Wednesday, December 2, 2020
Home Hindi डेली टिप्स आकर्षित कैसे करें

आकर्षित कैसे करें

आकर्षित कैसे करें
Akarshit kaise kare

hand logo सफेद गुंजा की जड़ को घिसकर माथे पर तिलक करने से सब लोग उस व्यक्ति के तेज से प्रभावित होकर उसकी बातों को मानने लगते है । सफेद सरसों को भांग के पत्तों के साथ पीसकर इसका तिलक करके आप जिस किसी के भी पास जायेंगे वह आपके आकर्षण में बंधकर आपकी किसी भी बातों को मना नहीं कर पायेगा ।

hand logo तुलसी के बीजों को सहदेई के के रस में पीसकर उसका तिलक माथे पर लगाने से आप जिसको देखकर जो भी कार्य उससे करवाना चाहेगे उसमें सफलता मिलने की पूरी सम्भावना होगी ।

hand logo कड़वी लौकी के तेल और कपड़े की बत्ती से काजल तैयार करें। इसे आंखों में लगाकर देखने से लोग आकर्षित होते है ।

यह भी जाने:- एकादशी की रात को इस उपाय को करने से धन का आभाव और सभी संकट होंगे दूर
hand logo जिस भी व्यक्ति को आप अपने प्रभाव में लेना चाहते हैं, उसका एक चित्र जो कि लगभग पुस्तक के आकार का तथा स्पष्ट छवि वाला हो, उपलब्ध करें। उस चित्र को इतनी ऊंचाई पर रखें कि जब आप पद्मासन में बैठे, तो उस चित्र की छवि आपकी आंखों के सामने ही रहे। ५ मिनिट तक प्राणायाम करने के पश्चात उस चित्र पर ध्यान एकाग्र करें। पूर्ण गहरे ध्यान में पंहुचकर उस चित्र वाले व्यक्तित्व से बार-बार अपने मन की बात कहें। कुछ समय के बाद अपने मन में यह गहरा विश्वास जगाएं कि आपके इस प्रयास का प्रभाव होने लगा है। यह प्रयोग सूर्योदय से पूर्व करना होता है। कुछ ही दिनों में इस प्रयोग के स्पष्ट प्रभाव दिखने लगते हैं।

hand logo गेंदे का फूल, पूजा की थाली में रखकर उसके ऊपर हल्दी के कुछ छींटे मारें फिर इस फूल को गंगा जल के साथ पीसकर माथे पर तिलक लगाने से आकर्षण शक्ति बढ़ती है।

अवश्य ही पढ़ें :-घर में कलह, रोग, धन की कमी है तो रसोई घर में है दोष, जानिए रसोई घर का वास्तु, और उपाय
hand logo नागकेसर को खरल में कूट छान कर शुद्ध घी में मिलाकर यह लेप माथे पर लगाने से वशीकरण की शक्ति उत्पन्न हो जाती है।

<< पिछले पेज पर जाएँ अगले पेज पर जाएँ >>

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

रोगनाशक पौष्टिक आहार | दिव्य आहार |Rognashak Paushtik Aahar

दिव्य आहारDivy Aaharआज के युग में हम मनुष्यों की प्रतिरोधक क्षमता घटती जा रही है , नित्य...

छोटी दिवाली, choti diwali, हनुमान जयंती,

छोटी दिवाली, choti diwali, हनुमान जयंती,दीपावली deepavali पर्व से एक दिन पहले कार्तिक...

सुबह स्नान से लाभ

सुबह स्नान से लाभप्रतिदिन स्नान स्वस्थ, सुंदर शरीर और अच्छे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। जो...

श्राद्ध में ब्राह्मण भोजन, shradh me brahman bhojan,

पित्र पक्ष में ब्राह्मण भोजन का महत्वPitra Paksh Me Brahman Bhojan Ka Mahtvaहमारे पितृ पूरे वर्ष श्राद्ध अर्थात...
Translate »