Home diwali, dipawali छोटी दिवाली 2021, choti diwali,

छोटी दिवाली 2021, choti diwali,

125

छोटी दिवाली, choti diwali, हनुमान जयंती,

दीपावली deepavali पर्व से एक दिन पहले कार्तिक कृष्ण पक्ष चतुर्दशी को छोटी दीपावली, choti diwali / हनुमान जयंती, Hanuman Jayanti, / नरक चतुर्दशी, narak chaturdashi, / रूप चतुर्दशी, roop chaturdashi, के नाम से जाना जाता है।

चूँकि इस वर्ष 2021 में छोटी दीपावली, choti diwali, छोटी दीपावली बुधवार 3 नवम्बर को मनाई जा रही है इसलिए इस दिन का महत्व बहुत अधिक है ।
छोटी दिवाली, choti diwali, के दिन गणेश – लक्ष्मी, कुबेर जी के साथ हनुमान जी और माँ काली की आराधना भी विशेष फलदाई है ।

इस दिन को बहुत से लोग हनुमान जयंती के रूप में भी मनाते है। वैसे तो हनुमान जयंती का पर्व चैत्र माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है, लेकिन शास्त्रों में कई जगह कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि अर्थात छोटी दीपावली के दिन भी हनुमान जी के जन्म बताया गया है।

अवश्य जानिए नरक का भय दूर करने वाले नरक चतुर्दशी / छोटी दीपावली के उपाय,

हनुमान जयंती के उपाय, Hanuman Jayanti Ke upay,

इस दिन कुछ उपायो को करने से नरक का भय नहीं होता है, घर से रोग दूर रहते है, सभी सदस्यो को आरोग्य मिलता है , दीर्घायु प्राप्त होती है, परिवार के सभी सदस्य रूपवान होते है।

हनुमान जयंती Hanuman jayanti के दिन हनुमान जी पर सिंदूर में सुगन्धित तेल मिलाकर उसका लेप ( चोला ) चड़ा कर ऊपर से चाँदी का वर्क लगाना चाहिए , उसके पश्चात् यथाशक्ति हनुमान चालीसा ओर सुन्दरकांड का पाठ करना चाहिए। कहते है की इसी दिन माता सीता ने हनुमान जी को सिंदूर प्रदान किया था तभी से हनुमान जी पर सिंदूर अर्पित किया जाने लगा है।

छोटी दीपावली / हनुमान जयंती के दिन किसी भी हनुमान मंदिर में जाकर हनुमान जी को इत्र, गुलाब के फूल और गुड़ चने चढ़ाकर 5 बार हनुमान चालीसा का पाठ करे और हनुमान जी को अपनी मनोकामना कहें।
इस उपाय को करने से बजरंग बलि की कृपा मिलती है, सभी संकट दूर होते है, शुभ समय आता है।
इस उपाय को इसके बाद ऐसा लगातार 7 शनिवार तक करते रहे।

आज के दिन शाम के समय हनुमान जी के मंदिर पर जाकर उनका दर्शन मात्र से ही उत्तम फलों की प्राप्ति होती है। इसलिए आज सांय हनुमान जी के मंदिर में जाकर उनका दर्शन करते हुए उन्हें प्रशाद अवश्य ही चढ़ाएं ।

अवश्य जानिए दीपावली के दिन क्या करें जिसे पूरे वर्ष होती रहे धन की वर्षा, दिवाली की दिनचर्या,

कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी अर्थात हनुमान जयंती को सुबह 7 बार बजरंग बाण का पाठ करें , फिर हनुमान जी को लड्डू को भोग लगाकर 5 लौंग कपूर के साथ जलाएं , उस भस्म को पुडिया बना कर संभल लें , उसका तिलक लगा कर बाहर जाने पर कोई भी शत्रु आपको परस्त नहीं कर पायेगा ।

छोटी दीपावली के उपाय, Choti diwali ke upay,

छोटी दीपावली Choti Dipavali के दिन एक नारियल पर कमिया सिंदूर,मोली,अक्षत अर्पित करके उसका पूजन करें फिर उसको किसी हनुमान मंदिर Hanuman Mandir में अपनी मनोकामना बोलते हुए चड़ा दें निश्चय ही आपकी मनोकामना पूर्ण होगी ।

14 नवम्बर शनिवार को छोटी दीपावली Choti Dipavali की सुबह स्नान के पश्चात सबसे पहले विष्णु – लक्ष्मी की प्रतिमा को कमल गट्टे की माला और पीले पुष्प अर्पित करें , पूरे वर्ष धन लाभ की प्राप्ति होती रहेगी ।

नरक चतुर्दशी Narak chaturdashi के दिन लाल चन्दन, लाल गुलाब के फूल और रोली लेकर लाल कपडे में बांध लें , उसके बाद माँ लक्ष्मी का ध्यान करते हुए उसे घर की तिजोरी में रख लें , इस प्रयोग से घर में धन रुकता है , धन में बरकत रहती है । लेकिन ध्यान रखिये यह प्रयोग हर ३ माह बाद मंगलवार को करते रहना चाहिए ।

नरक चतुर्दशी Narak chaturdashi को संध्या के समय घर की पश्चिमी दिशा में खुले स्थान पर या छत के पश्चिम में 14 दीपक पूर्वजो के नाम पर जलाएं , उनके शुभ आशीर्वाद से सम्रद्धि में आशातीत वृद्धि होती है ।

रूप चतुर्दशी Roop chaturdashi के दिन पवित्रता से 5 प्रकार के पुष्पों की माला में दूर्वा व बिल्वपत्र लगाकर देवी को अर्पित करें। माल्यार्पण करते समय मौन रखें यह प्रयोग प्रभावकारी होकर यश की वृद्धि करता है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »