Sunday, January 24, 2021
Home मकर संक्रांति, makar sankranti, मकर संक्रांति के दान, Makar Sankranti Ke Daan,

मकर संक्रांति के दान, Makar Sankranti Ke Daan,

मकर संक्रांति के दान, Makar Sankranti Ke Daan,

हिन्दु धर्म में मकर संक्रांति का महत्व Makar Sankranti Ka Mahatva बहुत बताया गया है । मकर संक्रांति Makar Sankranti से भगवान सूर्यदेव उत्तरायण हो जाते हैं। ज्योतिष की दृष्टि से भी यह दिन बहुत महत्वपूर्ण है।

वर्ष 2021 में मकर संक्रांति का पर्व विशेष संयोग में आ रहा है। इस साल मकर संक्रांति की तिथि को लेकर किसी तरह का कोई संदेह भी नहीं है। वर्ष 2021 में दान पुण्य का अति विशिष्ट पर्व मकर संक्रांति, Makar Sankranti, 14 जनवरी गुरुवार को मनाया जायेगा।

वर्ष 2021 में सूर्य भगवान का मकर राशि में आगमन 14 जनवरी गुरुवार को सुबह 8 बजकर 14 मिनट पर हो रहा है। गुरुवार के दिन संक्रांति होने की वजह से यह संक्रान्ति नंदा और नक्षत्रानुसार महोदरी संक्रांति मानी जाएगी यह संक्रान्ति विशेषकर ब्राह्मणों, शिक्षकों, छात्रों, लेखकों और बुद्धिजीवियों के लिए बहुत ही शुभ और लाभदायक रहेगी।

शास्त्रों के अनुसार संक्रांति के 6 घंटे 24 मिनट पहले से ही संक्रांति का पुण्य काल शुरू हो जाता है। इसलिए इस साल ब्रह्म मुहूर्त से ही संक्रांति का स्नान, दान अति पुण्य दायक होगा।

इस दिन वैसे तो पूरे दिन ही स्नान दान किया जा सकता है, लेकिन ब्रह्म मुहूर्त से दोपहर 2 बजकर 38 मिनट तक का समय संक्रांति से संबंधित समस्त कार्यो के के लिए बहुत उत्तम रहेगा।

अवश्य जानिए, मकर संक्रांति के दिन इन उपायों को करने से खुल जायेंगे भाग्य के दरवाज़े, जानिए आकर संक्रांति के अचूक उपाय,

शास्त्रो के अनुसार इस दिन विधिपूर्वक स्नान करने एवं पूर्ण श्रद्धा पूर्वक दान करने से जीवन में समस्त सुखो की प्राप्ति होती है, कार्यो से अवरोध दूर होते है, माँ लक्ष्मी का घर कारोबार में अटूट वास होता है,पुण्य संचय होते है, सभी प्रकार के पापो से मुक्ति मिलती है , पितर प्रसन्न होते है पितरो का आशिर्वाद प्राप्त होता है ।

जानिए मकर संक्रांति के दान, Makar Sankranti Ke Daan, मकर संक्रांति के दिन क्या दान करना चाहिए, Makar Sankranti Ke Din Kya Daan Karna Chahiye, ,

मकर संक्रांति के दान, Makar Sankranti Ke Daan,

शास्त्रों के अनुसार मकर संक्रांति Makar Sankranti को सभी जातकों को चाहे वह स्त्री हो अथवा पुरुष सूर्योदय से पूर्व अवश्य ही अपनी शय्या का त्याग करना चाहिए । हर मनुष्य को मकर संक्रांति के दिन स्नान, Makar Sankranti Ke Din अवश्य ही करना चाहिए । संक्रांति पर्व पर स्नान के संबंध में शास्त्रों में कहा गया है कि

रवि संक्रमणे प्रासेन स्नानाद्यस्तु मानवः।
सप्तजन्मनि रोगो स्द्यान्निर्धनश्चैव जायतेः।

अर्थात् सूर्य की संक्रांति के दिन जो मनुष्य स्नान नहीं करता है। वो सात जन्मों तक रोगी रहता है। देवी पुराण में लिखा है कि जो व्यक्ति मकर संक्रांति के दिन Makar Sankranti Ke Din स्नान नहीं करता है। वह रोगी और निर्धन बना रहता है।

क्लिक करें:- कैसी भी बवासीर की परेशानी से निजात पाने के लिए इस साइट पर दिए गए उपचारों को अवश्य ही जानिए

