Home Hindi गंभीर रोग मधुमेह के घरेलु उपचार, Madhumeh ke gharelu upchar,

मधुमेह के घरेलु उपचार, Madhumeh ke gharelu upchar,

1939
madhumeh-ke-gharelu-upchaar

डायबिटीज, Madhumeh ke upchar, मधुमेह के उपचार,

बदलता परिवेश और रहन-सहन शहर में मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) के मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा कर रहा है। खान-पान पर नियंत्रण न होना भी इसके लिए जिम्मेदार है। मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) के मरीज को सिरदर्द, थकान जैसी समस्याएं हमेशा बनी रहती हैं। मधुमेह Madhumeh में खून में शुगर ( sugar ) की मात्रा बढ जाती है।
ऐलोपैथिक में इसका कोई स्थायी इलाज नहीं मिल पाया है परन्तु आयुर्वेद के उपायों, जीवनशैली में बदलाव, शिक्षा तथा खान-पान की आदतों में सुधार द्वारा madhumeh, मधुमेह, डायबिटीज, को पूरी तरह नियंत्रित किया जा सकता है।


यहाँ मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) को नियंत्रण करने के ( diabetes treatment in hindi ) हम कुछ आसन से घरेलू उपाय बता रहे है।
जानिए मधुमेह madhumeh, शुगर, Diabetes, डायबिटीज, मधुमेह के उपाय, madhumeh ke upay, मधुमेह के उपचार, madhumeh ke upchar, डायबिटीज के उपाय, Diabetes ke upay, डायबिटीज के उपचार, Diabetes ke upchar,

मधुमेह के उपाय, Madhumeh Ke Upay,

मधुमेह madhumeh, शुगर, Diabetes, डायबिटीज, पर नियंत्रण रखने के लिए नित्य प्रात: बिना कुछ भी खाए गिलोय अथवा नीम की दातुन से अपने दाँत साफ करने चाहिए । दातुन करने की प्रकिया में जो भी रस निकले उसे थूकें नहीं वरन नगलते जाएँ । गिलोय एवं नीम का रस मधुमेह madhumeh, शुगर, Diabetes, डायबिटीज, में चमत्कार का काम करता है ।
इस छोटे से उपाय को अपनी दिनचर्या बनाने से जीवन में कभी भी मधुमेह madhumeh, शुगर, Diabetes, डायबिटीज, पास भी नहीं आएगी और जिन्हे है उनकी पूरी तरह से नियन्त्रण में रहेगी ।

hand-logo

10 मिग्रा आंवले के जूस को 2 ग्राम हल्दी के पावडर में मिला लीजिए। इस घोल को दिन में दो बार लीजिए। इससे खून में शुगर नियंत्रण ( Sugar Niyantran ) में रहती है।

hand-logo

लगभग एक महीने के लिए अपने रोज़ के आहार में एक ग्राम दालचीनी का इस्तेमाल करें, इससे ब्लड शुगर लेवल को कम करने के साथ वजन को भी नियंत्रण करने में मदद मिलेगी। यह मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) का अचूक उपचार है । ( madhumeh ka achuk upchar )

hand-logo

मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) को अपने से दूर रखने के सदैव एक उपाय करें। शोधो से यह पता चला है कि जिस घर में गेंहू के आटे में जौ और चने का आटा मिलाकर उसकी रोटी बनती है उस घर के सभी लोग निरोगी होते है, वहां पर मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) रोग का प्रवेश नहीं हो पाता है।

hand-logo

5 किलो आटे में एक एक किलो जौ और चने का आटा मिलाना चाहिए ।

hand-logo

मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) से दूर रहने का एक और अजमाया हुआ आसा उपाय है। जहाँ पर लोग सुबह खाली पेट हल्का गर्म पानी 3-4 गिलास पीते है, और हर बार खाने के थोड़ी देर बाद एक कप गर्म पानी चाय की तरह पीते है उस घर के लोगो को भी मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) का डर नहीं रहता है । यह मधुमेह का अचूक उपचार ( madhumeh ka achuk upchar ) है ।

