीकल शैम्पू लगाने से परहेज करें ।

* रात को 1 चम्मच त्रिफला मिट्टी के बर्तन में भिगाकर सुबह छाने हुए पानी से आँखें धोयें। इससे आँखों की रोशनी बढ़ती है और कोई बीमारी भी नहीं होती है।

* प्रातःकाल सूर्योदय से पहले नियमित रूप से हरी घास पर 15-20 मिनट तक नंगे पैर टहलना चाहए। घास पर ओस की नमी रहती है नंगे पैर इस पर टहलने से आँख को तनाव से राहत मिलती है । और आखों की रौशनी भी बढ़ती है ।

* आँखों की रौशनी बढ़ाने के लिए प्रतिदिन रात में सोते समय देशी घी से कनपटी की मालिश करें। इस उपाय को लगातार करने से आँखों की रौशनी बढ़ती है । ऐसा लगातार 6 माह तक करने से आँखों का चश्मा भी उतर जाता है ।

अवश्य पढ़ें :- इन उपायों से जानलेवा कोरोना वाइरस रहेगा दूर, कोरोना का जड़ से होगा सफाया,

आँखों की रोशनी, Ankhon ki roshni, आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय, Ankhon ki roshni badhane ke upay, आँखों की रोशनी कैसे बढ़ाएं, Ankhon ki roshni kaise badayen, आँखों की रोशनी कैसे तेज करें, Ankhon ki roshni kaise tej karen, आँखों की रोशनी तेज करने के उपाय, Ankhon ki roshni tej karen ke upay,

इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »