Saturday, April 17, 2021
Home Hindi घरेलु उपचार पथ्य अपथ्य आहार | खाने में सावधानियाँ | pathy apathy ahar

पथ्य अपथ्य आहार | खाने में सावधानियाँ | pathy apathy ahar

हमारे ऋषि मुनियों ने खाने के कुछ नियम बताये हैं कि किस वस्तु के साथ क्या खाना चाहिए और क्या नहीं । खाते समय यदि कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान न रखा जाए तो सेहत बिगड़ सकती है। वर्तमान मेडिकल साइन्स में भी खाने में बैलेंस्ड डाइट की बात कही जाती है। आयुर्वेद में ऐसी कई चीजों का वर्णन मिलता है जिन्हें साथ साथ खाना सेहत के लिए अत्यंत हानिकारक हो सकता है,
जानिए पथ्य अपथ्य आहार, pathy apathy ahar, खाने में सावधानियाँ, khane me savdhaniya ।

इन बातो को हमने अपने घर के बड़े- बूढ़ों से सुना होगा , पढ़ा भी होगा लेकिन बहुत से लोग अंधविश्वास समझकर उनकी बातों को अनदेखा कर देते हैं। इसका कारण या है कि बहुत कम लोग ही पथ्य अपथ्य आहार के बारे में जानते हैं, उन्हें सही अर्थो में यह पता ही नहीं है कि गलत खाद्य पदार्थो को साथ साथ लेने पर सेहत पर क्या अच्छा व बुरा प्रभाव पड़ता है। हम यहाँ पर आपको कुछ ऐसे ही खान पान की वस्तुओं के बारे में बता रहे है जिन्हें साथ में लेना सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

1. दूध के साथ दही:- दूध के साथ दही का सेवन नहीं करना चाहिए । दरअसल, दूध और दही दोनों की तासीर अलग होती है, इसीलिए इनको एक साथ लेना सेहत के लिए बहुत हानिकारक होता है। इन्हें साथ लेने पर पेट की समस्याएं हो सकती हैं।

2. प्याज के साथ दूध :- प्याज और दूध का कभी भी एक साथ सेवन नहीं करना चाहिए। प्याज के साथ दूध के सेवन करने से त्वचा सम्बन्धी कई रोग जैसे दाद, खाज ,खुजली,एग्जिमा , आदि होने की संभावना बहुत बढ़ जाती है। ​

3. दूध , दही के साथ मछली :- दूध, दही के साथ मछली का सेवन कदापि नहीं करना चाहिए । चूँकि दही की तासीर ठंडी है अत: उसे किसी भी गर्म चीज के साथ नहीं लेना चाहिए तथा मछली की तासीर काफी गर्म होती है, इसलिए उसे दूध दही के साथ नहीं खाना चाहिए। इनके साथ साथ सेवन करने से एलर्जी, पेट और त्वचा सम्बन्धी कई बीमारियां , सफ़ेद दाग , और गैस आदि की समस्या हो सकती हैं।

4. चिकन के साथ मिठाई:- चिकन के साथ जूस या मिठाई का सेवन नहीं करना चाहिए । चिकन के साथ जूस और मिठाई का सेवन करने से भी पेट सम्बन्धी कई समस्याएँ हो सकती है ।

दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं …..धन्यवाद ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

ऑफिस का वास्तु | ऑफिस का वास्तु टिप्स

कार्यालय के वास्तु के अचूक उपायkaryalaya Ke Vastu ke upayआजकल कड़ी प्रतिस्पर्धा का जमाना है । लोग...

शिव परिवार, Shiv Pariwar,

Shiv Pariwar, शिव परिवार,भगवान श्री गणेश भगवान शिव (Bhagwan Shiv) के छोटे पुत्र हैं। श्री गणेश जी...

अमावस्या पर पाएं पितरों की पूर्ण कृपा

अमावस्या पर पाएं पितरों की पूर्ण कृपा, amawasya par pitro ke purn kripa,

पितरों की विदाई, pitron ki vidai,

पितरों की विदाई कैसे करें, Pitro Ki Vidai Kaise karen* पितृ पक्ष Pitra Paksh में श्राद्ध करके पितृ...
Translate »