Thursday, June 13, 2024
HomeDurga Poojanavratri ke vishesh upay, नवरात्री के विशेष उपाय, navratri 2024,

navratri ke vishesh upay, नवरात्री के विशेष उपाय, navratri 2024,

navratri ke vishesh upay, नवरात्री के विशेष उपाय,

हिन्दु धर्म नवरात्रि Navratri की महिमा अपरम्पार कही गयी है । ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नवरात्रि में किये गए प्रयोग अत्यंत फलदायी होते है, इनको श्रद्धा से करने से सभी अभिलाषाएँ पूर्ण होती है।

इस बात का अवश्य ही ध्यान रखे कि यह प्रयोग गोपनीय तरीके से बिना किसी संशय के, सात्विक भाव से किये जाये ।

जनिये नवरात्र के विशेष उपाय, navratri ke vishesh upay, नवरात्र के उपाय, navratri ke upay, chaitra navratri, चैत्र नवरात्री, नवरात्री 2024, navratri 2024, शरद नवरात्री, sharad navratri,

* नवरात्री में पड़ने वाले मंगलवार के दिन एक नारियल ले उस पर कामिंया सिंदुर, मौली, अक्षत अर्पित कर उसका पूजन करें फिर सारी सामग्री किसी भी सिद्ध हनुमान जी के मंदिर में चढ़ा दें। इससे जीवन में सफलता का मार्ग प्रशस्त होता है कार्यों में अड़चने दूर होती है ।

* नवरात्री में पड़ने वाले मंगलवार / शनिवार के दिन श्री हनुमान जी के मंदिर पर ऊँचाई वाले स्थान पर लाल ध्वजा अवश्य ही लगायें। इससे जीवन के सभी संकट दूर होते है।

इस दिन अपने घर पर भी लाल रंग की ध्वजा अवश्य ही लगानी चाहिए ।

* नवरात्री के सोमवार को “श्री शिवाये नमस्तुभयम” का जाप करते हुए शिवलिंग पर शहद चढ़ाएं उसके पश्चात शिवलिंग पर गंगाजल मिला जल चढ़ाएं । इस उपाय को करने से घर के सदस्यों के मध्य प्रेम का वातावरण बनता है, मनचाहे प्रेम की प्राप्ति होगी है, दाम्पत्य जीवन सुखमय होता है।

इस उपाय को लगातार 7 सोमवार तक अवश्य करें ।

* नवरात्री के शुक्रवार, अष्टमी के दिन माँ देवी लक्ष्मी के चित्र के समक्ष घी का नौ बत्तियों का दीपक जलाए¡। इससे माँ की शीघ्र कृपा मिलती है , अचानक बड़े धन लाभ के योग बनते है ।

* नवरात्र के शुक्रवार और अष्टमी के दिन संध्या के समय किसी भी लक्ष्मी माँ के मंदिर में सुगन्धित धूप / अगरबत्ती चढ़ाएं उसमें से कुछ निकालकर माता के सामने वहीँ पर जला दें और माँ को मिष्ठान का भोग लगाकर दक्षिणा चढ़ाते हुए उनसे अपने घर परिवार में स्थाई रूप से निवास करने की प्रार्थना करें, इसके बाद यही उपाय प्रति शुक्रवार को करते रहे । इससे निश्चित ही आपके आर्थिक संकट दूर होने लगेंगे ।

* नवरात्र के शुक्रवार, अष्टमी को रात्रि के समय माँ लक्ष्मी की फोटो के सामने शुद्ध घी का दीपक जलाकर, उन्हें फल, मिष्ठान, मीठा पान और गुलाब के फूल अर्पित करते हुए ईशान या पूर्व दिशा की तरफ मुँह करके

ॐ श्रीं विघ्रहराय पारदेश्वरी महालक्ष्यै नम:”।।

ॐ श्रीं हीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद, ॐ श्रीं हीं श्रीं ॐ महालाक्ष्मै नमः”।।
सिद्ध मन्त्र की 21 माला का जाप करें ।

उसके पश्चात प्रतिदिन इस मन्त्र की एक माला अवश्य ही जपें , इस मन्त्र का नियमित रूप से जाप करने से जातक पर माँ लक्ष्मी की असीम कृपा रहती है । उसको अपने कारोबार , नौकरी में आशातीत सफलता मिलती है , आय के नवीन स्रोत खुलने लगते है ।

