Home Hindi डेली टिप्स प्रभावित करने के उपाय

प्रभावित करने के उपाय

353
prabhavit-karne-ke-upay

प्रभावित करने के उपाय

प्रभावित करने के उपाय
Prabhavit karne ke upay


hand logo यदि आपको कोई शत्रु अनावश्यक परेशान कर रहा हो तो एक भोजपत्र का टुकड़ा लेकर उस पर लाल चंदन से उस शत्रु का नाम लिखकर उसे शहद की डिब्बी में डुबोकर रख दें। आपका शत्रु आपके अहित नहीं कर पाएगा ।

hand logo इसी तरह यदि आपको किसी के मन में अपने लिए जगह बनानी है तो आप सच्चे मन से भगवान श्री कृष्ण का नाम लेते हुए उस जातक का नाम एक भोजपत्र के टुकडे पर लाल चंदन से लिखकर उसे शहद की डिब्बी में डुबोकर उस शीशी को बंद कर दें और नित्य जब भी आपके पास समय हो आप उस जातक को याद करते हुए उस शीशी को अपने दाहिने हाथ से सहलाएँ । इससे वह जातक चाहे स्त्री हो या पुरुष आपके प्रति प्रेम भाव रखने लगेगा ।

hand logo मान्यता है कि बैजयंति माला धारण करने से शत्रु भी मित्रवत हो जाते हैं। भगवान श्री कृष्ण ने यह माला पहनी हुई थी और उन्हें यह अतिप्रिय थी व उनमें सारे जगत को मोहित करने की अद्भुत क्षमता भी थी।

अवश्य जाने :- घर का मुख्य द्वार होगा ऐसा तो होंगे सभी सपने पूरे, जानिए कैसा हो मुख्य द्वार का वास्तु
hand logo कई बार किसी स्त्री का पति किसी दूसरी और के प्रेम में फंस जाता है तो अपने घर को बचाने के लिए स्त्रियां यह प्रयोग करें । गुरुवार की रात 12 बजे पति के सर से थोड़े से बाल काटकर जला दें व बाद में उस राख को पैर से मसल दें इससे अवश्य ही पति जल्दी ही सुधर जाएगा।

hand logo शनिवार की रात्रि में 7 लौंग लेकर उस पर 21 बार जिसको अपने प्रभाव में करना हो उसका नाम लेकर फूंक मारें और अगले दिन रविवार को इनको आग में जला दें। यह प्रयोग लगातार 7 बार करने से अभीष्ट व्यक्ति आपकी बात माने लगता है । यह प्रयोग किसी बुरी भावना से अथवा किसी का अहित करने के लिए कदापि नहीं करना चाहिए ।

नोट :—इन प्रयोगो को उत्तर की ओर मुख करके मंत्र जप करने से सिद्धि प्राप्त होती है। इन प्रयोगो को सोमवार से आरंभ करने से सफलता मिलती है ।

यह प्रयोग दिवस के पहले प्रहर में, बसंत ऋतु में जो सूर्योदय से चार घंटे तक को माना जाता है में करना उत्तम रहता है। आकर्षण का प्रयोग नवमी, दशमी, एकादशी या अमावस्या को करना अत्यंत श्रेष्ठ रहता है ।
क्लिक करें:- अगर आपके ऑफिस का होगा ऐसा वास्तु तो धन की होगी वर्षा, जानिए कार्यालय का अचूक वास्तु
<< पिछले पेज पर जाएँ

दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यह साइट या इस साईट से जुड़ा कोई भी व्यक्ति, आचार्य, ज्योतिषी किसी भी उपाय के लिए धन की मांग नहीं करते है , यदि आप किसी भी विज्ञापन, मैसेज आदि के कारण अपने किसी कार्य के लिए किसी को भी कोई भुगतान करते है तो इसमें इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी । यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं …..धन्यवाद ।।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »