Tuesday, November 24, 2020
Home Hindi राम श्लाका हनुमान जी के बारह चमत्कारी नाम | Hanuman ji ke chamatkari naam

हनुमान जी के बारह चमत्कारी नाम | Hanuman ji ke chamatkari naam

हनुमानजी के चमत्कारी नाम
Hanuman ji ke chamatkari naam

हनुमानजी बहुत शीघ्र ही प्रसन्न होने वाले देवता माने गए हैं। इनकी नियमित आराधना से कुंडली के सभी ग्रह दोष दूर हो जाते हैं। शनि की साढ़ेसाती, ढय्या और यदि कोई व्यक्ति मंगली हो तो इन सबके लिए हनुमानजी की पूजा को श्रेष्ठ बताया गया है।

शास्त्रों में हनुमानजी के बारह चमत्कारी नाम बताए गए हैं। इन नामों के जप से कठिन से कठिन समय में भी सकारात्मक फल मिलते हैं।

यदि किसी व्यक्ति के जीवन में बहुत परेशानियाँ हो, कार्यों में विघ्न आते हो, असफलताएँ मिलती हो, घर-परिवार में सुख-शांति ना हो, कोर्ट कचहरी, मुकदमो से परेशान हो, अनजाना भय सताता हो तो उस व्यक्ति को हनुमानजी के बारह चमत्कारी नामों का अवश्य ही जप करना चाहिए। रोज नियमित रूप से पूरी श्रद्धा के साथ हनुमानजी इन बारह नाम का जप करने किसी भी कार्य में आने वाली सभी बाधाएं दूर होती है ।

यह पूर्णतया सत्य है कि हनुमान जी के भक्तो को जीवन में दैहिक, दैविक और भौतिक किसी भी तरह के ताप अर्थात संकटो का सामना नहीं करना पड़ता है।

हनुमान जी के यह चमत्कारी 12 नाम है:-

1. ॐ श्री हनुमान,
2. ॐ श्री अंजनी सुत,
3. ॐ श्री वायु पुत्र,
4. ॐ श्री महाबल,
5. ॐ श्री रामेष्ठ यानी श्रीराम के प्रिय,
6. ॐ श्री फाल्गुण सखा यानी अर्जुन के मित्र,
7. ॐ श्री पिंगाक्ष यानी भूरे नेत्रवाले,
8. ॐ श्री अमित विक्रम,
9. ॐ श्री उदधिक्रमण यानी समुद्र को अतिक्रमण करने वाले,
10. ॐ श्री सीता शोक विनाशन यानी सीताजी के शोक का नाश करने वाले,
11. ॐ श्री लक्ष्मण प्राण दाता यानी लक्ष्मण को संजीवनी बूटी द्वारा जीवित करने वाले
12. ॐ श्री दशग्रीव दर्पहा यानी रावण के घमंड को दूर करने वाले।

इन बारह नामों में हनुमानजी के गुण प्रकट होते हैं। इन नामों के ध्यान/जप से बजरंग बली जी शीघ्र ही प्रसन्न होते हैं।

मान्यता है कि प्रात: काल सो कर उठते ही बिस्तर पर बजरंग बलि के इन बारह नामों को 11 बार नाम लेने वाले व्यक्ति को दीर्घ आयु प्राप्त होती है।

दोपहर में भी नियत समय पर संकट मोचन के 12 नाम लेने वाले व्यक्ति को धन की कोई भी कमी नहीं रहती है।

जो जातक संध्या के समय में भी बजरंग बलि के इन 12 चमत्कारी नामो का उच्चारण करता है उसे सभी पारिवारिक सुख मिलते है।

रात्रि को सोते समय भी जो व्यक्ति पवन पुत्र के इन 12 दिव्य नामो का जाप करता है उसे कोई भी शत्रु परास्त नहीं कर पाता है ।

इसके अतिरिक्त दिन में जब भी समय मिलने पर इन 12 नामों का निरंतर जप करने वाले व्यक्ति की श्री हनुमानजी सभी दिशाओं से सभी संकटों से रक्षा करते है ।

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

कन्या पूजन की विधि, kanya pujan ki vidhi,

कन्या पूजन की विधि, kanya pujan ki vidhi,नवरात्रि (Navratri) में कन्या पूजन का...

फैंगशुई के उपाय

अपने दाम्पत्य जीवन में प्रेम,विश्वास और सहयोग के लिए फैंगशुई के कुछ खास, बहुत ही आसान उपाय को अपनाकर अपने जीवन को...

माँ लक्ष्मी के 18 पुत्र, ma lakshmi ke 18 putr,

माँ लक्ष्मी के 18 पुत्रो के नाम, ma lakshmi ke 18 putro ke nam,

राशिनुसार जन्माष्टमी | राशिनुसार जन्माष्टमी के उपाय

राशिनुसार जन्माष्टमी के उपायRashianusar Janmashtami ke Upayभगवान श्रीकृष्ण द्वारका के राजा थे उन्होंने द्वारका नगरी बसाई थी...
Translate »