Thursday, February 25, 2021
Home Hindi यंत्र व्यापार वृद्धि यंत्र | Vyapar Vridhi Mantra

व्यापार वृद्धि यंत्र | Vyapar Vridhi Mantra

व्यापार वृद्धि यन्त्र Vyapar Vridhi Yantra के सम्पूर्ण पुण्य, व्यक्तिगत अशीर्वाद की प्राप्ति और व्यापार बृद्धि Vyapar Vridhi के कुछ खास अचूक उपायों को जानने के लिए इस साईट पर लॉग इन करके अपने व्यापार बृद्धि यन्त्र Vyapar Vridhi Yantra के पेज पर जायें ।

व्यापार रोजगार में सम्पूर्ण सफलता हेतु विशेष लाभकारी

वैदिक मन्त्र –ॐ धनम्ग्नी धनवायु धनमिन्द्रो धनं वसुः।
प्रजानां भवति माता आयुष्मन्तं करोतु मे ।।

आज के युग में धन का बहुत ही ज्यादा महत्व है । जीवन के प्रारंभ से अंत तक प्रत्येक कार्यों में धन की नितांत आवश्यकता होती है । धन के आभाव में हम अपने अनेकों जरुरी कार्यों को पूरा नहीं कर पाते है । निर्धन व्यक्ति के सगे सम्बन्धी भी उसका साथ छोड़ देते है समाज में तमाम प्रयासों के बाद भी उसे उचित मान सम्मान Maan Samman नहीं मिल पाता है लेकिन धनी व्यक्ति का हर आदमी साथ चाहता है उसके परिवार, नाते रिश्तेदार और समाज सभी जगह लोग उसका उदाहरण देते है उसको सम्मान की प्राप्ति होती है । तमाम पारिवारिक, सामाजिक और धार्मिक कार्यों, दान पुण्य आदि के लिए भी धन की आवश्यकता होती है ।

इस साईट में स्थापित व्यापार वृद्धि यंत्र Vyapar Vridhi Yantra के नित्य ध्यान, दर्शन करने और मन में सच्ची श्रद्धा रखने से हर व्यक्ति को उसके कार्य क्षेत्र में अवश्य ही सफलता मिलती है । यह यंत्र पूरी तरह से शास्त्रानुसार विधि विधान पूर्वक जप तप के बाद यज्ञ द्वारा सिद्ध किये गए है जिससे हर व्यक्ति को व्यक्तिगत रूप से अभीष्ट लाभ की प्राप्ति हो सके द्य इस यंत्र के शुभ प्रभाव से हर व्यक्ति के नौकरी, व्यापार, रोजगार में आने वाली अडचने दूर होती है और वह निरंतर अपने कार्य क्षेत्र में तरक्की करता जाता है

मित्रों जानिए कैसे कुछ छोटे,आसान लेकिन बहुत ही अचूक उपाय आपके कैरियर / व्यापार में चार चाँद लगा सकते है |

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Home Wall

Login Join UsUser Name Password Forgot Password ?Memory Blog

अक्षय तृतीया

"न क्षयः इति अक्षयः -----अर्थात जिसका क्षय ना हो वह है अक्षय"।

ताम्बे के बर्तन में पानी पीने से लाभ

ताम्बे के पात्र में जल पीने से लाभtambe ke patr me jal pine se labhनिरोगिता अर्थात स्वस्थ शरीर...

amavasya ke mahatvapurn upay, अमावस्या के महत्वपूर्ण उपाय

amavasya ke mahatvapurn upay, अमावस्या के महत्वपूर्ण उपाय,हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक मास के कृष्ण पक्ष...
Translate »