Monday, February 6, 2023
Home Hindi तिल विचार गोरे ,काले और साँवले का स्वभाव

गोरे ,काले और साँवले का स्वभाव

जानिए कैसा होता है गोरे, काले और सांवले रंग वाले लोगों का स्वभाव

भगवान ने प्रत्येक मनुष्य को एक दूसरे से बिल्कुल अलग बनाया है। प्रत्येक इंसान के चेहरा , कद-काठी बिल्कुल भिन्न होती है। यहां तक की उनकी त्वचा का रंग भी अलग होता है। किसी की त्वचा काली और किसी की गोरी होती है। अधिकांश लोगों की त्वचा का रंग सांवला ही होता है। मनुष्य के शरीर की प्रकृति, बनावट और रंग के आधार पर उसके स्वभाव व चरित्र के बारे में काफी कुछ जाना जा सकता है। इस विद्या को सामुद्रिक शास्त्र कहते हैं।

सामुद्रिक शास्त्र के विद्वानों के अनुसार शरीर के रंग के आधार पर भी मनुष्य के स्वभाव के बारे में जाना जा सकता है। स्थान, प्रकृति तथा अनुवांशिकता के अनुसार मनुष्य का शरीर मुख्य रूप से तीन रंगों का होता है, जिन्हें हम साधारण बोलचाल की भाषा में गोरा, गेहुंआ (सांवला) व काला कहते हैं। इनके आधार पर हम किसी भी मनुष्य के स्वभाव का आंकलन कर सकते हैं। जानिए किस रंग के लोग कैसे स्वभाव वाले होते हैं-

Black Girl

समुद्र शास्त्र के अनुसार काले रंग के लोगो कि सबसे बड़ी खासियत यह है कि सामान्यता यह पूर्ण स्वस्थ, दृढ़ परिश्रमी एवं साहसी होते है। यह कोई भी बड़ी से बड़ी चुनौती को स्वीकार कर लेते है लेकिन इनकी सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि यह तमोगुणी एवं क्रोधी होते हैं। यह लोगो पर अपना वर्चस्व स्थापित करना चाहते है। इनका बौद्धिक विकास कम होता है, यह शीघ्र उत्तेजित हो जाते है। ये हिंसक, कामी, हठी एवं आक्रामक तथा अपराधी प्रवृत्ति के होते हैं।ये सभी सामाजिक परंपराओं, संस्कारों एवं मर्यादाओं से दूर होते है। इनमें बदला लेने की भावना बहुत ज्यादा होती है। ऐसे लोगो को चाहिए कि वह क्रोध कम करेँ, रिश्तोँ को महत्व दे, अपने मस्तिष्क पर काबू रखें, ईश्वर की भक्ति एवं अपने माता पिता या किसी भी बड़े बुजुर्गों की सेवा अवश्य ही करे।

एकदम काले रंग की स्त्रियों के संबंध में समुद्र शास्त्र में वर्णन है कि अत्यधिक काले रंग के नेत्र, त्वचा, रोम, वाली स्त्रियॉं निम्न वर्ग में आती है। इस वर्ण की स्त्रियां स्वामी भक्त अपने बात की पक्की एवं निर्भिक होती है।यह रति में पूर्ण सहयोग और आनन्द देती हैं।यह परम विश्वसनीय, उत्तम मार्गदर्शिका और प्यार में बलिदान देने वाली होती हैं। इनके प्यार में धूप सी गर्मी व चंद्रमा सी शीतलता पाई जाती है। यह अपने प्रेम में अपने प्राण तक निछावर कर देती है ।