विशेषकर मकर संक्रांति Makar Sankranti पर तिल-स्नान को अत्यंत पुण्यदायक बतलाया गया है। शास्त्रो के अनुसार इस दिन तिल – स्नान करने वाला मनुष्य सात जन्म तक आरोग्य को प्राप्त करता है, जातक रूपवान होता है उसे किसी भी रोग का भय नहीं होता है ।

आरोग्य की कामना करने वालें मनुष्य को चाहिए कि इस तिल का उबटन बना कर उसे पूरे शरीर पर लगाए फिर स्नान करे इससे पूरे वर्ष स्वास्थय लाभ मिलता है।

मकर संक्रान्ति Makar Sankranti के पुण्यकाल में हर मनुष्य को तीर्थ या नदी तट पर सफेद तिल मिश्रित जल से शुद्ध मनोभाव से स्नान करना चाहिए । यदि नदी में स्नान करना संभव ना हो, तो अपने घर में पूर्वाभिमुख होकर जल में तिल, दुर्वा, कच्चा दूध डालकर स्नान करें।

इस दिन तीर्थों, मन्दिर, देवालय में देव दर्शन, एवं पवित्र नदियों में स्नान का विशेष महत्व है।
इस दिन लाल रंग के वस्त्र धारण करना एवं गोरोचन का तिलक लगाना श्रेयकर है।

मकर संक्रांति के दिन दान Makar Sankranti Ke Din Daan करने का अति विशेष महत्व है।

शास्त्रों के अनुसार मकर संक्रांति के दिन दान करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है, इस पुण्य का फल जन्म – जन्मान्तर तक मिलता रहता है ।

इस दिन कंबल, गर्म वस्त्र, घी, गुड़, नमक, दाल-चावल की कच्ची खिचड़ी और तिल आदि का दान विशेष रूप से फलदायी माना गया है।

इस दिन तिल के दान से आपकी कुंडली के कई दोष दूर होते है , विशेष रूप से कालसर्प योग, शनि की साढ़ेसाती और ढय्या, राहु-केतु के दोष दूर हो जाते हैं।

इस दिन तिल के लड्डुओं के साथ हरे मूंग और चावल की खिचड़ी का दान करना सर्वश्रेष्ठ माना गया है।

अवश्य पढ़ें :- जानिए अपने दिल की कैसे करे देखभाल, दिल की बीमारी के आसान किन्तु बहुत ही अचूक उपाय,

इस दिन घर में खिचड़ी बना कर पहले घर के मंदिर में भगवान को भोग लगाएं फिर सभी सदस्यों के एक साथ प्रेम पूर्वक खाने से परिवार बढ़ता है ।

शिव पुराण के अनुसार, मकर संक्रांति के दिन नए वस्त्रों का दान करना बहुत शुभ होता है।

मकर संक्रांति के दिन गुड़ का दान करने से कुंडली में सूर्य देव बलवान होते है ।

मकर संक्रांति के दिन घी, और अनाज दान करने से भी बहुत पुण्य मिलता है।

मकर संक्रांति के दिन नमक का दान करने से समस्त अनिष्ट दूर होते है ।

मकर संक्रांति के दिन काले तिल को तांबे के पात्र में भरकर किसी निर्धन व्यक्ति या ब्राह्मण को दान करने से शनि देव प्रसन्न होते है, शनि की साढ़े साती तथा शनि की ढैय्या के अशुभ प्रभाव दूर होते है ।

मकर संक्रांति, Makar Sankranti, मकर संक्रांति के दान, Makar Sankranti Ke Daan, मकर संक्रांति 2021, Makar Sankranti 2021, मकर संक्रांति के दिन क्या दान करना चाहिए, Makar Sankranti Ke Din Kya Daan Karna Chahiye,

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

agney kon ka vastu, आग्नेय कोण का वास्तु,

agney kon ka vastu, आग्नेय कोण का वास्तु,जिस भवन के सामने / मुख्य द्वार के सामने अग्नेय...

सम्पूर्ण वास्तुशास्त्र(Vastu) का महत्व

सम्पूर्ण वास्तुशास्त्र का महत्वSampurn Vastushastra ka mahtavVastu इस संसार में हर व्यक्ति चाहता है कि वह जीवन में...

छोटी दिवाली, choti diwali, हनुमान जयंती,

छोटी दिवाली, choti diwali, हनुमान जयंती,दीपावली deepavali पर्व से एक दिन पहले कार्तिक...

काल भैरव की उत्पत्ति भैरव नाथ की कथा

भैरव नाथ का अवतरण मार्गशीर्ष मास की कृष्णपक्ष अष्टमी को एक दिव्य ज्योतिर्लिंग से हुआ है, वह दिन भैरव अष्टमी / भैरव...
Translate »