Tuesday, November 29, 2022
Home Hindi घरेलु उपचार खांसी के उपाय, khansi ke upay,

खांसी के उपाय, khansi ke upay,

खांसी के उपाय, khansi ke upay,

सर्दी, खांसी, सिरदर्द, जुकाम जैसी कुछ बीमारियां होती हैं जो किसी को भी किसी भी समय हो सकती है। खांसी की समस्या होने पर आप सुकून से कोई काम नहीं कर सकते हैं। खांसी बदलता मौसम, ठंडा-गर्म खाना पीना या फिर धूल या किसी अन्य चीज से एलर्जी के कारण सकती है । खांसी होने पर तकलीफ भी ज्यादा होती है। आइए हम आपको खांसी से बचने के कुछ आसान से उपायों के बारे में बताते हैं, जानिए खांसी के उपाय ( khansi ke upay, ) खांसी के घरेलू उपचार, ( khansi ke Gharelu Upchar )।

खांसी के उपचार, khasi ke Upchar,

* खाँसी होने पर एक बड़ी इलाइची को तवे में भूनकर पीस कर चबा कर खाएं अथवा गुनगुने पानी के साथ फंकी मारे, इससे खाँसी में तुरंत आराम मिलता है, ऐसा दिन में दो बार करें खांसी से पूरी तरह से छुटकारा मिलेगा। आवश्यकता पड़ने पर इसे दो दिन तक लगातार करें।

* सप्ताह में एक बार बड़ी इलाइची को तवे में भूनकर पीस कर चबा कर खाने अथवा पानी के साथ फंकी मारने से साँस की बीमारी नहीं होने पाती है। दमा नहीं होता है, फेफड़े स्वस्थ रहते है ,सर्दी नहीं लगती है, सर्दी में भी शरीर सक्रीय रहता है।

* 1 चम्मच अदरक का रस में एक चोथाई शहद एवं चुटकी भर हल्दी मिलाकर लेने से खांसी जल्दी ही दूर हो जाती है।

* सौंठ को पीस कर पानी में खूब देर तक उबालें। जब एक चौथाई रह जाए तो इसका सेवन गुनगुना होने पर दिन में तीन चार बार करें। तुरंत फायदा होगा।

* गुनगुने पानी से गरारे करने से गले को भी आराम मिलता है और खांसी भी कम होती है।

* तुलसी पत्ते, 5 काली मिर्च, 5 नग काला मनुक्का, 6 ग्राम गेहूँ के आटे का चोकर , 6 ग्राम मुलहठी, 3 ग्राम बनफशा के फूल लेकर 200 ग्राम पानी में उबालें। 1 /2 रहने पर ठंडा कर छान लें। फिर गर्म करके बताशे डालकर रात सोते समय गरम-गरम पी जाएँ और चादर ओढ़कर सो जाएँ तथा हवा से बचें। कैसी भी खुश्क खाँसी हो, ठीक हो जाएगी।

* काली मिर्च, हरड़े का चूर्ण, तथा पिप्पली का काढ़ा बना कर दिन में दो बार लेने से खाँसी जल्दी दूर होती है।

* 1 चम्मच शहद में पिसी हुई कालीमिर्च मिलाकर पीने से भी खांसी जल्दी ही दूर हो जाती है|

* मूली का रस और दूध को बराबर मिलाकर 1 -1 चम्मच दिन में छह बार लेने से भी शीघ्र लाभ मिलता है ।

* हींग, काली मिर्च और नागरमोथा को पीसकर गुड़ के साथ मिलाकर गोलियाँ बना लें। प्रतिदिन भोजन के बाद दो गोलियों का सेवन करने से खाँसी और कफ में लाभ मिलता है ।

* 1 चम्मच अजवाइन एवं हल्दी मिलाकर गरम कर ले,फिर उसे ठंडा होने के बाद शहद मिलाकर पीने से खांसी जल्दी ही दूर हो जाती है।

इस साइट के सभी आलेख शोधो, आयुर्वेद के उपायों, परीक्षित प्रयोगो, लोगो के अनुभवों के आधार पर तैयार किये गए है। किसी भी बीमारी में आप अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ही लें। पहले से ली जा रही कोई भी दवा बंद न करें। इन उपायों का प्रयोग अपने विवेक के आधार पर करें,असुविधा होने पर इस साइट की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

जवान रहने का उपाय, javan rahne ka upay,

जवान रहने का उपाय, javan rahne ka upay,बढ़ती उम्र के साथ शरीर में नित्य नयी परेशानियाँ...

नरक चतुर्दशी, Narak Chaturdashi, Narak Chaturdashi 2022,

नरक चतुर्दशी के उपाय, narak chaturdashi ke upay, नरक चतुर्दशी 2022,दीपावली पर्व से एक दिन पहले कार्तिक...

भगवान गणपति के बारह नाम, bhagwan ganpati ke barah naam,

भगवान गणपति के बारह नाम, bhagwan ganpati ke barah naam,भगवान गणपति के बारह नाम, bhagwan ganpati ke...

Pitra Dosh, पितृदोष,

पितृदोष क्या है, Pitrdosh kya hai,वह दोष Dosh जो पित्तरों से सम्बन्धित होता है पितृदोष Pitradosh कहलाता...
Translate »