Friday, May 27, 2022
Home Amavasya अमावस्या के अचूक उपाय, amavasya ke achuk upay, amavasya 2022,

अमावस्या के अचूक उपाय, amavasya ke achuk upay, amavasya 2022,

अमावस्या के अचूक उपाय, amavasya ke achuk upay,

ज्योतिष शास्त्र / तन्त्र शास्त्र के अनुसार अमावस्या, amavasya, अमावस, amavas, की तिथि अत्यंत महत्वपूर्ण होती है । अमावस्या के उपाय, amavasya ke upay, बहुत प्रभावशाली और शीघ्र फलदायी होते है।
चाहे कैसी भी चिंता, संकट, हो कोई भी मनोकामना हो अमावस्या के दिन उसका उपाय करने से उस कार्य में मनवान्छित लाभ मिलता है ।

अमावस्या के उपाय amavasya ke achuk upay, बिलकुल चुपचाप और पूर्ण श्रद्धा और विश्वास से करने चाहिए ।

जानिए अमावस्या के उपाय, Amavasya ke upay, अमावस्या के अचूक उपाय, Amavasya ke achuk upay, अमावस्या के टोटके, amavasya ke totke, अमावस्या के दिन क्या करें, amavasya ke din kya karen,

अमावस्या के अचूक उपाय, amavasya ke achuk upay,

अमावस्या, Amavasya, के दिन एक सूखा नारियल (गरी गोला) लेकर उसमे एक छेद करके उसे बूरा चीनी ( महीन चीनी ) से भर दें, फिर उसे किसी निर्जन स्थान पर पेड़ के नीचे जहाँ पर चीटियाँ हो वहां पर गाढ दे ।
यह ध्यान रखे की नारियल का खुला हिस्सा धरती के उपर ही रहें, इसके बाद वापिस मुड कर न देखें।

यह बहुत ही अमोघ उपाय है, इस उपाय से विपत्तियाँ दूर रहती है, सुख – समृद्धि , हर्ष एवं यश की प्राप्ति होती है।

चाहते है बेदाग, गोरी त्वचा तो तुरंत करें ये उपाय, आप खुद भी आश्चर्य चकित हो जायेंगे

अमावस्या के दिन न्याय के देवता शनिदेव की आराधना अवश्य करनी चाहिए।

* शनिदेव को परमपिता परमात्मा के जगदाधार स्वरूप कच्छप का ग्रहावतार और कूर्मावतार भी कहा गया है।

* वह महर्षि कश्यप के पुत्र सूर्यदेव की संतान हैं।


* उनकी माता का नाम छाया है।


* शनिदेव
के भाई मनु सावर्णि, यमराज, अश्वनी कुमार और

* शनिदेव
की बहन का नाम यमुना और भद्रा है।

* ब्रह्मपुराण के अनुसार, पिता सूर्य ने शनि देव का विवाह चित्ररथ की कन्या से कराया जो अत्यंत तेजस्विनी थीं।

* शनिदेव
के गुरु शिवजी हैं और

* शनिदेव
के मित्र हैं काल भैरव, हनुमान जी, बुध और राहु।

ब्रह्मपुराण के अनुसार, पिता सूर्य ने शनि देव का विवाह चित्ररथ की कन्या से कराया जो अत्यंत तेजस्विनी थीं, लेकिन उन्होंने क्रोध में शनि देव को शाप दे दिया कि शनि देव जिसको भी देखेंगे उसके जीवन की सभी खुशियां चली जाएगी।

शनि देव के प्रकोप से बचने उन्हें प्रसन्न करने के लिए उनकी पत्नी के 8 नामो ध्वजीनि, धामिनी, कंकाली, कलह प्रिया, कंटकी, तरंगी, महिषि, अजा का अवश्य स्मरण करना चाहिए

अमावस्या के दिन खीर बनाकर उसे दो दोने या पत्तल पर निकाल लें । फिर एक जगह खीर शिवलिंग पर चढ़ाएं, फिर दूसरे खीर के दोने को पीपल के पेड़ के नीचे रखकर पीपल पर हाथ जोड़कर वापस आ जाएँ।
इससे भगवान शिव प्रसन्न होते है , पितरो का भी आशीर्वाद मिलता है।

अमावस्या के दिन धन की देवी मां लक्ष्मी जी को प्रसन्न करने के लिए सांय काल घर के ईशान कोण में गाय के घी का दीपक लगाएं। उसमें बत्ती में रूई की जगह लाल रंग के धागे का उपयोग करें।
उस दीये में थोड़ी-सी केसर भी अवश्य ही डाल दें। इससे माँ लक्ष्मी की कृपा मिलती है ।

अमावस्या, amavasya, अमावस्या के अचूक उपाय, amavasya ke achuk upay, ( अमावस, amavas, अमावस्या के उपाय, amavasya ke upay, अमावस्या के टोटके, amavasya ke totke, )

अमावस्या, amavasya, अमावस्या के चमत्कारी उपाय, amavasya ke chamatkari upay,( अमावस, amavas, अमावस्या के उपाय, amavasya ke upay, अमावस्या के टोटके, amavasya ke totke, )

अमावस्या, amavasya, अमावस्या के महत्वपूर्ण उपाय, amavasya ke mahatvapurn upay,( अमावस, amavas, अमावस्या के उपाय, amavasya ke upay, अमावस्या के टोटके, amavasya ke totke, )

