Home Hindi राशिनुसार उपाय राशिनुसार जन्माष्टमी | राशिनुसार जन्माष्टमी के उपाय

राशिनुसार जन्माष्टमी | राशिनुसार जन्माष्टमी के उपाय

297
rashi-ansur-janmashtami

राशिनुसार जन्माष्टमी के उपाय
Rashianusar Janmashtami ke Upay

भगवान श्रीकृष्ण द्वारका के राजा थे उन्होंने द्वारका नगरी बसाई थी इसलिए उन्हें द्वारकाधीश भी कहते है । शास्त्रों के अनुसार द्वारकाधीश की कृपा होने पर मनुष्य के भाग्य चमक जाते है। उनके जीवन की सभी समस्याएं सभी संकट आसानी से दूर हो जाते है और अच्छा समय प्रारंभ होजाता है। भगवान श्रीकृष्ण की कृपा प्राप्ति के लिए जन्माष्टमी को सबसे श्रेष्ठ दिन कहा गया है। जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था अत: इस दिन उनकी विशेष पूजा-अर्चना करनी चाहिए और यदि मनुष्य अपनी अपनी राशि के अनुसार भगवान वासुदेव का पूजन करे तो उन्हें शीघ्र ही श्रेष्ठ फलो की प्राप्ति होती है । जानिए कि भगवान श्रीकृष्ण की राशिनुसार विशेष पूजा अर्चना करके कैसे उनकी कृपा प्राप्त करें-




* मेष- इस राशि के जातको को राधा-कृष्ण जी का गंगाजल से अभिषेक करना चाहिए। मेष राशि के जातक कृष्ण कन्हैया को दूध से बनी मिठाई, नारियल के लड्डू एवं माखन-मिश्री का भोग लगाएं और तुलसी की माला से ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम: मंत्र का जाप करें। अगर भगवान के जाप के बाद उन्हें फल में अनार अर्पित करें । इससे उन्हें अपने कार्यों विशेष सफलता मिलेगी ।

* वृषभ- वृषभ राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करके उन्हें छेने की मिठाई, रसगुल्ले या पंजीरी का भोग लगाना चाहिए| वृषभ राशि के जातक कमल गट्टे की माला से “श्रीराधाकृष्ण शरणम् मम” मंत्र की 11 माला का जाप करें। वृषभ राशि के जातक भगवान को मखाने भी अवश्य ही अर्पित करें । इससे उनको जीवन में मनवाँछित फलो की प्राप्ति होगी ।

* मिथुन- मिथुन राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का दूध से अभिषेक करके उन्हें पंचमेवा, खोये या काजू की मिठाई और केले का भोग लगाना चाहिए| मिथुन राशि के जातक “श्रीराधायै स्वाहा” मंत्र की 11 माला का तुलसी या स्फटिक की माला से जाप करें और फलों में केले अर्पित करें। इससे उनको जीवन में यश की प्राप्ति होगी ।



* कर्क- कर्क राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का घी से अभिषेक करके उन्हें केसर अथवा खोये की बर्फी भोग लगाना चाहिए । कर्क राशि के जातक “श्रीराधावल्लभाय नम:” मंत्र की 5 माला का जाप करें और और फलो में पानी वाला नारियल चढ़ाएं । इससे उन्हें पारिवारिक सुख की प्राप्ति होगी ।

* सिंह- सिंह राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का गंगाजल में शहद मिलाकर अभिषेक करके उन्हें लाल पेड़े और गुड़ का भोग लगाना चाहिए । सिंह राशि के जातक “ऊं विष्णवे नम”: मंत्र का जाप करें और प्रभु को बादाम, मिश्री और फलो में अनार या सेब अर्पित करें। इससे उन्हें जीवन के सभी क्षेत्रों में सफलता प्राप्त होगी, उनके शत्रु उनका कुछ भी अहित नहीं कर पाएंगे ।

* कन्या- कन्या राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का दूध में घी मिलाकर अभिषेक करके उन्हें मेवे से अथवा दूध से बनी मिठाई का भोग लगाना चाहिए। कन्या राशि के जातक ह्रीं श्रीं राधायै स्वाहा” मंत्र की 11 माला का जाप करें और भगवान को लौंग, इलायची, तुलसी दल, पिस्ता हरा पान और फलो में अमरुद या नाशपाती का भोग लगाना चाहिए । इससे उन्हें जीवन में ऐश्वर्य की प्राप्ति होगी ।

* तुला- तुला राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का दूध में शकर मिलाकर अभिषेक करके उन्हें खोये की बर्फी या कलाकंद का भोग लगाना चाहिए । तुला राशि के जातक “लीं कृष्ण लीं” मंत्र की 11 माला का जाप करें और उन्हें बादाम, माखन-मिश्री एवं फलो में केले का भोग लगाएं । इससे उनके जीवन की सभी परेशानियाँ धीरे धीरे समाप्त।

* वृश्चिक- वृश्चिक राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करके उन्हें गुलाब जामुन अथवा गुड़ की मिठाई का भोग लगाना चाहिए । वृश्चिक राशि के जातक “श्रीवृंदावनेश्वरी राधायै नम:” मंत्र की कम से कम 5 माला का जाप करें और उन्हें पंचमेवा एवं फलो में पानी वाला नारियल अवश्य ही चढ़ाएं इससे उनके सभी काम आसानी से बनने लगेंगे ।

* धनु- धनु राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का दूध और शहद से अभिषेक करके उन्हें खोये की पीली या बेसन की मिठाई का भोग लगाएं। धनु राशि के जातक “ऊं नमो नारायणाय” मंत्र की 5 माला का जाप करें और उन्हें कोई भी पीला फल चढ़ाएं । इससे भाग्य प्रबल होगा ।

* मकर- मकर राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का गंगाजल से अभिषेक करके उन्हें लाल पेड़े अथवा गुलाब जामुन का भोग लगाएं। मकर राशि के जातक “ऊं लीं गोपीजनवल्लभाय” नम: मंत्र का जाप करें और फल में अंगूर और मीठा पान चढ़ाएं । इससे उन्हें अपने व्यापार कारोबार में अभीष्ट लाभ की प्राप्ति होगी ।

* कुंभ- कुंभ राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करके उन्हें लाल अथवा भूरे चॉकलेटी रंग की मिठाई का भोग लगाएं कुम्भ राशि के जातक “ऊं नमो भगवते वासुदेवाय” मंत्र की 11 माला का जाप करें और मेवे ( बादाम, काजू, किशमिश, पिस्ता,अखरोट ),गुड एवं फलो में चीकू या सेब चढ़ाएं । इससे इन्हे जीवन के सभी क्षेत्रो में मनवाँछित लाभ की प्राप्ति होगी ।

* मीन- मीन राशि के जातको को भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करके उन्हें मेवे की मिठाई का भोग लगाएं । मीन राशि के जातक ” ऊं लीं गोकुलनाथाय नम:” मंत्र का जाप करें और भगवान को इलाइची और नारियल एवं फलो में कोई भी मौसमी फल अर्पित करें । इससे इनके सभी कार्य आसानी से बनने लगेंगे ।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »