Monday, March 1, 2021
Home Hindi घरेलु उपचार सर्दी जुकाम के उपाय, sardi jukham ke upay,

सर्दी जुकाम के उपाय, sardi jukham ke upay,

सर्दी जुकाम के उपाय, sardi jukham ke upay,

जब हमारा शरीर मौसम के अनुसार एडजस्ट नहीं करता है तो हम मौसमी रोगों के शिकार हो जाते है। मौसम के बदलाव के दौरान व्यक्ति का शरीर वातावरण में हो रहे बदवाल को नहीं झेल पाता है और सर्द-गर्म के असर से सर्दी जुकाम, Sardi jukham से ग्रसित हो जाता है|

सर्दी जुकाम, Sardi jukham की शुरुआत नाक से होती है पर धीरे-धीरे इसका असर पूरे शरीर पर होने लगता है। जुकाम की कोई चिकित्सा नहीं है। इस स्वतः कम होने वाली बीमारी में घरेलू चिकित्सा ज्यादा उपयोगी होती है।
यहाँ पर हम कुछ घरेलू सर्दी जुकाम के उपाय, sardi jukham ke upay, बता रहे हैं…

जानिए, सर्दी जुकाम, Sardi jukam, सर्दी जुकाम के उपाय, Sardi jukam ke upay, सर्दी जुक़ाम के उपचार, sardi jukham ke upchar, सर्दी जुकाम इलाज, Sardi jukam ka ilaj, सर्दी जुकाम की दवा, Sardi jukam ki dava,

सर्दी जुकाम के उपाय, sardi jukham ke upay,

* जब कभी आपके गले में खराश हो और आपकी नाक सर्दियों में बंद हो जाए, तो एक गिलास गर्म पानी में चुटकी भर नमक डालकर गरारे करें। इसे आपका गला साफ होगा और यह वायरस को दुबारा आपके शरीर में प्रवेश करने से रोकता है।

* शहद के साथ अदरक का सेवन सुबह शाम करने से भी सर्दी जुकाम में जल्दी आराम मिलता है।

अवश्य पढ़ें :- चेहरे से कील मुहाँसे हटाने हो तो तुरंत करें ये उपाय, कील मुहांसों को जड़ से हटाने के अचूक उपाय,

* तीन चार काली मिर्च को पीसकर उसमे थोड़ी से पिसी हींग मिलाकर उसे गुड़ की छोटी डली के बीच में भरकर उसकी गोली बना ले। फिर सुबह शाम इस मिश्रण की गोली का सेवन करें । इस उपाय से सर्दी, जुकाम, बंद नाक, बदन दर्द, कफ आदि में शीघ्र ही राहत मिलती है ।

* सर्दी जुकाम Sardi Jukam होने पर रात को सोते समय दोनों कानो में राई के हल्के गर्म तेल की तीन चार बूंदे डालकर कानो को रुई के फाहों से बंद कर दें इससे जुकाम जल्द ही भाग जाता है ।

* दालचीनी और जायफल को बराबर बराबर मात्रा में लेकर उसे सिलबट्टे पर पीसकर सुबह शाम चाटे, इससे जुकाम में बहुत फायदा होता है और जुकाम लौट कर भी नहीं आता है ।

* जुकाम Jukham और कफ में सुबह शाम गुनगुने पानी से अजवाइन की फंकी लेने से जुकाम में शीघ्र ही राहत मिलती है ।

* जुकाम jukham होने पर 4-5 काली मिर्च को पीस कर सेंधा नमक के साथ दिन में 3 बार गुनगुने पानी से लेनें से भी जुकाम में शीघ्र राहत मिलती है ।

अवश्य पढ़ें :- बी पी हाई रहता हो तो ना हो परेशान, इन उपायों से बी पी की समस्या निश्चित रूप से होगी दूर

* हरी मिर्च को पीस कर उसमें थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाकर उसका रोटी के एक कौर के साथ सेवन करें । हरी मिर्च के असर से तुरंत आँखों से पानी बहने लगेगा और उसकी त्रीवता से गला साफ हो जायेगा, क्फ भी निकल जाता है । ( यह प्रयोग आजकल विदेशो में डाक्टर भी करने लगे है । )

* जुकाम Jukam में गाँवों का एक बहुत पुराना और कारगर नुस्खा है । हींग को गाड़ा घोल कर उसे बार बार सूँघने से छाती और नाक में जमा बलगम आसानी से बहकर निकल जाती है ।

* हींग के घोल को नाक और छाती के पास एवं पैरो के तलुओ में मलें । इससे बंद नाक आसनी से खुल जाती है, बलगम भी जमा नहीं होती है जुकाम में बदन दर्द में भी बहुत आराम मिलता है ।

* किसी सटीम वेपराईज़र से ली गई भाप बंद नाक और बलगम से राहत दिलाएगी। अगर, आपके पास सटीम इंहेलर नहीं है, तो आप केतली में गर्म पानी डालकर भी भाप ले सकते हैं।

* हल्‍दी को यदि गर्म दूध के साथ किया जाए, तो यह कफ हटाती है और जुकाम Jukham में भी बहुत राहत पहुंचाती है।