अमावस्या, amavasya, अमावस्या पर पाएं पितरों की पूर्ण कृपा, amawasya par paye pitro ki purn kripa, ( अमावस, amavas, अमावस्या के उपाय, amavasya ke upay, अमावस्या के टोटके, amavasya ke totke, )

अमावस्या, amavasya, अमावस्या पर दैवीय कृपा, amavasya par deviy kripa, ( अमावस, amavas, अमावस्या के उपाय, amavasya ke upay, अमावस्या के टोटके, amavasya ke totke, )

अमावस्या ( amavasya ) के दिन काले कुत्ते को कड़वा तेल लगाकर रोटी खिलाएं। इससे ना केवल दुश्मन शांत होते है वरन आकस्मिक विपदाओं से भी रक्षा होती है ।

अमावस्या ( amavasya ) के दिन अपने घर के दरवाजे के ऊपर काले घोड़े की नाल को स्थापित करें। ध्यान रहे कि उसका मुंह ऊपर की ओर खुला रखें।
लेकिन दुकान या अपने आफिस के द्वार पर लगाना हो तो उसका खुला मुंह नीचे की ओर रखें। इससे नज़र नहीं लगती है और घर में स्थाई सुख समृद्धि का निवास होता है ।

घर में खिड़कियों का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है, अवश्य जानिए खिड़कियों के वास्तु टिप्स

अमावस्या ( amavasya ) की तिथि को कोई भी नया कार्य, यात्रा, क्रय-विक्रय तथा समस्त शुभ कर्मों को निषेध कहा गया है, इसलिए इस दिन इन कार्यों को नहीं करना चाहिए ।

अमावस्या ( amavasya ) के दिन क्रोध, हिंसा, अनैतिक कार्य, माँस, मदिरा का सेवन एवं स्त्री से शारीरिक सम्बन्ध, मैथुन कार्य आदि का निषेध बताया गया है, जीवन में स्थाई सफलता हेतु इस दिन इन सभी कार्यों से दूर रहना चाहिए ।

अमावस्या के दिन शमी के पेड़ की पूजा करने से भगवान शनि देव की कृपा मिलती है। शनि अमावस्या के दिन सांयकाल शमी के पेड़ के पास सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इससे शनि दोष दूर होते है।

कुंडली के ग्रहो के दुष्प्रभाव को दूर करने, शनि देव को प्रसन्न करने के एक आसान लेकिन बहुत ही अचूक उपाय करें ।
अमावस्या के दिन एक सरसों के तेल की बंद बोतल शनि देव को अर्पित करके उनसे अपनी जाने अनजाने में की गई भूलो, गलतियों के लिए क्षमा मांगे । इस उपाय की किसी से भी कोई चर्चा ना करें ।

अमावस्या / शनि अमावस्या के दिन सांयकाल पीपल के पेड़ पर सात प्रकार के अनाज चढ़ाकर वहां पर सरसों के तेल का दीपक जलांए, इससे भाग्य में आ रही रुकावटें दूर होती है।



वैसे तो सभी अमावस्या (amavasya) का महत्व है लेकिन सोमवार एवं शनिवार को पड़ने वाली अमावास्या विशेष रूप से पवित्र मानी जाती है। इसके अतिरिक्त मौनी अमावस्या और सर्वपितृ दोष अमावस्या अति महत्वपूर्ण मानी गयी है।

amavas, amavasya, amavasya ke upay, amavasya ke achuk upay, amavasya ke totke, अमावस, अमावस्या, अमावस्या के उपाय, अमावस्या के टोटके, अमावस्या के अचूक उपाय,

This image has an empty alt attribute; its file name is Pandit-Mukti-Narayan-Pandey-Ji-1.jpeg
ज्योतिषाचार्य मुक्ति नारायण पाण्डेय
( कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Published By : Memory Museum
Updated On : 2021-10-22 09:36:55 PM

दोस्तों यह साईट बिलकुल निशुल्क है। यदि आपको इस साईट से कुछ भी लाभ प्राप्त हुआ हो , आपको इस साईट के कंटेंट पसंद आते हो तो मदद स्वरुप आप इस साईट को प्रति दिन ना केवल खुद ज्यादा से ज्यादा विजिट करे वरन अपने सम्पर्कियों को भी इस साईट के बारे में अवश्य बताएं …..धन्यवाद ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

बालों को घना मजबूत करने के उपाय, Balo ko ghana mazboot karne ke upay,

बालों को घना मज़बूत करने के उपाय,Balo ko ghana mazboot karne ke upay,हर व्यक्ति चाहता है कि...

Tribute to our Ancestors and Forefather

Tribute to our Ancestors and Forefather"There are many people who establish Trusts, Innards (Dhramshalas), Orphanages, Hospitals, Parks, Statues...

रक्षाबंधन का महत्व, Raksha Bandhan ka mahtv,

शास्त्रों में बहुत जगह रक्षाबंधन का महत्व ( Raksha Bandhan ka mahtv) बताया गया है। धार्मिक ग्रंथो में बहुत जगह उल्लेख आया...

गंजेपन के घरेलु उपाय

गंजेपन के घरेलु उपायGanjepan ke gharelu upayवर्तमान समय में तेजी से बदलती जीवन शैली...
Translate »