Saturday, May 28, 2022
Home diwali, dipawali diwali ka muhurat 2021, दिवाली का मुहूर्त,  

diwali ka muhurat 2021, दिवाली का मुहूर्त,  

diwali ka muhurat, दिवाली का मुहूर्त,  2021 ka diwali ka muhurat,

हिंदू धर्म में दिवाली के पर्व का बहुत ही अधिक महत्व है। दिवाली के दिन लक्ष्मी पूजा में दिवाली का मुहूर्त, diwali ka muhurat, बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। दिवाली का पावन पर्व वर्ष 2021 में 4 नवंबर दिन गुरुवार को मनाया जाएगा।

शास्त्रों के अनुसार, कार्तिक माह की अमावस्या के दिन ही भगवान श्री राम लंकापति रावण का वध कर के पत्नी सीता और भाई लक्ष्मण जी के साथ अपने नगर अयोध्या वापस आए थे। उनके वापस आने पर अयोध्या के निवासियों ने दीप प्रज्ज्वलित करके उनका प्रसन्नता से शानदार स्वागत किया गया था। इसी खुशी में प्रत्येक वर्ष कार्तिक माह की अमावस्या के दिन दिवाली का पर्व मनाया जाता है।

दीपावली, dipawali के दिन देवी लक्ष्मी जी के साथ गणेश जी और कुबेर देव की भी पूजा की जाती है।

दिवाली के दिन शुभ मुहूर्त में माँ लक्ष्मी – गणेश और कुबेर जी की पूजा करनी चाहिए, इससे पूरे वर्ष सुख – समृद्धि बनी रहती है धन का आगमन सरलता से होता रहता है। 

वर्ष 2021 में अमावस्या तिथि 4 नवंबर गुरुवार को प्रात: 06:03 बजे से 5 नवंबर को देर रात्रि अर्थात तड़के सुबह 02: 44 मिनट तक रहेगी। अत: दीपावली अमावस्या की रात्रि में 4 नवंबर गुरुवार को मनाई जाएगी।

जानिए कैसे करें दीपावली की पूजा की माँ लक्ष्मी की मिले असीम कृपा

जानिए दिवाली का मुहूर्त, diwali ka muhurat, 2021 में दिवाली का मुहूर्त, 2021 men diwali ka muhurat, दीपावली का मुहूर्त, dipawali ka muhurat, दिवाली का शुभ मुहूर्त, diwali ka shubh muhurat, दीपावली का शुभ मुहूर्त, dipawali ka shubh muhurat, दिवाली पर लक्ष्मी पूजा, diwali par lakshmi puja, diwali 2021 ka muhurat,

वर्ष 2021 में दिवाली का मुहूर्त, diwali ka muhurat, dipawali ka shubh muhurat,

2021 में दिवाली पर लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त- 2021 me diwali par pooja ka shubh muhurth,

वर्ष 2021 में दीपावली पर लक्ष्मी पूजन का श्रेष्ठ मुहूर्त सांय 06 बजकर 09 मिनट से रात्रि 08 बजकर 20 मिनट तक है।

प्रदोष काल का मुहूर्त सांय 5 बजकर 35 मिनट से लेकर रात 8 बजकर 9 मिनट तक रहेगा।

वहीँ वृष स्थिर लग्न एवं अमृत व चर की चौघड़िया का मुहूर्त सांय  6 बजकर 11 मिनट से लेकर शाम 8 बजकर 5 मिनट तक है।

अवश्य जानिए दीपावली के दिन क्या करें जिसे पूरे वर्ष होती रहे धन की वर्षा, दिवाली की दिनचर्या,

दिवाली का मुहूर्त, diwali ka muhurat, चौघड़िया के अनुसार

प्रातः 07:28 से 09:45 वृश्चिक स्थिर लग्न शुभ की चौघड़िया

प्रातः 09:59 से 10:49 तक धनु लग्न एवं चर की चौघड़िया,

अभिजित मुहूर्त मध्याह्न 11:27 से 12: 20 तक अभिजित मुहूर्त चल एवं लाभ की चौघड़िया रहेंगी

4 नवंबर की दोपहर को 03 :00  से शाम 04:30 तक अमृत की चौघड़िया।

4 नवंबर की सांय  06:00 से  रात 07:30 तक लाभ की चौघड़िया ।

4 नवंबर रात्रि 08:10 से 10 :24 तक मिथुन लग्न, जो बुध की लग्न है, व्यापार के लिए उत्तम है,

4 नवम्बर को रात्रि 09:00 बजे से लेकर देर रात्रि 01:30 तक शुभ, अमृत और चर की चौघड़िया में भी लक्ष्मी पूजन करना उत्तम रहेगा ।

वर्ष 2021 में दिवाली पर लक्ष्मी पूजन का सर्वश्रेष्ठ  मुहूर्त, दिवाली का शुभ मुहूर्त, diwali ka shubh muhurat, 

दिवाली पर निशित काल का पूजा का मुहूर्त:-

निशित काल का मुहूर्त : रात्रि 11:40 से मध्य रात्रि 5 नवम्बर 00:30 तक,

सिंह लग्न का मुहूर्त: 00:40 मिनट से तड़के 5 नवम्बर सुबह 02:56, तक का है ।

दोपहर 01:30 से 03 बजे तक राहूकाल है, राहु काल में लक्ष्मी पूजन की शुरुआत नहीं करनी चाहिए ।

This image has an empty alt attribute; its file name is Pandit-Mukti-Narayan-Pandey-Ji-1.jpeg

ज्योतिषाचार्य मुक्ति नारायण पाण्डेय
( हस्त रेखा, कुंडली, ज्योतिष विशेषज्ञ )

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

राशिनुसार जन्माष्टमी, Rashianusar Janmashtami,

राशिनुसार जन्माष्टमी, Rashianusar Janmashtami,भगवान श्रीकृष्ण द्वारका के राजा थे उन्होंने द्वारका नगरी बसाई थी इसलिए उन्हें द्वारकाधीश...

याद करने का तरीका || Yaad karne ka tarika

कई बार बच्चे पढ़ाई में  बहुत मेहनत करते है समय भी देते है लेकिन पढ़ा हुआ उन्हें सही समझ नहीं आता है...

पतले होने के घरेलू उपाय |Patle Hone Ke Gharelu Upay

पतले होने के घरेलू उपाय, पतले होने के नुस्खेसामान्यता पतले लोग patle log ज्यादा सक्रीय रहते है। जो...

Tips and Remedies For Early Marriage

Remedies To Overcome Delayed MarriageNotes : These Proven Yantra have been established for the welfare of all beings,...
Translate »