hand-logo

मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) और दिल के मरीजो के रोगियों के लिए बहुत लाभकारी प्रयोग :-
अच्छी क्वालिटी के दो मुट्ठी साफ गेंहू को 10 मिनट तक पानी में उबालने के बाद उन्हें ठंडा होने पर किसी कपडे में रख कर उसको लगातार पानी में भिगो कर रखे ताकि वो अंकुरित हो सके। उबालने के बाद 10-15 प्रतिशत गेंहू में ही अंकुरित होने का सामर्थ्य बचा होगा ।
जब 4-5 दिन के बाद गेंहू में लगभग एक इंच तक लंबे अंकुर निकल आये तो उन्हें सिर्फ दो से तीन तक खाली पेट खाएं इससे मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जायेगा । इस प्रयोग को ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने बहुत से लोगो पर जांचा और ये अद्भुत उपाय जांच में बिलकुल सही साबित हुआ।

hand-logo

यदि इसे दो और दिन तक अर्थात लगातार 5 दिन तक खाया जाय तो हार्ट अटैक की सम्भावना भी बिलकुल नगण्य हो जाती है ।
इसे खाने के बाद एक घंटे तक कुछ भी ना खाएं ।

hand-logo

तुलसी के पत्तों में ऐन्टीआक्सिडन्ट और ज़रूरी तेल होते हैं जो इनसुलिन के लिये सहायक होते है । इसलिए शुगर लेवल को कम करने के लिए दो से तीन तुलसी के पत्ते को प्रतिदिन खाली पेट लें, या एक टेबलस्पून तुलसी के पत्ते का जूस लें। इससे मधुमेह में लाभ ( madhumeh me labh ) मिलता है

hand-logo

काले जामुन डायबिटीज की अचूक औषधि ( Diabetes Ki Achuk Aushadhi ) मानी जाती है। मधुमेह के रोगी ( Madhumeh ki rogi) को काले नमक के साथ जामुन खाना चाहिए। इससे खून में शुगर की मात्रा नियंत्रित होती है ।

hand-logo

करेले को मधुमेह की औषधि ( madhumeh ki aushadhi ) के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसका कड़वा रस शुगर की मात्रा कम करता है। अत: इसका रस रोज पीना चाहिए। उबले करेले के पानी से मधुमेह Madhumeh को शीघ्र स्थाई रूप से समाप्त किया जा सकता है।

hand-logo

मधुमेह के उपचार Madhumeh ke upchar के लिए मैथीदाने का बहुत महत्व है, इससे पुराना मधुमेह, Madhumeh ( शुगर, डायबिटीज ), Diabetes भी ठीक हो जाता है। मैथीदानों का चूर्ण नित्य प्रातः खाली पेट दो टी-स्पून पानी के साथ लेना चाहिए ।

hand-logo

काँच या चीनी मिट्टी के बर्तन में 5-6 भिंडियाँ काटकर रात को गला दीजिए, सुबह इस पानी को छानकर पी लीजिए। इससे मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) दूर होती है

hand-logo

मधुमेह, Madhumeh ( शुगर, डायबिटीज ), Diabetes मरीजो को नियमित रूप से दो चम्मच नीम और चार चम्मच केले के पत्ते के रस को मिलाकर पीना चाहिए।

hand-logo

ग्रीन टी भी मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) मे बहुत फायदेमंद मानी । जाती है ग्रीन टी में पॉलीफिनोल्स होते हैं जो एक मज़बूत एंटी-ऑक्सीडेंट और हाइपो-ग्लाइसेमिक तत्व हैं, शरीर इन्सुलिन का सही तरह से इस्तेमाल कर पाता है।

hand-logo

सहजन के पत्तों में दूध की तुलना में चार गुना कैलशियम और दुगना प्रोटीन पाया जाता है। मधुमेह madhumeh, शुगर ( Diabetes, डायबिटीज ) में इन पत्तों के सेवन से भोजन के पाचन और रक्तचाप को कम करने में मदद मिलती है। इसके नियमित सेवन से भी लाभ प्राप्त होता है ।

Published By : Memory Museum
Updated On : 2020-05-05 05:00:00 PM

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »