Friday, September 18, 2020
Home Hindi घरेलु उपचार नकसीर के घरेलु उपचार

नकसीर के घरेलु उपचार

चिलचिलाती धूप में अक्सर बहुत से लोगों को नाक से खून बहने की शिकायत होती है, इसे नकसीर ( naksir ) भी कहा जाता है। यह मौसम के अनुसार शरीर में अधिक गर्मी बढ़ने से या अधिक गर्म पदार्थ का सेवन करने से भी हो सकता है। यहाँ पर हम नकसीर से निपटने के कुछ आसन से घरेलू उपचार बता रहे है जानिए नकसीर के घरेलू उपचार, Naksir ke Gharelu Upchaar, नकसीर से निजात पाने के उपाय, Naksir Se Nijad Pane ke upay

नकसीर से निजात पाने के उपाय
Naksir Se Nijad Pane ke upay

hand-logo One Image नकसीर ( Naksir ) आने पर रुई के फाए को सफेद सिरका में भिगोकर उस नाक के नथुने में रखें, जिससे खून बह रहा हो, तुरन्त लाभ मिलता है।

hand-logo One Image ठंडे पानी में भीगे हुए रुई के फाहों को नाक पर रखें। रुई के छोटे-छोटे फाहों को पानी में भिगोकर फ्रीजर में रख लें। इनसे सिकाई करने पर भी शीघ्र लाभ प्राप्त होता है ।

hand-logo One Image जिस व्यक्ति को नकसीर ( naksir ) चल रही है उसे बिठाकर सिर पर ठण्डे पानी की धार डालते हुए उसका सिर भिगों दें।

hand-logo One Image प्याज को काटकर नाक के पास रखें और उसे लगातार सूंघें।

hand-logo One Image थोड़ा सा सुहागा पानी में घोलकर नथूनों पर लगाऐं इससे भी नकसीर ( naksir ) तुरन्त बन्द हो जाती है।

hand-logo One Image साफ हरे धनिए की पत्तियों के रस की कुछ बूंदें भी नाक में डालने से फ़ायदा मिलता है।

hand-logo One Image काली मिट्टी पर पानी छिड़ककर इस गीली मिट्टी की खुशबू सूंघें।

hand-logo One Image नकसीर ( Naksir ) बहने पर कुर्सी पर बिना टेका लिए बैठ जाएं और नाक की बजाय मुंह से सांस लें।

hand-logo One Image शीशम या पीपल के पत्तों को पीसकर या कूटकर , उसका रस नाक में 4-5 बूँद ड़ाल दिया जाए तो एक क्षण में ही आराम मिल जाता है।

hand-logo One Image जिनको नकसीर ( naksir ) की समस्या रह्ती है उन्हे ध्रूमपान से बिल्कुल परहेज़ करना चाहिए ।

hand-logo One Image अगर शीशम के पत्ते पीसकर उनका शर्बत सवेरे शाम 15 दिन तक लगातार पीया जाए तो नकसीर की समस्या पूरी तरह खत्म हो जाती है।

hand-logo One Image करीब 20 ग्राम मुल्तानी मिट्टी को कूट कर रात के समय मिट्टी के बर्तन में करीब एक गिलास पानी में डालकर भिगो दें। सुबह इस पानी को छान लें। इस साफ पानी को दो तीन दिन पिलाने से पुराने से पुराना नकसीर रोग भी हमेशा के लिए खत्म हो जाता है।

इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शिवलिंग | भूतेश्वर नाथ शिवलिंग

इस दुनिया में बहुत से ऐसे रहस्य है, बहुत से ऐसे दिव्य स्थान है जिनके चमत्कार के बारे में जानकर मनुष्य खुद...

खुजली ठीक करने के घरेलु उपाय | khujli thik krne ke gharelu upay

दाद - खाज,खुजली के उपायDad khaj khujli ke upayत्वचा पर खुजली दाद हो जाने, फोड़े-फुंसी हो जाना बरसात...

गणेश उत्सव, Ganesh Utsav,

गणेश चतुर्थी 2020, Ganesh Chaturthi 2020गणेश उत्सव Ganesh Utsav हिन्दुओं का एक प्रमुख पर्व है जो कि...

मोटापा घटाने के उपाय | मोटापा घटाने के तरीके

मोटापा घटाने के उपाय , मोटापा घटाने के तरीकेमोटापा बहुत सी बिमारियों की जड़ है। इस संसार में...
Translate »