Tuesday, December 1, 2020
Home Hindi तिल विचार हनुमान प्रश्नावली | हनुमान प्रश्नावली यन्त्र | हनुमान प्रश्नावली चक्र

हनुमान प्रश्नावली | हनुमान प्रश्नावली यन्त्र | हनुमान प्रश्नावली चक्र

मित्रों यदि आप कभी भी असमंजस्य की स्थिति में हो, आप किसी महत्वपूर्ण निष्कर्ष में पहुँचना चाहते हो परन्तु कुछ भी साफ नज़र न आ रहा हो, या किसी भी खास प्रश्न का उत्तर चाहते हो, या अपने अच्छे समय या किसी भी परेशानी का उपाय जानना हो तो यह दिव्य श्री हनुमान यंत्र आपको आपकी आस्था और श्रद्धा के अनुसार आपके प्रश्नों के उत्तर प्रदान कर देगा।
               सबसे पहले अपना प्रश्न सोचे। इसके बाद यहां दिखाए गए यंत्र के चित्र में अंक 1 से 9 तक अंक दिए गए हैं। अब अपनी आंख बंद करके पूरे विश्वास और भक्ति के साथ प्रभुं हनुमानजी का ध्यान करें फिर अपनी उंगली से कर्शर को हनुमान यंत्र पर घुमाएं। कुछ देर बाद कर्शर रोक कर देखिए कर्शर किस अंक पर है, उस अंक से संबंधित आपकी समस्या का उत्तर नीचे लिखा है ।
यदि आपका कर्शर हनुमानजी के यंत्र से बाहर है तो इसे पुन: कीजिये ।

हनुमान यंत्र

श्री राम जय राम जय जय राम !

प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें। अपना कार्य पूर्ण लगन एवं ईमानदारी से करें। धैर्य बनाये रखे, आपका अच्छा समय आने वाला है, आपको शीघ्र ही सफलता मिलेगी । श्री राम जय राम जय जय राम !

पआप अपना काम पूरी योजना बना कर ही करें। जल्दीबाज़ी और अपूर्ण योजना से आपके बनते काम बिग़ड भी सकते है अत: अपना कार्य पूरी सावधानी और शांति से करें। किसी बड़े, अनुभवी व्यक्ति से भी समय समय पर सलाह अवश्य ही लें। मंगलवार और शनिवार को बजरंग बली के किसी भी मन्दिर में दर्शन अवश्य करें, आपका मनोरथ अवश्य ही सिद्ध होगा । श्री राम जय राम जय जय राम !

अभी समय पूरी तरह से अनुकूल नहीं है, धैर्य बनाये रखिये। हो सके तो मंगलवार को हनुमान जी का ब्रत रखे और उन्हें चोला चढ़ाएं।शीघ्र ही परिस्थितियां आपके अनुकूल हो जाएंगी। श्री राम जय राम जय जय राम !

आपका अच्छा समय आने वाला है । परिवार के बड़े बुजुर्गों एवं स्त्रियों को पूर्ण सम्मान दें। किसी का भी दिल न दुखाएं, दूसरों की हर सम्भव मदद करें। हनुमान चालीसा का दोनों समय पाठ करें , बजरंग बलि कि कृपा से आपके सोचे सभी कार्य अवश्य ही बनेगे। श्री राम जय राम जय जय राम !

आप घर के स्त्रियों को पूर्ण सम्मान दें, उन्हें हर त्योहार में अपनी क्षमता के अनुसार कोई न कोई उपहार अवश्य ही दें। उनके आशीर्वाद से आपके बिगड़ते काम भी बन जायेंगे। “हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट” का लाल चन्दन की माला से नित्य एक माला का जाप करे। श्री राम जय राम जय जय राम !

अभी समय पूरी तरह से आपके अनुकूल नहीं है । आपको अभी थोड़ा इंतजार भी करना पड़ सकता है। ईश्वर पर पूर्ण विश्वास बनाये रखे, जरुरतमंदो कि सहायता करते रहे, हर मंगलवार को सुन्दर काण्ड का पाठ करें । शीघ्र ही समय बदलेगा । श्री राम जय राम जय जय राम !

आपका अच्छा समय शीघ्र ही आने वाला है। हनुमान जी कि भक्ति करते रहें। जल्दी ही समस्याओं से निजात मिलेगी।अपने काम को पूरी लगन और ईमानदारी से करें जल्द ही शुभ फल प्राप्त होंगे। श्री राम जय राम जय जय राम !

अपने कार्य में पुनर्विचार करें। यदि कार्य सही नहीं है तो आपकी मेहनत व्यर्थ जा सकती है, अत: सही कार्य में ही समय लगाएं। प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें। हर मंगलवार को हनुमान जी को गुड़-चने का भोग लगायें। आपका कल्याण होगा। . श्री राम जय राम जय जय राम !