* माता लक्ष्मी को कमल का फूल अत्यंत प्रिय है। नवरात्री के शुक्रवार, अष्टमी के दिन पूजन के समय माता लक्ष्मी के श्री चरणों में कमल का फूल अवश्य अर्पित करे, पूजा के बाद यही पुष्प लाल वस्त्र में लपेटकर अपने धन स्थान अथवा तिजोरी में रखना चाहिए, इससे आर्थिक संकट पास भी नहीं आते है ।

नवरात्री में इस तरह से करें कन्याओं का पूजन माँ की बरसेगी असीम कृपा

अवश्य पढ़ें :- कार्य क्षेत्र में अगर पानी हो श्रेष्ठ सफलता तो राशिनुसार बनायें कैरियर

* अगर आप दुकान/ऑफिस से व्यवसाय करते हैं तो नवरात्रि की किसी भी रात्रि में थोड़ी साबूत फिटकरी लेंकर उसे अपनी दुकान पर से 31 बार उतार कर बाहर किसी भी चौराहे पर जाकर, चौराहे पर खड़े होकर इसे उत्तर दिशा में फेंक दें।

ध्यान दे इसे उत्तर दिशा तरफ ही फेंकना है। इस उपाय को करने से व्यापार में गति आती है, नज़र दोष दूर होता है, स्थाई धन लाभ मिलता है।
यह नवरात्री की सप्तमी और नवमी को बहुत प्रभावशाली रहता है ।

* साबुत उड़द की काली दाल के 38 और चावल के 40 दाने मिलाकर किसी गड्ढे में दबा दें और ऊपर से नीबू निचोड़ दें।
नीबू निचोड़ते समय शत्रु का नाम लेते रहें, इससे वह शान्त जो जायेगा और वह आपके विरुद्ध कोई भी कदम नहीं उठाएगा। यह प्रयोग नवरात्री की सप्तमी ,नवमी के दिन बहुत कारगर सिद्ध होता है ।

* नवरात्रि navratri में पड़ने वाले शनिवार को बजरंग बली को पीले सिंदूर को चमेली के तेल के साथ मिलाकर चोला चढ़ाएं एवं नवरात्रि में पड़ने वाले मंगलवार को हनुमान जी को पीले सिंदूर को गाय के घी में मिलाकर चोला चढ़ाएं , दोनों ही दिन लाल गुलाब भी भेंट करें ।

इसके साथ ही संकटमोचन को गुड़ का भोग लगते हुए बून्दी अथवा लाल पेड़े का प्रसाद अवश्य ही अर्पित करें, इस प्रशाद को वहीँ पर बाँट दें बहुत थोड़ा सा ही घर पर लेकर जाएँ ।

इस उपाय से हनुमान जी की कृपा बहुत ही आसान से प्राप्त होती है, जीवन के सभी संकट दूर होने लगते है, कुण्डली के ग्रहो के दुष्प्रभाव भी समाप्त होते है ।

* धन प्राप्ति के लिए नित्य रात को सोते समय अपने दांत फिटकरी से साफ करें। इसके अलावा प्रत्येक बुधवार एक बाल्टी पानी में थोड़ी सी फिटकरी घोलकर उस फिटकरी के पानी से स्नान भी करें। इससे आर्थिक पक्ष मजबूत रहता है।

* यदि धन की कमी रहती हो, कमाई के बाद भी पर्याप्त धन नहीं बचता हो तो नवरात्री में फिटकरी का एक उपाय करे। नवरात्री में सुबह स्नान आदि के बाद एक साबुत फिटकरी का टुकड़ा जो कम से कम 50 ग्राम का हो काले कपड़े में सिलकर घर / कारोबार के मुख्य द्वार पर टाँग दे, इससे धन आगमन के स्रोत्र खुलते है, धन में बरकत होती है ।

अगर फटकरी टाँगना संभव ना हो तो फिटकरी को घर में ही काले कपडे में लपेटकर रख दे । यह उपाय बहुत ही अचूक माना जाता है, इसे करते समय कोई संदेह नहीं होना चाहिए ।