* एक कप अदरक, तुलसी,पुदीने और कालीमिर्च वाली गर्म चाय, सर्दी से राहत पाने का असरदार घरेलू नुस्खा है।

* किशमिश को पीस कर पानी के साथ पेस्ट बना लें। इसमें चीनी डाल कर उबालें और ठंडा होने के लिए छोड़ दें। रोज रात में सोने से पहले इसको लेने से सर्दी जुकाम में राहत मिलती है।

* जुकाम के इलाज Jukam ke ilaj में हल्दी काफी फायदेमंद है। बहती नाक को रोकने के लिए हल्दी को जलाकर इसका धुआं लें, इससे नाक से पानी बहना तेज हो जाएगा व तत्काल आराम मिलेगा।

* इमली और काली मिर्च से बनाया जाने वाला दक्षिण भारतीय सूप “रसम” को गर्म-गर्म पिएँ, क्योंकि ये आपके शरीर में मौजूद अनावश्यक विषैल पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। इससे जुकाम में बेहद लाभ मिलता है।

अवश्य पढ़ें :- मधुमेह से है परेशानी तुरंत करें ये उपाय, मधुमेह से मिलेगा छुटकारा,

* यदि नाक बंद है तो दालचीनी, कालीमिर्च, इलायची और जीरे को बराबर मात्रा में लेकर एक सूती कपड़े में बांध लें और इन्हें बार बार सूंघें जिससे छींक आएगी और बंद नाक भी खुल जाएगी ।

* लहसून की कलियों को उबालकर बनाया जाने वाला लहसून के सूप के सेवन से सर्दी जुकाम में शीघ्र ही लाभ मिलता है।

* सर्दी जुकाम Sardi jukam में तुलसी बहुत कारगर है । आप चाहें तो तुलसी के पत्तों को चबाकर खाएं या फिर पानी में उबाल कर काढ़ा बना कर पीएं दोनों ही तरीके से फ़ायदा होता है।

* 10 ग्राम गेहूं की भूसी, पांच लौंग और थोड़ा नमक लेकर उसे पानी में मिलाकर उबाल कर काढ़ा बनाएं। दिन में 2 बार एक कप काढ़ा पीने से लाभ मिलता है ।

* विटामिन सी सर्दी के उपचार में काफी लाभदायक है। एक गिलास गर्म पानी में नींबू के रस के साथ एक चमच शहद मिलाकर पिएँ। इस में भरपूर मात्रा में मौजूद विटामिन सी हमारे शरीर में प्रतिरोधक क्षमता को बढते हैं।

* खजूर की तासीर गर्म होने के कारण इसे सर्दियों के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। खजूर को दूध के साथ उबाल कर पीजिए इससे ठंड में काफी राहत मिलती है।

* यदि जुकाम Jukam में नाक बहती हो, बंद हो, कफ बलगम जमा हो जाये तो सुबह शाम दो बार, पाँच छह खजूर खाने के बाद उसके ऊपर से एक गिलास गर्म पानी पियें, इससे सारी कफ, बलगम बाहर निकल जाती है फेफड़े साफ होते है और शरीर में स्फूर्ति भी आती है।

अवश्य पढ़ें :- जानिए वास्तु शास्त्र के अनुसार कैसा रहना चाहिए आपका बाथरूम, अवश्य जानिए बाथरूम के वास्तु टिप्स

* बार-बार हाथ धोना जुकाम से बचने का सर्वोत्तम उपाय है । इससे संक्रमित वस्तुओं को छूने से हाथ में आये वायरस समाप्त हो जाते हैं ।

* आपके परिवार में यदि किसी को जुकाम होतो एक दूसरे के बर्तन का उपयोग न करें, यदि संभव हो सके तो डिस्पोसेबल बर्तनों का ही उपयोग करें ।

सर्दी जुकाम, Sardi jukam, सर्दी जुकाम के उपाय, Sardi jukam ke upay, सर्दी जुक़ाम के घरेलू उपचार, sardi jukham ke gharelu upchar, सर्दी जुकाम इलाज, Sardi jukam ka ilaj,

इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शुगर का उपचार, Sugar ka upchar,

शुगर का इलाज, sugar ka ilaj,शुगर, Sugar, मधुमेह, Madhumeh, डायबिटीज, diabetes, बहुत सी बिमारियों का जनक...

सूर्य ग्रहण का प्रभाव, Sury grahan ka prahav,

सूर्य ग्रहण का प्रभाव, Sury grahan ka prahav,ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रहण का बहुत बड़ा महत्त्व माना...

बसंत पंचमी का महत्व | बसंत पंचमी कैसे मनाएं

माघ शुक्लपक्ष पंचमी के दिन वसंत पंचमी Basant Panchmi बड़े ही हर्ष एवं उल्लास के साथ मनाया जाता है । हिन्दू धर्म...

राहु काल क्या है

भारतीय ज्योतिष शास्त्र में हर शुभ कार्य के लिए मुहूर्त देखने की परम्परा है। माना जाता है की शुभ मुहूर्त में...
Translate »