आपके कार्य में कुछ बाधाएं उत्पन्न हो सकती हैं।आप लोगो को पहचाने और उन पर भरोसा करके उनका सहयोग भी लेना शुरू करें। बिना सहयोग, उचित सलाह लिए आप निराशा में भी घिर सकते हैं।शुक्ल पक्ष के किसी भी शनिवार को हनुमान जी को चॊला चड़ाकर उन्हें एक नारियल पर सिंदूर लगाकर अर्पित करें।

1. प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें। अपना कार्य पूर्ण लगन एवं ईमानदारी से करें। धैर्य बनाये रखे, आपका अच्छा समय आने वाला है, आपको शीघ्र ही सफलता मिलेगी ।

2. आप अपना काम पूरी योजना बना कर ही करें। जल्दीबाज़ी और अपूर्ण योजना से आपके बनते काम बिग़ड भी सकते है अत: अपना कार्य पूरी सावधानी और शांति से करें। किसी बड़े, अनुभवी व्यक्ति से भी समय समय पर सलाह अवश्य ही लें। मंगलवार और शनिवार को बजरंग बली के किसी भी मन्दिर में दर्शन अवश्य करें, आपका मनोरथ अवश्य ही सिद्ध होगा ।

3. अभी समय पूरी तरह से अनुकूल नहीं है, धैर्य बनाये रखिये। हो सके तो मंगलवार को हनुमान जी का ब्रत रखे और उन्हें चोला चढ़ाएं।शीघ्र ही परिस्थितियां आपके अनुकूल हो जाएंगी।

4. आपका अच्छा समय आने वाला है । परिवार के बड़े बुजुर्गों एवं स्त्रियों को पूर्ण सम्मान दें। किसी का भी दिल न दुखाएं, दूसरों की हर सम्भव मदद करें। हनुमान चालीसा का दोनों समय पाठ करें , बजरंग बलि कि कृपा से आपके सोचे सभी कार्य अवश्य ही बनेगे।

5. आप घर के स्त्रियों को पूर्ण सम्मान दें, उन्हें हर त्योहार में अपनी क्षमता के अनुसार कोई न कोई उपहार अवश्य ही दें। उनके आशीर्वाद से आपके बिगड़ते काम भी बन जायेंगे। “हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट” का लाल चन्दन की माला से नित्य एक माला का जाप करे।

6. अभी समय पूरी तरह से आपके अनुकूल नहीं है । आपको अभी थोड़ा इंतजार भी करना पड़ सकता है। ईश्वर पर पूर्ण विश्वास बनाये रखे, जरुरतमंदो कि सहायता करते रहे, हर मंगलवार को सुन्दर काण्ड का पाठ करें । शीघ्र ही समय बदलेगा ।

7. आपका अच्छा समय शीघ्र ही आने वाला है। हनुमान जी कि भक्ति करते रहें। जल्दी ही समस्याओं से निजात मिलेगी।अपने काम को पूरी लगन और ईमानदारी से करें जल्द ही शुभ फल प्राप्त होंगे।

8. अपने कार्य में पुनर्विचार करें। यदि कार्य सही नहीं है तो आपकी मेहनत व्यर्थ जा सकती है, अत: सही कार्य में ही समय लगाएं। प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें। हर मंगलवार को हनुमान जी को गुड़-चने का भोग लगायें। आपका कल्याण होगा। .

9. आपके कार्य में कुछ बाधाएं उत्पन्न हो सकती हैं।आप लोगो को पहचाने और उन पर भरोसा करके उनका सहयोग भी लेना शुरू करें। बिना सहयोग, उचित सलाह लिए आप निराशा में भी घिर सकते हैं।शुक्ल पक्ष के किसी भी शनिवार को हनुमान जी को चॊला चड़ाकर उन्हें एक नारियल पर सिंदूर लगाकर अर्पित करें। 313

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

कार्तिक पूर्णिमा का महत्त्व, kartik purnima ka mahatwa,

कार्तिक पूर्णिमा का महत्त्व, kartik purnima ka mahatwa,सृष्टि के प्रारम्भ से ही कार्तिक...

ma lakshmi ka janm, माँ लक्ष्मी का जन्म,

ma lakshmi ka janm, माँ लक्ष्मी का जन्म,हिन्दू धर्म में लक्ष्मी जी को...

Astro Tips and Remedies For Pitradosh Nivaran

Pitradosh NivaranPitradosh Nivaran Remedies to ward off malefic effects of Pitra DoshNote : These Proven Yantra have been...

अमावस्या के अचूक उपाय

अमावस्या के अचूक उपायज्योतिष शास्त्र / तन्त्र शास्त्र...
Translate »