* यदि आपको कोई भी ज्ञात अज्ञात शत्रु या कोई अपना परेशान कर रहा है, तो नवरात्री की सप्तमी / नवमी के दिन एक मुट्ठी तिल में शक्कर मिलाकर किसी सुनसान जगह में माँ कालरात्रि से अपने शत्रु पर विजय की प्रार्थना करते हुए डाल दें । फिर वापस लौट जाएँ और पीछे पलट कर न देखे इससे शत्रु पक्ष धीरे धीरे शांत हो जायेगा ।

* नवरात्र हर्ष, उल्लास, सर्वत्र शुभता एवं माँ आदि शक्ति की कृपा प्राप्त करने का, अपने सभी सपनो को पूरा करने का उत्सव है। इसलिए आप चाहे नवरात्र में ब्रत रखे चाहे नहीं लेकिन एक बात का विशेष ध्यान रखिये कि आप कम से कम पूरे नवरात्र भर किसी भी बात पर किसी पर भी क्रोध नहीं करेंगे ।

यह नौ दिन माँ दुर्गा के माने गए है इसलिए उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए अपने घर, दुकान, कार्यालय सभी जगह पूरे ह्रदय से प्रसन्न रहिये, मुस्कुराइए, किसी भी प्रकार की चिन्ता को दूर भगाइए, लोगो को भी उनके कार्यों के लिए सराहिये।

* किसी को भी कोई भी टोका टाकी ना करें अपने माता पिता, बड़े बुजुर्गो, पत्नी, बच्चो सभी का पूर्ण सम्मान कीजिये । इस तरह के हर्ष एवं प्रसन्नता के वातावरण में माँ दुर्गा, माँ लक्ष्मी घर में खींची चली आती है जीवन में किसी भी वस्तु का कोई भी आभाव नहीं रहता है, माँ के आशीर्वाद से सभी सपने पूरे होते है।

* नवरात्र में आप किसी को भी यथा संभव उधार देने से बचे और उधार तो बिलकुल भी न लें।

* नवरात्रि navratri में पड़ने वाले शनिवार को बजरंग बली को पीले सिंदूर को चमेली के तेल के साथ मिलाकर चोला चढ़ाएं एवं नवरात्रि में पड़ने वाले मंगलवार को हनुमान जी को पीले सिंदूर को गाय के घी में मिलाकर चोला चढ़ाएं , दोनों ही दिन लाल गुलाब भी भेंट करें ।

इसके साथ ही संकटमोचन को गुड़ का भोग लगते हुए बून्दी अथवा लाल पेड़े का प्रसाद अवश्य ही अर्पित करें, इस प्रशाद को वहीँ पर बाँट दें बहुत थोड़ा सा ही घर पर लेकर जाएँ ।

इस उपाय से हनुमान जी की कृपा बहुत ही आसान से प्राप्त होती है, जीवन के सभी संकट दूर होने लगते है, कुण्डली के ग्रहो के दुष्प्रभाव भी समाप्त होते है ।

* याद रहिये आप माता की आराधना सुख सम्पन्नता और सफलता के लिए कर रहे है इसलिए आप किसी भी दशा में किसी का एक भी पैसा न हड़पे / किसी के भी साथ धोखा ना करें , माता की सच्ची आराधना आपको आर्थिक रूप से अवश्य ही सक्षम बनाएगी ।

मित्रो हम इस साईट के माध्यम से वर्ष 2010 से निरंतर आप लोगो के साथ जुड़े है। आप भारत या विश्व के किसी भी स्थान पर रहते है, अपने धर्म अपनी संस्कृति को प्रत्येक व्यक्ति तक पहुँचाने के लिए www.memorymuseum.net के साथ अवश्य जुड़ें, हमारा सहयोग करें ।

अगर नित्य पंचाग पढ़ने से आपको लाभ मिल रहा है, आपका आत्मविश्वास बढ़ रहा है, आपका समय आपके अनुकूल हो रहा है तो आप हमें अपनी इच्छा – सामर्थ्य के अनुसार कोई भी सहयोग राशि 6306516037 पर Google Pay कर सकते है ।

आप पर ईश्वर का सदैव आशीर्वाद बना रहे ।

This image has an empty alt attribute; its file name is Pandit-Mukti-Narayan-Pandey-Ji-1.jpeg
ज्योतिषाचार्य मुक्ति नारायण पाण्डेय
( हस्त रेखा, कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )
Pandit Ji
Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Translate »