Tuesday, April 20, 2021
Home diwali, dipawali धनतेरस के उपाय, Dhanteras ke upay, धनतेरस के सुख समृद्धि के उपाय,

धनतेरस के उपाय, Dhanteras ke upay, धनतेरस के सुख समृद्धि के उपाय,

धनतेरस के उपाय, Dhanteras ke upay,

धनतेरस Dhanteras दीपावली के 5 पर्वो में सबसे प्रथम पर्व है जो  दीपावली से दो दिन पहले कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मनाया जाता है। धनतेरस के उपाय, dhateras ke upay,  करके पूरे वर्ष धन लाभ, श्रेष्ठ सफलता एवं धन सम्पति की प्राप्ति होती है।  इस दिन कुबेर देव की पूजा करके जीवन में सुख समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। यहाँ पर है आपको धनतरेस के कुछ उपायों को बता रहे है जिन्हें करके निश्चय ही उत्तम लाभ मिलता है।  जानिए धनतेरस के उपाय, dhateras ke upay, dhanteras par kya karen,

धनतेरस के उपाय, Dhanteras ke upay,

ऐसी मान्यता है कि धनतेरस Dhanteras के दिन सूखे धनिया के बीज खरीद कर घर में रखने से परिवार की धन संपदा में वृ्द्धि होती है।
दीपावली Dipawali के दिन इन बीजों को घर के बाग, गमलो, खेत खलिहानों में लागाया जाता है । ये बीज व्यक्ति की उन्नति व धन वृ्द्धि के प्रतीक होते है। 

धनतेरस dhanteras के दिन सुबह-सुबह ही घर को साफ करने के बाद घर के अंदर मंदिर में धूप दीप व अगरबत्ती अवश्य जला लें। दीपक में पांच लौंग डालने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती है।  

धनतेरस dhanteras के दिन स्थिर लक्ष्मी की पूजा करने से घर मे सुख समृद्धि का वास होता  है। इस दिन पूजा में माँ लक्ष्मी को भोग लगाने के लिये नैवेद्ध के रुप में श्वेत मिष्ठान का प्रयोग करना चाहिए ।

धनतेरस dhanteras के दिन शुभ मुहूर्त में माँ लक्ष्मी का पूजन करने के साथ-साथ सात धान्यों (गेंहूं, उडद, मूंग, चना, जौ, चावल और मसूर) की पूजा का भी विशेष महत्व है। ( सप्त धान का पैकेट पूजा की दुकान में बना बनाया मिल जाता है।)

धनतेरस के दिन बाजार से नमक का नया पैकेट खरीदें और उस दिन इसी पैकेट के नमक का खाने में प्रयोग करें। मान्यता है कि इस उपाय से घर में हर उल्लास का वातावरण बनता है, सुख – समृद्धि खिंची चली आती है।

मान्यता है कि धनतेरस के दिन लक्ष्‍मी-गणेशजी और कुबेर जी की पूजा में उन्हें हल्दी में रंगकर अक्षत / चावल अर्पित करें फिर पूजा करने के बाद उनमें 21 साबुत चावल के दानों को लाल रंग के कपड़े में लपेटकर अपनी तिजोरी या धन स्थान में रख लें। इस उपाय से घर में संपन्‍नता आती है, आर्थिक संकट दूर रहते है ।

इस मांगलिक उत्सव के दिन घर को अन्दर – बाहर से साफ करके यथा संभव सजाना चाहिए , इस दिन घर में कोई भी बिलकुल क्रोध न करें , प्रेम पूर्वक मंगल गायन करने या शुभ संगीत बजाने से सौभाग्य खिंचा चला आता है । एक बात का विशेष रूप से ध्यान दें की इस दिन किसी को भी उधार ना दें और धन के अप्वय्य से यथा संभव बचने का प्रयत्न करें ।

धनतेरस dhanteras से अपने घर से सभी बेकार, खराब और टूटे-फूटे सामान निकाल कर उसे कबाड़ी को बेच दें। आप पूरे घर की अच्छी तरह सफाई अवश्य कर लें।

धनतेरस dhanteras के दिन अपनी नौकरी से इस्तीफा देना, साझेदारी को ख़त्म करना तथा घाटे में चल रहे व्यापार को बंद करने के बारे में बिलकुल भी न सोचे वरन सुख समृद्धि के विचार मन में लाएं ।

दीपावली dipawali के पाँचो पर्व पर घर पर पधारने वाले सभी व्यक्तियों को चाहे वे छोटे बड़े, अमीर गरीब कोई भी हो , उन्हें मिष्ठान, फल मिठाई या मेवे आदि जरूर खिलाकर जल पिलाएं इससे स्थाई समृद्धि का वास होता है। 

Pandit Jihttps://www.memorymuseum.net
MemoryMuseum is one of the oldest and trusted sources to get devotional information in India. You can also find various tools to stay connected with Indian culture and traditions like Ram Shalaka, Panchang, Swapnphal, and Ayurveda.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

diwali ka muhurat, दिवाली का मुहूर्त,  

diwali ka muhurat, दिवाली का मुहूर्त,  हिंदू धर्म में दिवाली के पर्व का बहुत...

तिल विचार | Til Vichar | Til Hona

शरीर पर तिल होने का फलमित्रों हमारे शरीर पर कई प्रकार के जन्म से अथवा जीवन काल...

Weekly Horoscope Sites

नवभारत टाइम्स Navbharattimes.in/rashifalवन इंडिया www.Oneindia.in/astrologyदैनिक भास्कर Religion.bhaskar.com/jyotish/rashiवेब दुनिया Webdunia.com/hindiGanesh Speaks Ganeshaspeaks.com/hindiAstrosage www.Astrosage.com/rashifalLive Hindustan www.livehindustan.com/astrologyरफ़्तार Raftaar.in/Hindi-Prediction

पथरी क्या है, pathri kya hai,

पथरी क्या है, pathri kya hai,पथरी ( Pathri ) अर्थात किडनी में स्‍टोन ( Kidney Me Stone )...
Translate »