Tuesday, December 1, 2020
Home Hindi घरेलु उपचार उल्टी दस्त के घरेलु उपचार

उल्टी दस्त के घरेलु उपचार


उल्टी दस्त के घरेलु उपचार
Ulti Dast Ke Gharelu Upchar

घर के किसी भी छोटे बड़े सदस्य को उल्टी एवँ दस्त ( dast ) किसी भी वजह से हो सकते हैं जिनमें से बदहजमी सबसे मुख्य है। कभी-कभी सर्दी या गर्मी लगने, दूषित खानपान से भी उल्टी और दस्त ( dast ) की समस्या हो जाती है ।

hand logo उल्टी ( Ulti ) होने पर नीँबू का रस पानी में घोल कर लेने से शीघ्र ही फायदा होता है ।

hand logo आप एक दो लौंग, दालचीनी या इलायची मुहँ में रखकर चूसिये यह मसाले उल्टियाँ विरोधक औषधियों होने के कारण उल्टियाँ रोकने में बहुत ही मददगार साबित होते है।

hand logo तुलसी के पत्तों का एक चम्मच रस शहद के साथ लेने से उल्टी ( Ulti ) में लाभ मिलता है ।

hand logo एक चम्मच प्याज का रस पीने से भी उल्टी ( Ulti ) में लाभ मिलता है ।

hand logo गर्मियों में यदि बार बार उल्टियाँ आती है तो बर्फ चूसनी चाहिए ।

hand logo पुदीने के रस को लेने से भी उल्टी ( Ulti ) में लाभ मिलता है ।

hand logo धनिये के पत्तों और अनार के रस को थोड़ी थोड़ी देर के बाद बारी-बारी से पीने से भी उल्टी ( Ulti ) रुक जाती है ।

hand logo 1/4 चम्मच सोंठ एक चम्मच शहद के साथ लेने से उल्टी ( Ulti ) में शीघ्र आराम मिलता है ।

hand logo नींबू का टुकड़ा काले नमक के साथ अपने मुंह में रखने से आपको उल्टी ( Ulti ) महसूस नहीं होती है, रुक जाती है ।

hand logo आधा चम्मच पिसे हुए जीरे का पानी के साथ सेवन करने से उल्टियों से शीघ्र छुटकारा मिलता है ।

hand logo एक गिलास पानी में एक चम्मच एप्पल का सिरका डालकर पियें उल्टी ( Ulti ) में तुरंत आराम मिलेगा ।

hand logo उल्टियाँ होने से 12 घंटो बाद तक ठोस आहार का सेवन न करें, लेकिन भरपूर मात्रा में पानी और फलों के रस का सेवन करते रहें।

hand logo तैलीय, मसालेदार, भारी और मुश्किल से पचनेवाले खाद्द्य पदार्थों का सेवन न करें इससे भी उल्टियाँ आती है ।

hand logo पित्त की उल्टी ( Ulti ) होने पर शहद और दालचीनी मिलाकर चाटें ।

hand logo हरर को पीसकर शहद के साथ मिलाकर चाटने से उल्टी ( Ulti ) बंद होती है|

hand logo खाना खाने के तुरंत बाद न सोयें। खाने के बाद टहलने की आदत डालें । जब भी सोयें तो अपनी दाहिनी बाज़ू पर सोयें। इससे आपके पेट के पदार्थ मुंह तक नहीं आयेंगे ।

hand logo दही, भात, को मिश्री के साथ खाने से दस्त ( dast ) में आराम आता है।

hand logo एक एक चम्मच अदरक , नीबूं का रस काली मिर्च के साथ लेने पर भी दस्त में आराम मिलता है ।

hand logo सौंफ और जीरे को बराबर-बराबर मिला कर भून कर पीस लें । इसे आधा-आधा चम्मच पानी के साथ दिन में तीन बार लेने से दस्तों में फायदा मिलता है ।

hand logo केले, सेब का मुरब्बा और पके केले का सेवन करें दस्त में तुरंत आराम मिलेगा ।

hand logo दस्त आने पर अदरक के टुकड़े को चूसे या अदरक की चाय पियें पेट की मरोड़ भी शांत होती है और दस्त में भी आराम मिलता है ।

hand logo दस्त रोकने के लिए चावल के माड़ में हल्का नमक और काली मिर्च डालकर उसका सेवन करें दस्त रुक जायेंगे ।

hand logo जामुन के पेड़ की पत्तियाँ पीस कर उसमें सेंधा नमक मिला कर 1/4 चम्मच दिन में दो बार लेने से दस्त रुक जाते है ।

hand logo दस्त आने पर दूध और उससे बनी हुई चीजों का सेवन कतई भी ना करें ।

hand logo दस्त आने पर दस्त के साथ शरीर के खनिज वा तरल पदार्थ बाहर निकलते है इनकी कमी पूरी करने के लिए O.R.S का घोल पियें ।

इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शरद पूर्णिमा, Sharad Purnima,

हिन्दु पंचांग के अनुसार हर मास की 15वीं तिथि है जिस दिन चंद्रमा आकाश में पूरा होता है पूर्णिमा purnima कहलाती है।...

Amavasya ke Mahatvapurn Upay, अमावस्या के महत्वपूर्ण उपाय,

अमावस्या के महत्वपूर्ण उपायAmavasya ke Mahatvapurn Upayहिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक मास के...

श्री सूक्त का पाठ|Shri Sukt ka path

हे माँ लक्ष्मी आप अपने भक्तो की समस्त मनोकामनाओं को पूर्ण करने की कृपा करें , उन्हें धन, यश, सुख-समृद्धि, ऐश्वर्य और...

navratri ki taiyari, नवरात्री की तैयारी,

नवरात्री की तैयारी, navratri ki taiyari,सभी हिन्दु धर्म ग्रंथो में नवरात्री की...
Translate »