Fair Man

समुद्र शास्त्र के अनुसार गोरे रंग वाले लोग मृदु स्वभाव, बुद्धिमान, परिश्रमी, रजोगुणी,विद्धान और प्रकृति प्रेमी होते हैं। ऐसे लोग दिखने में सुंदर तथा आकर्षक होते हैं तथा सभी को अपनी ओर आकर्षित करने में सक्षम होते हैं। गोरे रंग के जातक धैर्यवान, सौम्य, गंभीर, एवं व्यवहार कुशल होते हैं।ऐसे जातक सच्चे प्रेमी और संकल्पवान होते है । यह किसी भी कार्य को करते है तो गंभीरता से ही करते है । ऐसे जातको का स्वास्थ्य जल्दी खराब हो सकता है, इन्हें पेट एवं रक्त संबंधी बीमारी अधिक होती है।

गोरे रंग वाली स्त्री जिसके लाल रंग के नाखून, गुलाबी त्वचा, गुलाबी होठ होते है वह सामान्यता ईश्वर मे आस्था रखने वाली, अपने माता पिता एवं पति के जीवन में सभी सुख संपत्ति लाने वाली अर्थात भाग्यशाली, धन-धान्य से युक्त, उदार एवं सौभाग्यवती होती है।ऐसी स्त्रियाँ अपने पति को प्रिय होती है, लेकिन हठी और किसी भी बात को हृदय से लगाने वाली होती है।ऐसी स्त्रियाँ काम क्रिया में जल्दी ही उदासीन हो जाती है और बहुधा शीघ्रता से ही किसी पर पुरुष के आकर्षण में भी आ जाती है। ऐसी स्त्रियों के साथ बहुत ही सावधानी से व्यवहार रखने वाला होता है क्योंकि यह जल्दी ही सम्बन्ध भी विच्छेद कर लेती है ।

समुद्र शास्त्र के अनुसार विश्व में सबसे ज्यादा सांवले रंग के लोग होते हैं।इनमें रजोगुण प्रधानता के साथ तमोगुण की हल्की सी प्रवृत्ति होती है। ऐसे जातक अस्थिर, परिश्रमी , सामान्य बुद्धि वाले, शांतप्रिय, गंभीर, सामान्य समृद्ध, सामान्य शिक्षा, अन्तर्मुखी तथा प्राय: उच्च मध्यम वर्ग के होते हैं।ऐसे जातकों का से लोग अपने परिवार के प्रति बहुत प्रेम रखते है । ऐसे जातक निस्वार्थ भाव से लोगो की मदद के लिये सदैव तैयार रहते है। सामान्यता ऐसे जातकों का वैवाहिक जीवन ठीक रहता है। ऐसे जातक अपनी आजीविका के लिये गलत कार्य करने में भी संकोच नहीं करते है ।

सांवले रंग की स्त्रियों पर भी उसी प्रकार का प्रभाव होता है। इन्हें गृहस्थ जीवन मे निंरतर संघर्ष करना पड़ सकता है। ये धैर्यवान, उदार एवं सम्बन्धों को अन्त तक निभाने वाली होती है । इनका स्वभाव चंचल होता है और इन्हे काम क्रिया पसन्द होती है।यह परिश्रमी, व्यवहार कुशल, सबकी प्रिय एवम सबकी विश्वस्त होती हैं।

दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं …..धन्यवाद ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शरद पूर्णिमा, Sharad Purnima,

हिन्दु पंचांग के अनुसार हर मास की 15वीं तिथि है जिस दिन चंद्रमा आकाश में पूरा होता है पूर्णिमा purnima कहलाती है।...

Height badyen, हाइट बढ़ाएं,

हाइट बढ़ाएं, height badyen,आज के युग में हर व्यक्ति चाहता है कि उसकी height, लम्बाई अच्छी हो, वस्तुत:...

How To Get Success in Court Cases

If any person is trapped in Court Cases, and if doubts are there......then by sighting sancrosanct 'Muqadma Vijayi Yantra' ,& by some...

शनि की साढेसाती के चरण

शनि की साढेसाती के चरणShani ki Sade Sati ke Charan साढ़ेसाती का पहले चरण...
Translate »