Sunday, October 2, 2022
Home Hindi घरेलु उपचार गंजेपन के घरेलु उपाय, ganjepan ke gharelu upay,

गंजेपन के घरेलु उपाय, ganjepan ke gharelu upay,

गंजेपन के घरेलु उपाय, Ganjepan ke gharelu upay,

वर्तमान समय में तेजी से बदलती जीवन शैली और अनियमित खान पान कारण स्त्री पुरुषों दोनों में ही गंजेपन Ganjepan की समस्या बढ़ती ही जा रही है।
आम तौर पर किसी भी सेहतमंद व्यक्ति के 50 से 100 बाल प्रतिदिन झड़ते हैं लेकिन अगर उसके बाल रोजाना 100 से अधिक झड़ते हैं और नए बाल तेजी से नहीं उगते है और जो उगते है वह कमजोर होते है तो यह गंजेपन का लक्षण ( ganjepan ka lakshan ) हो सकता हैं ।

गंजापन ( Ganjapan ) अधिकतर पुरुषों में ज्यादा होता है । पुरुषों में आमतौर पर गंजेपन ( Ganjepan ) के लिए मेल हार्मोन को जिम्मेदार मानते है। शायद यही वजह ​है महिलाओं में गंजापन बहुत ही कम होता है।
गंजापन ( Ganjapan ) अनुवांशिक भी होता है और पीढ़ी दर पीढ़ी भी इसका असर रहता है। यहाँ पर हम आपको कुछ घरेलू नुस्खे बता रहे है जिसके जरिए गंजेपन के असर को कम कर सकते है ।
और यदि आप इन उपचारो को समय रहते कर लें तो आप अपने बालों को मजबूत करके गंजेपन Ganjepan को रोक भी सकते हैं।

गंजेपन के कारण, Ganjepan ke karan,

गंजेपन के कारण ( Ganjepan ke karan ) कई हो सकते है। जैसे :—-

  • किसी बीमारी या किसी दवा के दुष परिणामो के कारण
  • शरीर में विटामिन की कमी के कारण
  • बालो को प्रतिदिन शैंपू या साबुन से धोना
  • आनुवंशिक कारणों या उम्र बढ़ने के कारण
  • पिट्यूटरी ग्लैंड में हार्मोन्स की कमी के कारण
  • शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण
  • बालो की जड़ो का कमजोर हो जाने के कारण
  • सर में अधिक रुसी होने कर कारण
  • लगातार सर दर्द के कारण सर में रक्त संचार का सही ना होना
  • गंभीर रूप से बीमार पड़ने या बुखार होने के कारण
  • भावनात्मक या शारीरिक तनाव के कारण
  • केमोथेरेपी या अत्यधिक विटामिन ए के कारण
  • सुगंधित एवं तेज शैम्पू / तेल के दुष प्रभावों के कारण
  • बालों को बहुत ज्यादा कलर या डाई करने के कारण
  • दाद, एक्जिमा, और सर पर सफ़ेद दाग के कारण
  • धूम्रपान के दुष प्रभावों के कारण
  • प्रदूषित वातावरण, बालों का लम्बे समय तक गंदे रहने के कारण

यह सब कुछ प्रमुख कारण है जिनकी वजह से बाल तेजी से गिरते है और गंजेपन की समस्या ( Ganjepan ke samasya ) होती है ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

रत्नो का मेल

रत्नो का आपसी सम्बन्धरत्न हम मनुष्यों को आदि काल से ही अपनी तरफ आकर्षित करते रहे है...

What is Bhadra

Vighn kaarak Bhadra in the month of NovemberBhadra ,As per the Hindu scriptures, when embarking on any...

सूर्य ग्रहण का महत्व, suryagrahan ke mahtv,

सूर्य ग्रहण का महत्व, suryagrahan ke mahtv,सूर्य ग्रहण ( Surya grahan ) एक...

दिल की बीमारी के उपाय, Dil Ki Bimari ke Upay,

दिल की बीमारी के उपाय, Dil Ki Bimari ke Upay,भारत में हार्ट अटैक या दिल की बिमारियों से...
Translate »