Sunday, October 2, 2022
Home Hindi गंभीर रोग कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण, cholesterol badhne ke karan,

कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण, cholesterol badhne ke karan,

कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण, cholesterol badhne ke karan,


आज की लाइफ स्टाईल में शरीर के कोलेस्ट्रॉल, cholesterol का ध्यान रखना नितांत आवश्यक है। कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण, cholesterol badhne ke karan, हमें कई स्वास्थ्य सम्बन्धी गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है । लेकिन क्या आप जानते है कि कोलेस्ट्रॉल क्या है, cholesterol kya hai ?

कोलेस्ट्रॉल शरीर में लिवर द्वारा निर्मित वसा जैसे पदार्थ कहते हैं। शरीर में उचित मात्रा में कोलेस्ट्रॉल होना बॉडी की अलग-अलग क्रियाओं के लिए बहुत जरूरी है।

कोलेस्ट्रॉल शरीर में विटामिन ए, डी, ई और विटामिन के को अवशोषित करने में मदद करता है। लेकिन, कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

शरीर में कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होने से उच्च रक्तचाप, हार्ट अटैक, स्ट्रोक और श्वांस सम्बन्धी बिमारियों का खतरा बढ़ सकता है।

सामान्य परिस्थितियों में लीवर कोलेस्ट्रॉल ( Cholesterol ) के उत्सजर्न और विलयन के बीच संतुलन बनाए रखता है, किन्तु कई बार यह संतुलन बिगड़ भी जाता है। इसके पीछे बहुत से कारण हो सकते है । यहाँ पर हम कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारणो के बारे में बता रहे है,

अवश्य जाने :- प्राचीन सुश्रुत संहिता से जानिए कैसे होगी कुल का नाम रौशन करने वाली, योग्य एवं संस्कारी संतान की प्राप्ति,

* वसा युक्त भोजन का अधिक मात्रा में सेवन करना

* शरीर का वजन में लगातार बढ़ोतरी होना या शरीर का वजन बहुत ज्यादा होना

* अनियमित खान पान अर्थात खानपान में लापरवाही बरतना

* नियमित रूप से कोई भी व्यायाम ना करना

* आनुवांशिक कारण भी हो सकते है। ऐसा भी पाया गया है कि अगर किसी परिवार के लोगों में अधिक कोलेस्ट्रॉल ( Cholesterol ) की शिकायत थी तो आने वाली पीढ़ी में भी कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक हो सकती है।

* अधिक उम्र होने पर जब शारीरिक श्रम बहुत कम हो जाता है तब भी लोगो के शरीर में कोलेस्ट्रॉल ( Cholesterol ) मात्रा बढ़ जाती है ।

इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें।
इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

holika dahan ka muhurat, होलिका दहन का मुहूर्त, holika dahan 2022,

holika dahan ka muhurat, होलिका दहन का मुहूर्त,होली, holi, हमारे भारत का एक...

भगवान शिव पर क्या चढ़ाएं, bhagwan shiv par kya chadaye, Shivratri 2022,

भगवान शिव पर क्या चढ़ाएं, bhagwan shiv par kya chadaye,महा शिवरात्रि / सावन में भगवान शिव पर...

दुर्गा वीसा यंत्र, Durga Visha Yantra,

दुर्गा वीसा यंत्र, Durga Visha Yantra,हे माँ शेरोवाली आप अपने भक्तो की सभी दिशाओं से रक्षा करते हुए...

Shukr Grah Ke Upay, शुक्र ग्रह के उपाय, शुक्र को अनुकूल कैसे करें,

Shukr Grah Ke Upay, शुक्र ग्रह के उपाय, शुक्र को अनुकूल कैसे करें,आप सभी को वर्ष 2022...
Translate »