Monday, June 14, 2021
Home Hindi घरेलु उपचार थायरॉइड में सावधानियाँ

थायरॉइड में सावधानियाँ

खानपान में रखे सावधानियाँ
Khanpaan me rakhe savdhaniya

hand logo सोया एवं इससे बने अन्य पदार्थों को थायराइड की समस्या ( thyroid ki samasya ) के लिए सबसे बड़ा कारण माना गया है, शोधो से यह सिद्ध हो गया है कि थायरायड से सम्बंधित समस्याओं के लिए सोया से बने पदार्थ, सोया-मिल्क का ज्यादा सेवन एक बड़ा कारण हैं। अत: थाइराइड के मरीज को सोया के पदार्थों से बिलकुल दूरी बना लेनी चाहिए ।

hand logo थायराइड ( thyroid ) के मरीजों को ज्यादा तली-भुनी चीजें, चाय, कॉफी, मैदा, चीनी, सिगरेट, शराब एवं डिब्बाबंद खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए।

hand logo थायराइड ( thyroid ) के रोगियों को धूम्रपान से बिलकुल दूर रहना चाहिए । धूम्रपान उन लोगो के लिए जहर के समान है । सिगरेट के धुएं में पाया जानेवाला थायोसायनेट थायराइड ग्रंथि को बहुत नुकसान पहुँचाता है अत: ना केवल खुद ही धूम्रपान से बचे वरन जो लोग धूम्रपान करते है अथवा जिस जगह ज्यादा धूम्रपान किया जाता है ऐसी जगह से भी दूरी ही बनाये रखें ।

hand logo थायराइड ( thyroid ) के मरीजों को ज्यादा शारीरिक श्रम, और तनाव से दूर रहना चाहिए । इन लोगो को पर्याप्त नींद अवश्य ही लेनी चाहिए ।

hand logo थाइराइड ( thyroid ) के रोगी को फूलगोभी, ब्रोकली एवं पत्ता गोभी से भी परहेज करना चाहिए क्योंकि यह थायरायड हार्मोन्स के प्रोडक्शन पर प्रतिकूल असर डालते हैं।

hand logo थाइराइड की समस्या ( thyroid ki samasya ) झेल रहे लोगो को प्रतिदिन अदरक का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना चाहिए। अदरक में पोटेशियम और मैग्नीश्यिम प्रचुर मात्रा में होता है जिससे थायराइड की समस्या में बहुत ज्यादा लाभ मिलता है। अदरक ना केवल थायराइड को बढ़ने से रोकता है वरन वह उसकी कार्यप्रणाली को भी सुधारता है ।

hand logo थायराइड ( thyroid ) में आयोडीन की महत्वपूर्ण भूमिका होती है । आयोडीन पर थायरायड की कार्यकुशलता निर्भर रहती है ।शोधों से यह पता चला है कि थाइराइड का मूल कारण आयोडीन की कमी भी है । इसीलिए केवल आयोडाईज्ड नमक का ही सेवन करना चाहिए ।

hand logo थाइराइड ( thyroid ) होने पर विटामिन – डी का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए । ऑटोइम्यून समस्या के कारण कम थायरोक्सिन बनना या

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शनिवार के शुभ अशुभ मुहूर्त, Shaniwar Ke Shub Ashubh Muhurt,

Shaniwar Ke Shub Ashubh Muhurt, शनिवार के शुभ अशुभ मुहूर्त,आज का शुभ मुहूर्तAaj Ka Shubh Muhurt

पथरी क्या है, pathri kya hai,

पथरी क्या है, pathri kya hai,पथरी ( Pathri ) अर्थात किडनी में स्‍टोन ( Kidney Me Stone )...

ऑफिस का वास्तु | ऑफिस का वास्तु टिप्स

कार्यालय के वास्तु के अचूक उपायkaryalaya Ke Vastu ke upayआजकल कड़ी प्रतिस्पर्धा का जमाना है । लोग...

होलिका दहन कैसे करें, Holika dahan kaise karen,

holika dahan kaise karen, होलिका दहन कैसे करें,होली हिंदुओं का अत्यंत प्रमुख पर्व...
Translate »